होम /न्यूज /जीवन शैली /अनियमित पीरियड्स हो सकते हैं इस गंभीर बीमारी के लक्षण, जानें ज़रूरी बातें

अनियमित पीरियड्स हो सकते हैं इस गंभीर बीमारी के लक्षण, जानें ज़रूरी बातें

अनियमित पीरियड्स से हो सकती है हार्ट डिजीज, image-canva

अनियमित पीरियड्स से हो सकती है हार्ट डिजीज, image-canva

अनियमित पीरियड्स की समस्‍या असामान्‍य नहीं है लेकिन अध्‍ययनों के मुताबि‍क जिन महिलाओं को पीरियड्स अनियमित और लंबे समय त ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

महिलाओं के अलावा टीनएजर्स को भी हो सकती है अनियमित पीरियड की समस्‍या.
अनियमित पीरियड्स पीसीओएस की वजह से भी हो सकते हैं.
मोटापा और अनहेल्‍दी डाइट इन समस्‍याओं को बढ़ावा दे सकती हैं.

Irregular Periods Problemपेट या पैरों में अधिक दर्द, उल्‍टी, चक्‍कर और अनियमित पीरियड्स की समस्‍या किसी गंभीर बीमारी की ओर इशारा करते हैं. हालांकि कई महिलाओं को अनियमित पीरियड्स की समस्‍या होती है लेकिन यदि ये समस्‍या लंबी अवधि तक चले तो ये हार्ट से संबंधित किसी समस्‍या का लक्षण हो सकता है. लगभग 14 से 25 प्रतिशत महिलाएं अनियमित पीरियड्स की समस्‍या से जूझ रही हैं. एक अध्‍ययन के अनुसार जिन महिलाओं को 40 दिन से अधिक समय तक पीरियड्स नहीं होते उन्‍हें कंसीव करने में समस्‍या, हाई बीपी और डायबिटीज के अलावा हार्ट प्रॉब्‍लम होने का खतरा भी बढ़ जाता है. चलिए जानते हैं कैसे अनियमित पीरियड्स हार्ट पर प्रभाव डाल सकते हैं.

आर्टरीज पर पड़ता है असर
अनियमित पीरियड्स की समस्‍या महिलाओं के अलावा टीनएजर्स में भी देखी जा सकती है, लेकिन ये जरूरी नहीं कि हर महिला को हार्ट से संबंधित समस्‍या का सामना करना पड़े. वेरीवेल हेल्‍थ के अनुसार हार्ट से संबंधित समस्‍या उन महिलाओं को अधिक होती है जिन्‍हें अनियमित पीरियड्स, लंबे समय तक चलने वाले पीरियड्स और पीरियड्स न आने की समस्‍या होती है. पीरियड्स समय पर न आने की वजह से मोटापा बढ़ सकता है जो हार्ट पर प्रभाव डाल सकता है. अधिक मोटापा होने पर आर्टरीज में ब्‍लॉकेज की समस्‍या हो सकती है.

पीसीओएस भी डालता है प्रभाव
पीसीओएस यानी पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम की वजह से भी अनियमित पीरियड्स की समस्‍या हो सकती है. बिगड़ता हार्मोन फंक्‍शन, हाई कोलेस्‍ट्रॉल लेवल और हाई बीपी हार्ट डिजीज और कैंसर को बढ़ावा दे सकता है. एक्‍सरसाइज की कमी, धूम्रपान, अनहेल्‍दी डाइट और मोटापा अनियमित पीरियड्स के लिए भी जिम्‍मेदार हो सकते हैं.
पीरियड्स से जुड़ी किसी भी समस्‍या को गंभीरता से लिया जाना चाहिए. अनियमित पीरियड्स की समस्‍या कई हेल्‍थ प्रॉब्‍लम्‍स को बढ़ावा दे सकती है.

ये भी पढ़ें: सर्दियों में सेहत का रखें खास ख्याल, हेल्दी लाइफस्टाइल के लिए डेली रूटीन में करें ये काम
ये भी पढ़ें: यूरिक एसिड की समस्या हमेशा के लिए हो जाएगी खत्म ! डॉक्टर से जानें परमानेंट सॉल्यूशन

Tags: Health, Lifestyle

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें