लाइव टीवी

कोरोना वायरस से बचाव के लिए बुजुर्गों को क्या करना चाहिए और क्या नहीं, जानिए यहां

भाषा
Updated: March 30, 2020, 3:04 PM IST
कोरोना वायरस से बचाव के लिए बुजुर्गों को क्या करना चाहिए और क्या नहीं, जानिए यहां
बुजुर्गों को घर में बना ताजा पोषण युक्त आहार लेने के अलावा गर्म खाना खाने की सलाह दी गई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस के संक्रमण का बुजुर्गों को सर्वाधिक खतरा होने के मद्देनजर बचाव के लिये परामर्श जारी किए हैं.

  • Share this:
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस के संक्रमण का बुजुर्गों को सर्वाधिक खतरा होने के मद्देनजर बचाव के लिये परामर्श जारी किए हैं. मंत्रालय द्वारा सोमवार को दी गई जानकारी के मुताबिक कोरोना वायरस के संक्रमण से अब तक सामने आए मौत के मामलों में उम्रदराज लोगों की काफी अधिक संख्या को देखते हुये बुजुर्गों के लिए परामर्श जारी किया गया है. इसमें बताया गया है कि इस वायरस के संक्रमण से बचने के लिये बुजुर्गों को क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए. इसमें कोरोना वायरस के संक्रमण का विश्वव्यापी दायरा बढ़ने के मद्देनजर मंत्रालय द्वारा जारी परामर्श में कहा गया है कि बुजुर्गों में उम्र की अधिकता के कारण शरीर की रोग रोगप्रतिरोधक क्षमता तुलनात्मक रूप से कम होने की वजह से संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है.

बुजुर्ग लोग संक्रमण से बचने के लिए ये उपाय

परामर्श में उम्रदराज लोगों को संक्रमण से बचाव के सभी संभव उपाय अपनाते हुए घर पर ही नियमित रूप से व्यायाम करने की सलाह दी गई है. साथ ही घर पर रहते हुए भी संक्रमण का खतरा कम करने के लिए उन्हें नियमित अंतराल पर साबुन से हाथ और चेहरा धोने को कहा गया है. घर से बाहर नहीं निकलने के परामर्श का सख्ती से पालन करते हुये बुजुर्गों को बाहर से आने वाले लागों से नहीं मिलने को कहा गया है. अगर आगंतुकों से मिलना अनिवार्य है तो कम से कम एक मीटर की दूरी बना कर मिलना सुरक्षित होगा.



डायट में करना होगा बदलाव



साथ ही परामर्श में बुजुर्गों को घर में बना ताजा पोषण युक्त आहार लेने के अलावा गर्म खाना खाने, बार बार पानी पीने और नियमित तौर पर ताजे फलों का रस पीने की बात भी कही गई है. इसमें उम्रदराज लोगों से पहले से चल रही दवाओं का नियमित रूप से सेवन करने और मोतियाबिंद, घुटना प्रत्यारोपण जैसी शल्य चिकित्सा को फिलहाल टालने का परामर्श भी शामिल है. इसमें कहा गया है कि बुजुर्गों को बुखार, जुकाम या सांस लेने में तकलीफ की समस्या होने पर तत्काल निकटतम चिकित्सा सेवा का लाभ लेने की जरूरत है.

दवा के लिए ले सकते हैं ऑनलाइन परामर्श

इसमें बुजुर्गों को खांसी या छींक आने पर चेहरे को सीधे हाथों से न ढंकने की सलाह देते हुए जुकाम, खांसी या बुखार से पीड़ित लोगों के पास नहीं जाने को को भी कहा गया है. परामर्श में बुजुर्गों से किसी मर्ज की खुद दवा लेने से बचने और नियमित स्वास्थ्य जांच के लिए अस्पताल जाने के बजाय ऑनलाइन चिकित्सा सेवा (टेलीमेडिसिन) का लाभ उठाकर चिकित्सा परामर्श लेने का सुझाव दिया गया है.

साथ ही पार्क, बाजार और धार्मिक स्थलों जैसे भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचते हुए अत्यंत आवश्यक होने पर ही घर से बाहर जाने का परामर्श दिया गया है. उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस के संक्रमण की स्थिति को देखते हुए जारी देशव्यापी बंदी (लॉकडाउन) के दौरान मंत्रालय द्वारा लोगों को समय समय पर परामर्श जारी किए जा रहे हैं. बुजुर्गों में इस वायरस के संक्रमण के ज्यादा खतरे को देखते हुये मंत्रालय ने उम्रदराज लोगों के लिए अलग से परामर्श जारी किए है.

 

इसे भी पढ़ें :

Lockdown के बीच घर में परिवार के साथ करें ये योगासन, कई बीमारियां होंगी खत्म!

Coronavirus की टेंशन को खत्म कर सकते हैं ये योगासन, आज ही करें अभ्यास

Coronavirus: शख्स ने कुत्ते को बाजार भेजकर मंगवाए Snacks, लोग बोले- 'ऐसे कौन करता है भाई'

Bollywood सेलेब्स के वर्कआउट वीडियोज़, जो लॉकडाउन में भी बॉडी को रखेंगे Active

Lockdown के कारण घर में रहने से लोगों के बीच बढ़ रहे हैं झगड़े!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हेल्थ & फिटनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 30, 2020, 2:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading