कई बीमारियों से निजात दिलाता है मौसंबी का जूस, औषधि की तरह करता है काम

मौसंबी में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो अस्थमा के रोगियों के लिए फायदेमंद होते हैं.
मौसंबी में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो अस्थमा के रोगियों के लिए फायदेमंद होते हैं.

अधिकतर लोग बीमार होने के बाद कमजोरी (Weakness) को दूर करने के लिए मौसंबी का जूस (Sweet Lime Juice) पीते हैं. इसका कारण है कि मौसंबी के जूस में कई पोषक तत्व होते हैं, जो बीमारी के बाद शरीर को मजबूती प्रदान करते हैं.

  • Last Updated: October 18, 2020, 8:38 AM IST
  • Share this:


गर्मियों के मौसम में तरोताजा रहने के लिए लोग मौसंबी जूस (Sweet Lime) पीना बहुत पसंद करते हैं. मौसंबी कई पौष्टिक तत्वों से भरपूर होती है. इसमें सबसे ज्यादा विटामिन सी (Vitamin-C) और फाइबर (Fiber) पाया जाता है. अधिकतर लोग बीमार होने के बाद कमजोरी को दूर करने के लिए मौसंबी का जूस पीते हैं. इसका कारण है कि मौसंबी के जूस में कई पोषक तत्व होते हैं, जो बीमारी के बाद शरीर को मजबूती प्रदान करते हैं. मौसंबी न सिर्फ ताकत देती है, बल्कि इसके कई और फायदे भी हैं. आइए जानते हैं इन फायदों के बारे में.

वजन कम करने में सहायक



myUpchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, मौसंबी का जूस खाली पेट लेने से वजन कम होता है. मौसंबी का फल विटामिन सी से भरपूर होता है जो फैट ऑक्सीडेशन का कार्य करता है, जिससे वजन कम होता है. इसके अलावा शरीर में मौजूद अन्य टॉक्सिन को भी यह दूर करता है.
दूर होती है कब्ज की समस्या

जिन लोगों को कब्ज की समस्या रहती है, उन्हें मौसंबी का जूस जरूर पीना चाहिए. मौसंबी में कुछ ऐसे एसिड भी होते हैं, जो शरीर से टॉक्सिन दूर करने में मदद करते हैं. मौसंबी में मौजूद फाइबर भी काफी मात्रा में होता है, जिससे कब्ज की समस्या दूर होती है. फाइबर पेट की आंतों के लिए काफी अच्छा होता है. इससे आंतों की अच्छे से सफाई भी हो जाती है.

मसूड़ों के लिए फायदेमंद

चार चम्मच मौसंबी का रस, दो चम्मच पानी और एक चुटकी काला नमक मिलाकर मसूड़ों पर लगाने से मसूड़ों में सूजन, खून निकलने जैसी समस्याएं दूर होती हैं. इससे मसूड़े मजबूत होते हैं, क्योंकि विटामिन सी की मौजूदगी के कारण यह नई कोशिकाओं के निर्माण में भी मदद करता है.

आंखों के लिए बेहतरीन औषधि

एक गिलास सादे पानी में मौसंबी की 3-4 बूंदें मिला लें। इसके बाद इस पानी से तीन से चार बार आंखें धोएं. ऐसा करने से कंजेक्टिवाइटिस की समस्या दूर होगी और इस विधि के द्वारा किसी प्रकार के संक्रमण से भी आंखों को बचाया जा सकता है.

इम्यून सिस्टम के लिए लाभकारी

myUpchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, मौसंबी के फल में विटामिन सी की अधिकता की वजह से इसका जूस लेने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है. इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए रोज एक गिलास मौसंबी का जूस जरूर पीना चाहिए, इससे कई प्रकार की संक्रामक बीमारियां भी नहीं होंगी.

अस्थमा के रोगियों के लिए फायदेमंद

मौसंबी में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो अस्थमा के रोगियों के लिए फायदेमंद होते हैं. अस्थमा के रोगियों को मौसंबी के रस में थोड़ा सा जीरा और अदरक मिलाकर पीना चाहिए, इससे उन्हें राहत मिलेगी.

पाचन शक्ति की मजबूती में सहायक

गर्मी के मौसम में पेट संबंधित कई परेशानियां शुरू हो जाती हैं, जैसे डायरिया, बदहजमी, एसिडिटी, कब्ज आदि. मौसंबी में फ्लेवोनॉयड तत्व पाया जाता है, जिससे शरीर की पाचन शक्ति मजबूत होती है. इसके सेवन से पेट संबंधी सभी रोग जल्दी ठीक हो जाते हैं.

कैंसर से बचाव

मौसंबी में डी-लिमोनेन और एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं. इससे स्तन कैंसर जैसी बीमारियों से बचा जा सकता है. यदि नियमित रूप से मौसंबी का सेवन किया जाए तो ऐसा माना जाता है कि इससे कैंसर की आशंका 20% कम हो जाती है.

मौसमी बीमारियों से बचाव

मौसम के परिवर्तन के कारण अक्सर लोगों को सर्दी-जुकाम या एलर्जी जैसी समस्याएं होने लगती हैं.यदि मौसंबी का रस रोज पिया जाए तो इससे यह परेशानी जल्द ही ठीक हो जाती है.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, वजन कम करने से लेकर, दोमुहे बालों, पीलिया, पेप्टिक अल्सर और कैंसर तक मौसंबी के फायदे और नुकसान पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज