जानें किन वजहों से होती है एलर्जी, इसके लक्षण और उपाय

एलर्जी (Allergy) के सबसे सामान्य लक्षण होते हैं त्वचा पर दाने या फुंसियां होना या मुंह पर सूजन आ जाना, गले में खराश, सांस लेने में तकलीफ होना.
एलर्जी (Allergy) के सबसे सामान्य लक्षण होते हैं त्वचा पर दाने या फुंसियां होना या मुंह पर सूजन आ जाना, गले में खराश, सांस लेने में तकलीफ होना.

एलर्जी (Allergy) के सबसे सामान्य लक्षण होते हैं त्वचा पर दाने या फुंसियां होना या मुंह पर सूजन आ जाना, गले में खराश, सांस लेने में तकलीफ होना.

  • Last Updated: November 13, 2020, 6:50 AM IST
  • Share this:


एलर्जी (Allergy) की समस्या तब होती है, जब शरीर किसी बाहरी चीज के खिलाफ प्रतिक्रिया करता है. एलर्जी सबको अलग-अलग चीजों से हो सकती है. किसी को फूलों (Flowers), मिट्टी (Soil) और पालतू पशुओं (Pets) की रुसी से एलर्जी होती है, तो किसी को खाने-पीने की चीजों जैसे अंडे (Eggs), मूंगफली (Peanuts), मेवा, दूध, सोया, गेहूं या अन्य किसी खाद्य पदार्थ से. वहीं कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जिन्हें कोई धातु पहनने पर या छूने पर एलर्जी हो जाती है या फिर किसी कीड़े के डंक मारने पर एलर्जी हो सकती है. एलर्जी होने पर इसके क्या लक्षण दिखते हैं, आइए जानते हैं.

ये हैं एलर्जी के प्रमुख लक्षण



एलर्जी के सबसे सामान्य लक्षण होते हैं त्वचा पर दाने या फुंसियां होना या मुंह पर सूजन आ जाना, गले में खराश, सांस लेने में तकलीफ होना. अन्य लक्षणों में शामिल हैं - नाक-कान में खुजली होना, नाक बहना, नाक बंद हो जाना या फिर छींक आना, गले में खुजली या खांसी आना, आंखों में खुजली, लाली, सूजन, जलन या पानी बहना या सिर दर्द और उल्टी आना.
ऐसे पता लगाएं एलर्जी का सही कारण

एलर्जी का सही कारण पता लगाने के लिए एलर्जी के डॉक्टर से अपना चेकअप करवाएं. डॉक्टर एलर्जी का पता लगाने के लिए त्वचा या रक्त की जांच करेंगे. इसमें सटीक पता चल जाएगा कि एलर्जी किस वजह से हो रही है. डॉक्टर एलर्जी के लक्षणों को पहचान कर इसके इलाज के लिए दवाइयां दे सकते हैं. डॉक्टर उन चीजों से परहेज करने को भी कह सकते हैं, जिनसे एलर्जी हो रही है. इसमें इस बात का ध्यान रखना बहुत जरूरी है कि बिना किसी डॉक्टर की सलाह के खुद से एलर्जी की दवा नहीं लेनी चाहिए.

myUpchar के अनुसार, खाने से होने वाली एलर्जी के मुख्य लक्षण हैं - लाल चकत्ते होना, होठों या जीभ पर सूजन, उल्टी आना, बीपी लो होना.

अस्थमा और एलर्जी में होता है फर्क

कई बार एलर्जी और अस्थमा के लक्षण एक जैसे उभरते हैं और मरीज खुद को अस्थमा से पीड़ित समझ बैठते हैं. जबकि अस्थमा के रोगियों को सांस लेने में परेशानी होने के अलावा रात में सोते समय खांसी आना, छाती में जकड़न महसूस होना, व्यायाम करते हुए या सीढ़ियां चढ़ते हुए सांस फूलना या ज्यादा खांसी आना, ज्यादा ठंड या गर्मी होने पर भी सांस लेने में परेशानी होना जैसे लक्षण होते हैं. वहीं, जिन्हें एलर्जी की समस्या होती है, उन्हें अस्थमा के जैसे लक्षण तो हो सकते हैं, लेकिन अस्थमा की तुलना में काफी कम होते हैं. अस्थमा के रोगियों में अस्थमा का अटैक किसी चीज के संपर्क में आने से एलर्जी होने के कारण हो सकता है, इसलिए इसे एलर्जिक अस्थमा भी कहते हैं, लेकिन जिन्हें सिर्फ एलर्जी की समस्या है, उनमें 40 प्रतिशत तक अस्थमा होने का खतरा होता है.

एलर्जी से ऐसे करें खुद का बचाव

एलर्जी से बचने के लिए बाजार में कई तरह की दवाएं उपलब्ध हैं. इनसे कुछ समय के लिए राहत मिल जाती है, लेकिन दवाई का असर खत्म होते ही फिर से दिक्कतें शुरू हो जाती हैं. एलर्जी से पूरी तरह से छुटकारा पाने के लिए कुछ आयुर्वेदिक उपचारों को अपनाना ज्यादा फायदेमंद होता है. इसके लिए रोज सुबह गर्म पानी का सेवन करें और खट्टी व ठंडी चीजों से परहेज करें. रोज सुबह ताजी हवा के साथ आधे घंटे प्राणायाम करने पर बहुत ज्यादा लाभ मिलता है. myUpchar के अनुसार, घर में धूल के कीट न पनपने दें. ये एलर्जी का सबसे बड़ा कारण होते हैं. कालीन, पर्दे, तकीए की साफ-सफाई रखें.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, खाने से एलर्जी क्या होती है, इसके प्रकार, लक्षण, बचाव और इलाज पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज