Home /News /lifestyle /

know how flight journey can affect your sleeping pattern in hindi

लंबी हवाई यात्रा से बदलता है आपका स्लीपिंग पैटर्न, जानें इससे निपटने के तरीके

हवाई जहाज की लंबी उड़ान और स्लीप साइकिल,साभार-कैनवा

हवाई जहाज की लंबी उड़ान और स्लीप साइकिल,साभार-कैनवा

हवाई यात्रा करने के दौरान हर किसी के अनुभव एक-दूसरे से अलग होते हैं. किसी को कान में, तो किसी को सिर दर्द की शिकायत होती है. क्या आप जानते हैं हवाई यात्रा से सिर्फ ये चीज़ें ही नहीं, बल्कि आपकी स्लीपिंग पैटर्न भी डिस्टर्ब होती है.

How air travel disturbs sleeping pattern: जो लोग अक्सर एयर ट्रैवल करते हैं, उन्हें किसी न किसी तरह की फिजिकल समस्या होती रहती है. एयर ट्रेवल करने वाले लोगों को नींद का पैटर्न डिस्टर्ब होने से लेकर, सिर या कान में दर्द की समस्या भी झेलनी पड़ती है. स्लीपफॉउंडेशन के मुताबिक हवाई जहाज की लंबी उड़ान का दिमाग पर काफी गहरा असर पड़ सकता है, इससे स्लीपिंग पैटर्न बदलने के अलावा स्ट्रेस और थकान महसूस होती है. साथ ही घंटों एक ही तरह से बैठे रहने की वजह से आप असहज भी महसूस कर सकते हैं.

यह समस्या तब और बढ़ जाती है, जब आप इंटरनेशनल यात्राएं अधिक करते हैं. अगर आप अलग-अलग देश की यात्राएं करते हैं, तो आपके स्लीपिंग रूटीन में बार-बार बदलाव आता है. यह बदलाव एक बार सेट होने को तैयार होता है कि दोबारा से रूटीन चेंज करने की नौबत आ जाती है. जब हम अलग-अलग टाइम जोन के देशों में जाते हैं, तो भी दिमाग में समय का पैटर्न बदल जाता है और शरीर को उसी हिसाब से नींद आती है, जिस हिसाब से वह नींद का आदी होता है. दूसरे देश में दिन होने की वजह से हम अपने स्लीप साइकिल के खिलाफ जाकर खुद को जागकर रखते हैं, यही वजह है की हमारी रूटीन डिस्टर्ब होती है.

ये भी पढ़ें: युवाओं को माइग्रेन का सबसे ज्यादा खतरा, एक्सपर्ट से जानें इसके लक्षण, बचाव के तरीके

स्लीपिंग पैटर्न डिस्टर्ब होने के लक्षण 
-सोने के समय में दिक्क्त महसूस होना.
-दिन में लगातार नींद जैसी स्थति महसूस करना.
-याददाश्त और सोचने से जुड़ी समस्याएं देखने को मिल सकती हैं.
-मूड ख़राब हो सकता है और आप छोटी सी बात से भी इरिटेट हो सकते हैं.
– कब्ज जैसी समस्या देखने को मिल सकती है.

ये भी पढ़ें: क्या वाकई चावल खाने से बढ़ता है मोटापा, जानिए इस बारे में क्या कहती है रिसर्च

इन प्रभावों को कम कैसे किया जा सकता है?
-दूसरे टाइम जोन में जा कर सोने के पैटर्न को वहां के हिसाब से एडजस्ट करें.
-अगर सोने मेंज़्यादा दिक्कत आ रही है, तो एक्सपर्ट से मिलकर उनकी सलाह लें.
– बाहर घूमने निकलें, दिन की थकान के बाद आपको रात में नींद अच्छी आएगी.
-अपने बायोलॉजिकल क्लॉक को देश के दिन और रात के साथ सेट करें.
-यात्रा से पहले ही खुद को तैयार करना शुरू कर दें, ताकि ज़्यादा समस्या न हो. 

Tags: Air Travel, Health, Lifestyle

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर