होम /न्यूज /जीवन शैली /प्रेग्नेंसी के दौरान शतावरी खाना सुरक्षित है या नहीं, जानिए

प्रेग्नेंसी के दौरान शतावरी खाना सुरक्षित है या नहीं, जानिए

गर्भावस्था में शतावरी खाना सुरक्षित-(Image Canva)

गर्भावस्था में शतावरी खाना सुरक्षित-(Image Canva)

Eat Asparagus During Pregnancy-र्भावस्था के दौरान किसी भी तरह की समस्या न हो इसके लिए, कई तरह के उपाय आजमाए जाते हैं जि ...अधिक पढ़ें

    हाइलाइट्स

    गर्भावस्‍था में शताबरी की क्‍वांटिटी पर ध्‍यान देना जरूरी.
    शतावरी में भरपूर मात्रा में होते हैं विटामिन्‍स.
    शतावरी में अधिक फाइबर होता है जो हो सकता है नुकसानदायक.

    Eat Asparagus During Pregnancy – गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को किसी तरह की समस्या न हो इसके लिए शतावरी का उपयोग किया जाता है. गर्भावस्था के दौरान शतावरी खाना सुरक्षित है या नहीं, ये जान लेना भी जरूरी है.गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होता है. इस दौरान उन्हें क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, इसका ख्याल भी खास तौर पर रखा जाता है. गर्भावस्था के दौरान किसी भी तरह की समस्या न हो इसके लिए, कई तरह के उपाय आजमाए जाते हैं जिनमें से एक है शतावरी का इस्तेमाल. कई सालों से शतावरी का इस्तेमाल जड़ी बूटी के तौर पर किया जा रहा है. एक्सपर्ट्स के मुताबिक गर्भावस्था के दौरान आयुर्वेदिक औषधियां कितनी भरोसेमंद हैं, इस विषय में कुछ कहा नहीं जा सकता. ठीक इसी तरह गर्भावस्था के दौरान शतावरी सुरक्षित है या नहीं, ये जान लेना भी बेहद जरूरी है. अगर  गर्भावस्था में शतावरी खाने के बारे में सोच रही हैं तो इसके फायदों के साथ नुकसान के बारे में जान लेना चाहिए.

    क्या है शतावरी?
    हेल्‍थलाइन के अनुसार लिली के परिवार का सदस्य कही जाने वाली शतावरी प्याज और लहसुन से संबंधित है. ये एक तरह की डंठल होती है जिसे आमतौर पर सब्जी के रूप में खाया जाता है. ये हरे, सफ़ेद या बैंगनी किसी भी रंग का हो सकता है. शतावरी एक मौसमी सब्जी है. जो ज्यादातर अप्रैल से जुलाई के बीच मिलती है. सीजन खत्म होने के बाद इसे किसी सुपर मार्केट से भी ले सकती हैं.

    गर्भवस्था के दौरान शतावरी के फायदे
    गर्भावस्था के दौरान शतावरी खाना सुरक्षित हो सकता है यदि इसकी मात्रा पर ध्यान देंगी तो. विटामिन से भरपूर शतावरी में फैट और कैलोरी दोनों नहीं होती. इसके अलावा और कौन से फायदे हैं, ये जान लेते हैं.
    – शतावरी में विटामिन के की भरपूर मात्रा होती है, जो मां और बच्चे दोनों के लिए जरूरी है.
    – गर्भावस्था के दौरान फोलेट सबसे जरूरी पोषक तत्व होता है. इसे बच्चे न्यूरल ट्यूब की ग्रोथ अच्छे से होती है.
    – आधा कप शतावरी में लगभग 25 मिलीग्राम कैल्शियम होता है. इससे बच्चे की हड्डियों को मजबूती मिलती है.
    – शतावरी में फाइबर की भरपूर मात्रा होती है, नियमित रूप से शतावरी खाने से कब्ज नहीं होता.

    यह भी पढ़ें – अच्छे रोल मॉडल बनते हैं A ब्लड ग्रुप के व्यक्ति, जानें इनके बारे में सब कुछ

    ज्यादा शतावरी खाने के नुकसान
    – ज्यादा शतावरी खाने से सेहत पर अधिक असर नहीं होता, लेकिन गर्भवती महिलाओं को इसकी संतुलित मात्रा का ही सेवन करना चाहिए.
    – शतावरी में फाइबर ज्यादा होता है, इसके साथ इसमें रैफिनोज नाम का एंजाइम भी बहुत होता है. इससे गैस की समस्या हो सकती है.
    – शतावरी ज्यादा खाने से यूरिन में बदबू की समस्‍या बढ़ सकती है.

    यह भी पढ़ें – घर की नकारात्मक ऊर्जा को पलक झपकते ही दूर कर देंगे ये 7 उपाय

    Tags: Food, Health, Lifestyle, Pregnancy

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें