तनाव महसूस कर रहे हैं तो इस टोल फ्री नंबर पर करें कॉल, मिलेगी सरकारी मदद

तनाव महसूस कर रहे हैं तो इस टोल फ्री नंबर पर करें कॉल, मिलेगी सरकारी मदद
अगर आप तनावग्रस्त महसूस कर रहे हैं तो टोल फ्री नंबर पर कॉल करके मदद मांग सकते हैं.

अगर आप तनाव (Depredation) या खुद को असहज महसूस कर रहे हैं, तो स्वास्थ मंत्रालय (Ministry of Health) के नेशनल हेल्पलाइन नंबर 080-46110007 पर काल करें. आपको सरकारी मदद मुहैया कराई जाएगी

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona virus)के कारण लॉकडाउन (Lockdown) में फंसे लोगों के लिए हेल्थ मिनिस्ट्री एंड फैमिली वेलफेयर(Health Ministry and Family Welfare) ने एक हेल्प लाइन नंबर जारी किया है. मंत्रालय ने कहा है कि अगर आप तनावग्रस्त महसूस कर रहे हैं या खुद को सुस्त महसूस कर रहे हैं, तो टोल फ्री नंबर पर कॉल करके मदद मांग सकते हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसके लिए 24x7 नेशनल हेल्पलाइन नंबर 080-46110007 जारी किया है. अगर आप असहज महसूस कर रहे हैं या तनाव महसूस में हैं तो इस नंबर पर कॉल कर आपको मदद लेनी चाहिए.

स्वास्थ मंत्रालय ने इस बात की जानकारी अपने ऑफिसियल फेसबुक पेज में दी है. लॉकडाउन के चलते लोगों को अंदर तनाव पनप रहा है, जिसके कारण लोग गलत कदम उठा रहे हैं या फिर गंभीर बीमारी का शिकार हो रहे हैं. इस समस्या को देखकर स्वास्थ मंत्रालय ने यह कदम उठाया है.

बता दें कि देश में कोरोना महामारी के चलते 24 मार्च से लॉकडाउन है. अनलॉक की प्रक्रिया के बाद से देश में कोरोना संक्रमित रोज रिकार्ड स्तर पर बढ़ रहे हैं. लॉकडाउन में करोड़ों लोगों के पास रोजगार नहीं है. करोड़ों लोग अपने स्वास्थ और कर्ज को लेकर परेशान हैं, जिसके बाद से लोग तनाव का शिकार हो रहे हैं. देश में डिप्रेशन में जा रहे लोगों के लिए मंत्रालय ने टोल फ्री नंबर जारी किया है, जिससे कि लोगों को समय रहते इलाज मिल सके. बता दें कि देश में पिछले 24 घंटों में 34, 8484 कोरोना संक्रमित सामने आए हैं. वहीं 24 घंटे में 671 लोगों की मौत हो चुकी है.



तनाव और चिंता से जूझ रहे लोग क्या करें?
विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना वायरस संक्रमण की तरह तनाव भी जानलेवा है. अगर इसे कम नहीं किया गया तो यह शरीर में भारी उथल-पुथल मचा सकता है. कई बार आप तनाव क कारण गलत कदम भी उठा सकत हैं. इसलिए इसे कम करना बहुत जरूरी है. विशेषज्ञों का कहना है कि जब भी आप तनाव महसूस करें तो STOP का मंत्र अपना सकते हैं. S यानी स्टॉप, D यानी डीप ब्रीदिंग-तीन बार लंबी-लंबी सांसें लें और शरीर के रोम-रोम से मुस्कुराने की कोशिश करें. O यानी ऑब्जर्व. बिना किसी जजमेंट के अपने शरीर में सेंसेशन महसूस करें. आखिर में P यानी प्रोसीड. जागरूकता और चॉइस के साथ आगे बढ़ें. योग और मेडिटेशन भी तनाव और घबराहट दूर करने को दो अहम तरीके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading