होम /न्यूज /जीवन शैली /हार्ट अटैक और COVID-19 संक्रमण: दोनों के बीच आखिर क्या संबंध है?

हार्ट अटैक और COVID-19 संक्रमण: दोनों के बीच आखिर क्या संबंध है?

कोविड-19 न केवल फेफड़ों, बल्कि शरीर के दूसरे अंगों को प्रभावित कर रहा है, जिसमें हमारा हार्ट भी शामिल है. (फाइल फोटो)

कोविड-19 न केवल फेफड़ों, बल्कि शरीर के दूसरे अंगों को प्रभावित कर रहा है, जिसमें हमारा हार्ट भी शामिल है. (फाइल फोटो)

Heart Attacks and COVID 19 Infection : डॉ. समीर कहते हैं कि हाल के दिनों में कई रिपोर्ट्स सामने आई हैं, जो बताती हैं कि ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. तेजी से फैलते कोविड-19 (COVID-19) संक्रमण के दौर में हालिया ऐसी कई घटनाएं सामने आई हैं, जहां COVID-19 संक्रमित मरीज अचानक घातक हार्ट अटैक (Heart Attack) के शिकार हो रहे हैं. इससे उनकी मौत भी हो रही है. प्रसिद्ध टीवी पत्रकार रोहित सरदाना और जाने-माने सितारवादक पंडित देबू चौधरी की कोरोना संक्रमण के इलाज के दौरान दिल का दौरा पड़ने से हुई मृत्‍यु के बाद इस तथ्‍य की ओर ध्‍यान गया है कि कोविड 19 संक्रमण और दिल के दौरे के बीच कोई संबंध है या नहीं? यह चिकित्सा विज्ञान के शोध का विषय भी है.

आइये जानते हैं कि इस बारे में विशेषज्ञ चिकित्‍सक की राय क्‍या है…

वायरस संक्रमण से हार्ट पर स्‍ट्रेस पड़ता है…
इंटरवेंशनल कार्डियोवस्कुलर सर्जन एवं मेट्रो हॉस्पिटल्‍स एंड हार्ट इंस्टीट्यूट की कार्डिएक कैथ लैब के निदेशक डॉ. समीर गुप्‍ता कहते हैं कि पहले तो यह जानना जरूरी है कि हार्ट की आर्टलरी में ब्‍लड क्‍लॉट जमा हो जाने पर हार्ट अटैक आता है, जबकि हार्ट के अचानक से खराब रिदम में चले जाने को कार्डियक अरेस्‍ट कहते हैं. यह काफी नुकसानदेह होता है, क्‍योंकि इसमें मरीज को बचा पाने के लिए काफी कम समय मिल पाता है. कोविड 19 का इन दोनों से संबंध है. हार्ट अटैक में भी हार्ट की रिदम खराब हो सकती है और कार्डिएक अरेस्‍ट में तो यह होता ही है. वायरस संक्रमण से हार्ट पर स्‍ट्रेस भी पड़ता है. यहां तक की हार्ट की मसल्‍स में सूजन भी आ जाती है. इन्फेक्शन के कारण हार्ट टिश्यू क्षतिग्रस्त हो जाते हैं. इस तरह कोविड 19 वायरस हार्ट को भी नुकसान पहुंचाता है.

कोविड-19 हार्ट को भी प्रभावित कर रहा है…
डॉ. समीर कहते हैं कि हाल के दिनों में कई रिपोर्ट्स सामने आई हैं, जो बताती हैं कि कोविड-19 न केवल फेफड़ों, बल्कि शरीर के दूसरे अंगों को प्रभावित कर रहा है, जिसमें हमारा हार्ट भी शामिल है. कोविड संक्रमितों में यह देखने को मिल रहा है कि संक्रमण की वजह से खून में क्‍लॉट बन रहे हैं, जोकि हार्ट में पहुंचने पर मरीज को बेहद नुकसान पहुंचा रहे हैं, जोकि हार्ट अटैक या कार्डिएक अरेस्‍ट की मुख्‍य वजहों में से एक है.

Dr. Sameer Gupta

इंटरवेंशनल कार्डियोवस्कुलर सर्जन एवं मेट्रो हॉस्पिटल्‍स एंड हार्ट इंस्टीट्यूट की कार्डिएक कैथ लैब के निदेशक डॉ. समीर गुप्‍ता

हार्ट को हेल्‍दी रखने के लिए क्‍या करें?
उन्‍होंने सलाह देते हुए कहा है क‍ि कोरोना संक्रमण के दौर में अपने हार्ट को सुरक्षित रखना बेहद जरूरी है. इसलिए नियमित रूप से सामान्य एक्सरसाइज करना यानी शारीरिक रूप से सक्रिय रहना जरूरी है. साथ ही खाने में उन डाइट्स को शामिल करना, जो हमारे हार्ट की हेल्‍थ के लिए अच्‍छी हों.

हार्ट संबंधी कोई प्रॉब्‍लम होने पर क्‍या करना चाहिए?
डॉ. समीर बताते हैं कि दरअसल, ब्लड प्रेशर, हाइपरटेंशन, स्मोकिंग, हाई कोलस्ट्रॉल, मोटापा, अत्यधिक लिपिड स्तर दिल संबंधी रोग के मुख्य कारण हैं. कोविड संक्रमण के दौरान हमें इन सब पर बेहद ख्‍याल रखना आवश्‍यक है. अगर किसी को सांस लेने में तकलीफ, चेस्ट पेन, पैरों में सूजन, पसीना आए तो उसे तुरंत अस्‍पताल जाना चाहिए या डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहिए. मरीज को तत्‍काल डॉक्‍टर के परामर्श से ब्लड टेस्ट, एक्सरे, ईसीजी या अन्‍य जांच या उपचार करवाने चाहिए.

Tags: Corona Virus, COVID 19, Heart attack

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें