होम /न्यूज /जीवन शैली /Acidity की वजह सुबह की गई ये गलती तो नहीं? आज ही सुधार लें ये आदत

Acidity की वजह सुबह की गई ये गलती तो नहीं? आज ही सुधार लें ये आदत

लूज मोशन से निजात दिला सकता है जीरा.

लूज मोशन से निजात दिला सकता है जीरा.

Health News: हर व्यक्ति कभी न कभी एसिडिटी (Acidity) की समस्या का सामना करता है. यह पाचन तंत्र से जुड़ी एक कॉमन समस्या ह ...अधिक पढ़ें

Acidity Home Remedies: एसिडिटी (Acidity) की समस्या से हर किसी को कभी न कभी दो-चार होना ही पड़ता है. आमतौर पर ज्यादा मसालेदार या तला-गला खाने की वजह से एसिडिटी की समस्या हो जाती है. हालांकि लगातार एसिडिटी की समस्या बनी रहने पर ये पेट संबंधी गंभीर बीमारियों को भी पैदा कर सकती है. कई बार हमारी छोटी-छोटी गलतियां भी एसिडिटी पैदा होने की वजह बनती है. सुबह उठकर चाय पीने की आदत सभी लोगों की होती है. यही आदत एसिडिटी का कारण भी बन सकती है. खाली पेट चाय पीने वाले लोगों को एसिडिटी होने की आशंका ज्यादा रहती है. ऐसे में खाली पेट चाय पीने से बचना चाहिए.

खाली पेट चाय पीना ऐसे पहुंचाता है नुकसान
बहुत कम लोग ऐसे होंगे जो कि सुबह उठकर चाय नहीं पीते होंगे. इनमें से भी ज्यादातर लोग सुबह उठते ही खाली पेट सीधे चाय पीने के ही आदी होंगे. लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपकी ये आदत अनजाने में ही आपके लिए एसिडिटी की समस्या पैदा कर सकती है. दरअसल, खाली पेट चाय पीने से बाइल जूस प्रभावित होता है और इससे पेट में एसिडिटी बनने के साथ ही जी मचलना और मितली आने जैसी शिकायतें पैदा हो सकती हैं.

इसे भी पढ़ें: कैल्शियम की कमी दूर करने के लिए डाइट में शामिल करें ये 8 कैल्शियम रिच फूड्स

इसके साथ ही सुबह की चाय पीने से आयरन की कमी की शिकायत भी पैदा हो सकती है. बता दें कि एसिडिटी बढ़ने पर पेट में जलन और खट्टी डकारों जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है. लगातार एसिडिटी बने रहने से ये परेशानी गेस्ट्रो इसोफेगल डिजीज में तब्दील हो सकती है.

एसिडिटी से इस तरह बचें
– टमाटर में क्षार की मात्रा अधिक होती है, ऐसे में इसका नियमित सेवन एसिडिटी में फायदा करता है.
– नियमित अनानास का रस पीने से एसिडिटी में आराम मिलता है.
– खाना खाने के बाद टहलना एसिडिटी बनने से रोकता है.

इसे भी पढ़ें: गर्मियों में इस वजह से नहीं खाना चाहिए सूखे बादाम, जानें खाने का सही तरीका
– सुबह उठकर नियमित 2-3 गिलास ठंडा पानी पीने से भी एसिडिट बनना बंद हो जाती है.
– अनार और आंवला को छोड़कर अन्य खट्टे फलों को खाने से बचें.
– ब्रेकफास्ट में पपीते का नियमित सेवन एसिडिटी की समस्या को दूर करने में मदद करता है.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से
संपर्क करें)

Tags: Health, Health News, Lifestyle

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें