होम /न्यूज /जीवन शैली /विंटर में रातभर रूम हीटर चलाना है खतरनाक, हो सकती हैं ये बीमारियां

विंटर में रातभर रूम हीटर चलाना है खतरनाक, हो सकती हैं ये बीमारियां

बंद जगह में लगातार हीटर ऑन रहने से हवा की नमी गायब होने लगती है. Image : Canva

बंद जगह में लगातार हीटर ऑन रहने से हवा की नमी गायब होने लगती है. Image : Canva

जब आप रातभर रूम हीटर ऑन कर सोते हैं तो इससे हवा में कार्बन मोनोऑक्‍साइड का स्‍तर बढ़ने लगता है, जो हमारी सेहत के लिए घा ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

रातभर रूम हीटर ऑन रखने से कंजक्टिवाइटिस की समस्‍या हो सकती है.
यह रूम के एयर क्‍वालिटी को टॉक्सिक बनाने का काम करता है.

Never Sleep With Room Heater On In Night: कड़ाके की सर्दी शुरू हो चुकी है. ऐसे में ठंड से बचने के लिए लोग गर्म कपड़ों साथ रूम हीटर का इस्‍तेमाल शुरू कर दिए हैं. खासतौर पर जिन घरों में बुर्जुग व छोटे बच्‍चे हैं उन्‍हें सर्दी से बचाने के लिए रूम हीटर काफी काम का माना जा रहा है. लेकिन आपको इससे जुड़ी कुछ अहम बातों की जानकारी होना भी जरूरी है. ऐसे में आपको बता दें कि अगर आप रात के वक्‍त भी रूम हीटर ऑन कर सोते हैं तो ये आग लगने या सुरक्षा की हिसाब से तो खतरनाक है ही, सेहत को भी नुकसान पहुंचा सकता है.

क्‍यों है खतरनाक रूम हीटर
हेल्‍थशॉट के मुताबिक, दरअसल, जब आप रातभर रूम हीटर ऑन कर सोते हैं तो इससे हवा में कार्बन मोनोऑक्‍साइड का स्‍तर बढ़ने लगता है, जो हमारी सेहत के लिए घातक बन सकता है. इसके अलावा भी कई अन्‍य कारण हैं जिससे बचने के लिए रात के वक्‍त रूम हीटर का इस्‍तेमाल करने से बचना चाहिए. आइए जानते हैं कि रात के वक्‍त रूम हीटर का इस्‍तेमाल क्‍यों खतरनाक होता है.

इसे भी पढ़ें : ज्यादा नमक खाना ब्रेन के लिए खतरनाक, इन बीमारियों को हो सकते हैं शिकार
 

टॉक्सिक एयर क्‍वालिटी
अगर रूम में पर्याप्‍त वेंटिलेशन नही है और आप रूम हीटर लंबे समय से चला रहे हैं तो कई हीटर हवा में कार्बन मोनो ऑक्‍साइड की मात्रा को बढ़ाने लगते हैं. जिस वजह से रूम एयर क्‍वालिटी टॉक्सिक होने लगती है. यह कई बार अस्‍थमा जैसी बीमारियों को ट्रिगर करने का काम करता है.

इम्‍यूनिटी को करता है प्रभावित
अगर आप रूम के अंदर की हवा को गर्म कर दिए हैं और बार बार रूम के बाहर आ जा रहे हैं तो इससे शरीर का तापमान फ्लक्चुएट करता है जिससे इम्‍यूनिटी कमजोर हो जाती है. जिस कारण सर्द गर्म या फ्लू भी हो सकता है.

यह भी पढ़ें- कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने के लिए इन बीजों का करें सेवन, जानें आयुर्वेदिक तरीका

कंजक्टिवाइटिस
दरअसल जब रूम हीटर लंबे समय तक चलता है तो इससे रूम की नमी घटने लगती है और हवा ड्राई हो जाती है. जिस वजह से आंखों में इरिटेशन शुरू होता है और आंखों में संक्रमण होने से ये कंजक्टिवाइटिस का रूप ले लेता है.

स्किन इरिटेशन
हवा से नमी गायब होने की वजह से स्किन ड्राई होने लगते  हैं. जिस वजह से खुजली, इरिटेशन, जलन, संक्रमण की समस्‍या हो सकती है. यही नहीं, हीटर की वजह से स्किन पर कई तरह के संक्रमण हो सकते हैं.

Tags: Health, Lifestyle, Winter

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें