कोरोना संकट में शारीरिक संबंध बनाना चाहिए या नहीं, जानिए सब कुछ

अगर पति-पत्नी कोरोना संक्रमित नहीं है, तो यौन संबंध बनाने में कोई समस्या नहीं है.

अगर पति-पत्नी कोरोना संक्रमित नहीं है, तो यौन संबंध बनाने में कोई समस्या नहीं है.

अगर कोरोना संकट काल (Corona Crisis) में किसी अन्य बीमारी या संक्रमण (Infection) का खतरा होगा तो शरीर का इम्युन सिस्टम (Immune System) कमजोर होने से कोरोना संक्रमण का खतरा भी बढ़ सकता है.

  • Last Updated: December 7, 2020, 1:52 PM IST
  • Share this:


भारत समेत पूरी दुनिया इस समय कोरोना संकट  (Corona Crisis) से जूझ रही है. ऐसे में बच्चे, बूढ़े और जवान सभी लोग ज्यादातर समय घर पर रहने को मजबूर हैं. ऐसे में शादी शुदा लोगों (Married People) के मन में यह सवाल रहता है कि कोरोना संकट के समय सेक्स (Sex) करना सुरक्षित है और शारीरिक संबंध बनाते समय किस तरह की सुरक्षा का ध्यान रखना चाहिए. आइए जानते हैं कोरोना संकट में सेक्सुअल संबंध बनाते समय किन चीजों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है-

पति-पत्नी कोरोना निगेटिव तो सकते हैं संबंध

अगर पति पत्नी दोनों लोग कोरोना संक्रमित नहीं है, तो यौन संबंध बनाने में कोई समस्या नहीं है, लेकिन अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने से बचना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से यौन संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है. अगर कोरोना संकट काल में किसी अन्य बीमारी या संक्रमण का खतरा होगा तो शरीर का इम्युन सिस्टम कमजोर होने से कोरोना संक्रमण का खतरा भी बढ़ सकता है.
तनाव दूर करता है सेक्स

सेक्स प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है जो इस कोरोना संकट समय में बेहद जरूरी है. myUpchar के अनुसार अकेलेपन में पार्टनर के साथ रहने पर सेक्स करना अच्छा होता है. साथ ही शारीरिक संबंध मस्तिष्क की कोशिकाओं को सक्रिय करने में मदद करता है.

ये भी पढ़ें - सही नाप के जूते न पहनने से हो सकती है फुट कॉर्न की शिकायत



मानव शुक्राणु में नहीं मिला रोगजनक वायरस

विशेषज्ञों ने एक शोध में पाया गया है कि वायरस के कारण होने वाली बीमारी यौन संचारित हो सकती है. रिसर्च के मुताबिक इबोला और जीका वायरस किसी भी मरीज के वीर्य में महीनों तक जिंदा रह सकते है, लेकिन कोरोना वायरस के मामले में ऐसा नहीं है. हाल ही में चीन के वुहान में कोविड-19 मरीजों पर किए गए अध्ययन में पता चला कि मानव शुक्राणु में रोगजनक वायरस का कोई निशान नहीं होता है. ये अध्ययन केवल 34 ऐसे मरीजों पर किया गया है, जिसमें कोरोना संक्रमण में हल्के लक्षण दिखाई दिए थे. लेकिन वैज्ञानिकों का कहना है कि कोरोना संक्रमित से गंभीर रूप से ग्रसित मरीज के वीर्य में कोरोना वायरस मिल सकता है.

शोधकर्ताओं का दावा, आ सकता है बेबी बूम

हाल ही में हार्ले थेरेपी के क्लिनिकल निदेशक डॉ. शेरी जैकबसन ने अपनी रिसर्च में दावा था कि अगले साल की शुरुआत में बेबी बूम आ सकता है. रिसर्च में बताया गया कि लॉकडाउन के दौरान घर में रहने की वजह से लोगों ने तनाव, बोरियत को दूर करने के लिए शारीरिक संबंधों को प्राथमिकता दी. इसी वजह से साल के अंत तक बेबी बूम की संभावना है.

कोरोना संकट के दौरान सेक्स करते समय इन बातों को जरूर जानें

यह वायरस श्वसन नली के जरिये शरीर में पहुंचता है यही कारण है कि लोगों को एक दूसरे से उचित दूरी बनाकर रहने की सलाह दी जाती है, ताकि यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे न पहुंच पाए. शारीरिक संबंध बनाने के दौरान दोनों पार्टनर एक दूसरे करीब होते हैं और इस दौरान सांस लेने से संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है. ऐसे में आपसी सहमति से संबंध बनाने के दौरान मास्क का इस्तेमाल किया जाना चाहिए.

ये भी पढ़ें - Year 2020: कोरोनोवायरस महामारी में बदल गया हमारे जीने का तरीका

अगर आप पहले से अपने पार्टनर के साथ रह रहे हैं और उसी बैक्टीरिया या वायरस को साझा करते हैं तो इससे संक्रमण का खतरा नहीं बढ़ता है. myUpchar के अनुसार अगर घर में वायरस है तो वह घर की सतहों पर पाया जा सकता है. ध्यान रखें, अगर किसी को कोरोना या अन्य तरह का वायरस है तो सेक्स के समय यह आपके साथी में पारित हो सकता है.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, यौन शक्ति पढ़ें।

न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।


अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज