होम /न्यूज /जीवन शैली /मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है ज्यादा बोर होना, जानें इससे बचने के उपाय

मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है ज्यादा बोर होना, जानें इससे बचने के उपाय

बोरियत महसूस करने पर आप नई जगहों पर जाने का प्लान कर सकते हैं.

बोरियत महसूस करने पर आप नई जगहों पर जाने का प्लान कर सकते हैं.

How to Boost your Mental Health: बच्चों में थोड़ी बोरियत होना ठीक है क्योंकि यह उन्हें कुछ नया सोचने और नया करने की तरफ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

बोर होने की समस्या लगभग हर उम्र के लोगों में देखी जाती है.
बोरियत दूर करने के लिए आप खेल या फिर मनोरंजन संबंधी गतिविधियां कर सकते हैं.

How to Boost your Mental Health: खुशी जीवन के लिये बहुत जरूरी होता है कि आप शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ्य हों. हमारा शरीर तभी स्वस्थ्य रहेगा जब हमारा मानसिक स्तर मजबूत होगा और हम मन से खुश रहेगें. हालांकि पिछले कुछ समय में तेजी से बदलते परिवेश का हमारे मानसिक विकास पर काफी असर पड़ा है. कई बार हमारी मानसिक स्थिति इतनी कमजोर हो जाती है कि इससे दूसरी बीमारियां भी उत्पन्न हो जाती हैं. ऐसा ही एक मानसिक विकार है बोर होना, जिसे हम सामान्य भाषा में कहते हैं कि मन न लगना.

मन न लगने की समस्या किसी भी उम्र के लोगों में देखी जाती है लेकिन सामान्यत: यह बच्चों और वयस्क लोगों में देखने को मिलती है. मायोक्लिनिक के अनुसार बच्चों में थोड़ी बोरियत होना ठीक है क्योंकि यह उन्हें कुछ नया सोचने और नया करने की तरफ प्रेरित करती है. लेकिन अगर आपके बच्चे का मन किसी भी काम में ज्यादा देर नहीं लगता तो यह परेशानी की बात है.

बोरियत महसूस होने के कारण
लोग बोर क्यों हो जाते हैं यह सबसे बड़ा सवाल है. दरअसल जब आप खाली होते हैं उस समय आपका दिमाग के पास कुछ करने के लिए नहीं तो ऐसी स्थिति में ही आप बोरियत महसूस करते हैं. कई बार ऐसा भी होता है कि आप किसी काम को करते हुए भी बोरियत फील करने लगते हैं. इसके पीछे वजह है आपका उस काम के प्रति आकर्षण न होना, इंट्रेस्ट न होना. बोरियत होना एक आम समस्या है.

अस्थमा रोगी और बच्चों के लिए हानिकारक है पटाखों का धुंआ, इन प्वाइंट्स में जानें बचाव के तरीके

एक रिपोर्ट के अनुसार 60 प्रतिशत से अधिक यूएस वयस्क सप्ताह में एक बार जरूर बोरियत महसूस करते हैं. बोरियत को दूर करने के कई आसान उपाय है जिन्हें अपनाकर आप अपने जीवन में एक नया उत्साह ला सकते हैं. इन प्वाइंट्स में जाने…

  • बोरियत दूर करने के लिए आप खेल या फिर मनोरंजन संबंधी गतिविधियां कर सकते हैं जिससे आपको थकान महसूस होगी और आपका दिमाग आराम करना चाहेगा.

  • जब आप बोरियत महसूस करें तो अपने दोस्तों के साथ किसी ट्रिप पर जा सकतें हैं जिससे आपको एक अलग माहौल मिलेगा और आप पहले से बेहतर महसूस करेंगे.

  • इलेक्ट्रानिक्स उपकरण लोगों का ध्यान काफी आकर्षित करते हैं इसलिए आप जब बोर हों तो इलेक्ट्रानिक गैजेट का इस्तेमाल कर सकते हैं. आपने देखा होगा कि यूट्यूब या टिकटॉक पर लोग घंटो समय बिता देते हैं और उन्हें पता भी नहीं चलता.

क्या है प्लाक सोरायसिस? किस उम्र के लोगों को प्रभावित करती है यह स्किन बीमारी, जानें लक्षण और उपचार

  • कुछ नया करने की सोचें- अगर आपको बोरियत महसूस हो रही है तो आपके सबसे अच्छा तरीका है कि आप कुछ नया करने की सोचें. अगर आप कभी क्लब नहीं गए तो क्लब जाएं और वहां का महौल देखें. इसके अलावा आप कुछ नई किताबें भी पढ़ सकते हैं.

  • प्रकृति के साथ समय बिताएं: बोरियत को दूर करने का एक और आसान उपाय है कि आप प्रकृति के साथ समय बिता सकते हैं. आप जब भी बोर हो तो आप अपने घर के पास किसी फील्ड पर जा सकते हैं. आप रिवर किनारे बैठ सकते हैं. आप बागवानी कर सकते हैं. ये सभी काम आपकी रचनात्मक सोच को भी बढ़ावा देंगे.

Tags: Health, Lifestyle, Mental health

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें