लाइव टीवी

जानें दवाई के रैपर पर लाल लकीर का मतलब, डॉक्टर से पूछे बिना न खाएं दवाई

News18Hindi
Updated: October 24, 2019, 9:57 AM IST
जानें दवाई के रैपर पर लाल लकीर का मतलब, डॉक्टर से पूछे बिना न खाएं दवाई
जानें दवाई के रैपर पर लाल लकीर का मतलब

जब आप अगली बार दवाई लें उससे पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें ताकि लेने के देने न पड़ जाएं. इसके साथ ही आप अपने आसपास के लोगों, दोस्तों और रिश्तेदारों से भी यह जानकारी साझा कर सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2019, 9:57 AM IST
  • Share this:
ज़्यादातर लोगों की आदत होती है कि बीमार होने पर अक्सर बॉडी में दिखने वाले समान्य लक्षणों के आधार पर वो दवाई खा लेते हैं. लेकिन कई बार जब दवाइयां रिएक्शन कर जाती हैं तो तबीयत खराब होने से लेकर जान जाने तक कि नौबत आ जाती है. इसलिए ही दवाइयां हमेशा डॉक्टर के परामर्श के बाद ही लेने की सलाह दी जाती है. लेकिन बावजूद इसके भी कुछ लोग इस बात को नजरअंदाज कर देते हैं और कई बार परेशानी में पड़ जाते हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) ने लोगों की इस नीम हकीमी के चलते अपने ट्विटर हैंडल पर एक जानकारी वाली पोस्ट शेयर की है. इसमें बताया गया है कि किन दवाइयों को खाने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले लेनी चाहिए.

अपनी इस पोस्ट के जरिये स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) ने लोगों से जागरूक रहने की अपील करते हुए लिखा है कि 'ज़िम्मेदार बनें और बिना डॉक्टर की सलाह के लाल लकीर वाली दवाई की पत्ती से दवाइयां न खायें. आप ज़िम्मेदार, तो दवाई असरदार.'

इसे भी पढ़ेंः AIIMS की रिपोर्ट में बड़ा खुलासा, सबसे 'असरदार' एंटीबायॉटिक्स भी हो रहीं फेल

साथ ही इस पोस्ट में दवाइयों के रैपर की एक तस्वीर पर लिखा है कि क्या आप जानते हैं? जिन दवाइयों की पत्ती पर लाल लकीर होती है उन्हें डॉक्टर की सलाह के बिना कभी नहीं लेना चाहिए. कुछ दवाइयों जैसे कि एंटीबायोटिक्स की पत्ती पर एक लाल लकीर होती है. इसका मतलब होता है कि डॉक्टर की सलाह के बिना गलती से भी इन दवाइयों का सेवन न करें. डॉक्टर जो दवाई बताये उसे समय से लें और दवाई का कोर्स भी पूरा करें.


Loading...



 

इसे भी पढ़ेंः Diwali 2019: दिवाली में अस्थमा के मरीज अपनाएं ये खास टिप्स, पटाखों के धुएं से नहीं होगा इंफेक्शन

इसके साथ ही यह भी जान लें कि जब भी आप दवाई खरीदने मेडिकल स्टोर पर जाएं तो लाल लकीर वाली दवाइयों की रसीद जरूर ले लें क्योंकि नियम के अनुसार लाल लकीर वाली दवाइयों को मेडिकल स्टोर वाले भी बिना रसीद के नहीं बेच सकते.

इसलिए जब आप अगली बार दवाई लें उससे पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें ताकि लेने के देने न पड़ जाएं. इसके साथ ही आप अपने आसपास के लोगों, दोस्तों और रिश्तेदारों से भी यह जानकारी साझा कर सकते हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2019, 9:48 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...