इन 7 हर्ब्स से बनाएं बेहतरीन हर्बल टी, स्‍वाद के साथ सेहत भी रहेगी दुरुस्त

पिपरमिंट टी रिफ्रेशिंग होने के साथ पाचनतंत्र को भी ठीक रखती है. Image Credit : Pexels/freestocks.org

पिपरमिंट टी रिफ्रेशिंग होने के साथ पाचनतंत्र को भी ठीक रखती है. Image Credit : Pexels/freestocks.org

Herbal Tea: अभी तक अगर आप दूध वाली चाय ही पीते आ रहे हैं तो हम यहां आपको बता रहे हैं कि आप अपनी सेहत (Health) और स्‍वाद (Taste) को ध्‍यान में रखते हुए किस तरह अलग अलग स्‍वाद वाली हर्बल टी (Herbal Tea) बना सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2021, 6:42 AM IST
  • Share this:
हमारे देश में सुबह-शाम चाय (Tea) पीने वालों की संख्‍या बहुत अधिक है. यहां बड़ी संख्‍या में ऐसे लोग दिख जाएंगे जो एक दिन भी चाय के बिना नहीं रह सकते. अगर आप भी चाय पीने के बेहद शौकीन हैं और अभी तक दूध वाली चाय (Milk Tea) ही पीते आ रहे हैं तो हम यहां आपको बता रहे हैं कि आप अपनी सेहत और स्‍वाद को ध्‍यान में रखते हुए किस तरह अलग अलग स्‍वाद वाली हर्बल टी (Herbal Tea) बना सकते हैं. औषधीय गुणों से भरपूर और कई फ्लेवर वाली हर्बल टी स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद मानी जाती है. इसे पीकर आप दिन भर एनर्जी से भरपूर रहेंगे और आपके शरीर को नुकसान भी नहीं पहुंचेगा. आइए जानते हैं कि किन चीजों से आप बेहतरीन हर्बल टी बना सकते हैं.

1.पिपरमिंट टी

कई लोग हर्बल टी का सेवन स्‍वास्‍थ लाभ के लिए करते हैं लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं जो स्‍वाद और फ्लेवर के शौकीन हैं और उन्‍हें चाय के साथ एक्‍सपेरिमेंट करना अच्‍छा लगता है. ऐसे में पिपरमिंट टी लोगों को खास पसंद आती है. इसे आप घर पर आसानी से गमले में भी उगा सकते हैं और फ्रेश टी का मजा ले सकते हैं. यह रिफ्रेशिंग होने के साथ हमारे शरीर के पाचनतंत्र को भी ठीक रखती है. इसमें मौजूद मिंथॉल हमारे शरीर के मसल्‍स को रिलैक्‍स करता है. यह गले की खराश को भी सूदिंग इफेक्‍ट देता है. इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट शरीर को कई तरह की बीमारियों और बैक्‍टेरिया से बचाता है. इसकी ताजा पत्तियों को गर्म पानी में डालकर 4 से 5 मिनट तक उबालें और इसे गर्मागर्म चाय की तरह पिएं. अगर आप रात में सोने से पहले इसे पीते हैं तो आपको नींद भी अच्‍छी आएगी.

2.सौंफ की चाय
सौंफ की चाय भी आपके पाचनतंत्र के लिए रामबाण है. यह शरीर में कोलेस्‍ट्रोल को नियंत्रित रख सकती है और इम्‍यूनिटी को बूस्‍ट करती है. एंटीऑक्‍सीडेंट गुण के कारण यह शरीर को कई बीमारियों से बचा सकती है. एंटी एनएक्‍सटी प्रॉपर्टी की वजह से ये शरीर के नर्व को भी शांत रखती है. महिलाओं में पीरिएड या अन्‍य वजहों से पेट में होने वाले दर्द और क्रैम्‍प को भी यह ठीक कर सकती है.

इसे भी पढ़ें : Detox Water: अपनी डेली लाइफ में शामिल करें डिटॉक्स वॉटर, मिलेंगे कई फायदे

 






3.जिंजर टी

पाचनतंत्र को इम्‍प्रूव करने में जिंजर टी बहुत फायदेमंद है. यह नेचुरल ब्‍लड थिनर का काम करती है.एंटी ऑक्‍सीडेंट गुण की वजह से यह इम्‍यूनिटी को भी मजबूत बनाकर रखती है. जिन लोगों को भूख कम लगती हो, वे इसका सेवन कर अपनी भूख बढ़ा सकते हैं.

4.रोजमेरी टी

आयरन, कैल्शियम और विटामिन बी 6 का यह अच्‍छा सोर्स है जो शरीर को हेल्‍दी रखने और ब्‍लड सर्कुलेशन ठीक रखने में बहुत मदद करता है. मेमोरी बढ़ाने में भी यह बहुत ही कारगर सिद्ध हुई है.

5.तुलसी टी

यह खांसी, सर्दी, जुकाम को तो ठीक करने का काम करती ही है, शरीर के इम्‍यूनिटी को भी बूस्‍ट करती है. एक शोध के मुताबिक, इसके रेग्‍युलर प्रयोग से शुगर लेबल भी कंट्रोल में रह सकता है.

इसे भी पढ़ें : चेहरे की तरह आपकी बॉडी पर भी होते हैं पिम्‍पल्‍स? जानें इसके कारण और उपाय, मिलेगा छुटकारा

6.रोज टी

गुलाब के पत्तों से बनने वाली इस चाय का सेवन करने से चेहरे पर निखार आता है और पेट की परेशानियां खत्म होती हैं. यह विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन बी 3 और विटामिन डी का अच्‍छा सोर्स है जो सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है.

7.ग्रीन टी

ग्रीन टी के रेग्‍युलर प्रयोग से आप अपना वजन कम कर सकते हैं. इसे नियमित रूप से पीने पर बुढ़ापा जल्दी नहीं आता. यही नहीं, ग्रीन टी डायबिटीज, कैंसर और दिल से जुड़े रोगों के रिस्क को भी कम करती है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज