होम /न्यूज /जीवन शैली /

सिर्फ यौन शक्ति बढ़ाने में ही नहीं, कई बीमारियों को रोकने में भी सक्षम है केसर

सिर्फ यौन शक्ति बढ़ाने में ही नहीं, कई बीमारियों को रोकने में भी सक्षम है केसर

आयुर्वेद में केसर को पूरे शरीर को स्वस्थ्य रखने का बेहतरीन औषधि माना जाता है. (Image : Shutterstock)

आयुर्वेद में केसर को पूरे शरीर को स्वस्थ्य रखने का बेहतरीन औषधि माना जाता है. (Image : Shutterstock)

Health benefits of saffron: केसर प्राकृतिक कामोत्तेजक खाद्य पदार्थ है. ज्यादातर लोग इसे यौन शक्तिवर्धक दवा के रूप में इस्तेमाल करते हैं, लेकिन केसर के कई स्वास्थ्य फायदे हैं. केसर दुनिया का सबसे महंगा मसाला है. आयुर्वेद में तो केसर को पूरे शरीर को स्वस्थ्य रखने का बेहतरीन औषधि माना जाता है. आमतौर पर इसका इस्तेमाल दूध और दूध से बने रेसिपी में किया जाता है. केसर में इतने तरह के एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं कि यह शरीर की प्रत्येक कोशिकाओं को बाहरी हमले से बचाता है.

अधिक पढ़ें ...

    Saffron protect from diseases: केसर दुनिया का सबसे महंगा मसाला है. एक तरह से केसर (saffron) दुर्लभ मसाला है क्योंकि यह बहुत कम जगहों पर पाया जाता है. इसके अलावा केसर को अंतिम रूप देने का प्रोसेसिंग बहुत कठिन है जिसमें बिना मशीन सिर्फ हाथ से ही पूरी प्रक्रिया अपनाई जाती है. इतना दुर्लभ मसाला होने के कारण केसर में औषधीय गुण भी अद्भुत है. केसर को सनसाइन स्पाइस (sunshine spice) भी कहा जाता है. आयुर्वेद में केसर को पूरे शरीर को स्वस्थ्य रखने का बेहतरीन औषधि माना जाता है. आमतौर पर इसका इस्तेमाल दूध और दूध से बने रेसिपी में किया जाता है. केसर को लोग यौन शक्ति बढ़ाने की दवा मानता है, लेकिन केसर के अनेक फायदे हैं. हेल्थलाइन की खबर के मुताबिक केसर में इतने तरह के एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं कि यह शरीर की प्रत्येक कोशिकाओं को बाहरी हमले से बचाता है. केसर में मौजूद कुछ एंटीऑक्सीडेंट्स के नाम हैं – क्रोसिन (crocin), क्रोसेटीन (crocetin), सेफ्रानल (safranal),और केम्फेरॉल (kaempferol). केसर में मौजूद ये एंटीऑक्सीडेंट्स सेल्स में फ्री रेडिकल्स को बनने नहीं देते, जिससे कोशिकाएं क्षतिग्रस्त नहीं होती.

    केसर के अनेक फायदे

    इसे भी पढ़ेंः दूध के साथ खाएंगे जलेबी तो स्वाद ही नहीं सेहत में भी आने लगेगा निखार!

    एंटीडिप्रेशन
    केसर सबसे बड़ा एंटीडिप्रेशन औषधि है. यह मूड को बेहतर बनाने में बहुत फायदेमंद है. एक अध्ययन में पाया गया था कि केसर दवाओं की तुलना में डिप्रेशन को बेहतर तरीके से ठीक करता है. एक अन्य अध्ययन में पाया गया है कि 30 मिलीग्राम केसर में वही असर होता है जो डिप्रेशन की दवा फ्लूक्सेटाइन (Fluoxetine), इमीप्रामाइन (Imipramine), या सिटाप्राम (Citalopram) लेने से होता है. हालांकि केसर का ज्यादा सेवन भी बहुत हानिकारक होता है.

    कैंसर से लड़ने में मददगार
    केसर में उच्च मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं. क्रोसिन, कोलोरेक्टल जैसे एंटीऑक्सीडेंट्स के कारण केसर कैंसर के सेल्स को बढ़ने से रोकता है. केसर का सेवन करने से सबसे ज्यादा प्रभाव प्रोस्टेट और स्किन कैंसर पर पड़ता है.एक अध्ययन में पाया गया है कि केसर कोलोन कैंसर की कोशिकाओं को मारने में सक्षम है.

    इसे भी पढ़ेंः बीपी, डायबिटीज में बेहद काम की चीज है शकरकंद, जानिए इसके फायदे

    सर्दी में फायदेमंद
    सर्दी, बुखार और जुखाम से छुटकारा पाने के लिए केसर बहुत लाभदायक है. गर्म दूध में चुटकी भर केसर और शहद मिलाकर इसका सेवन करना चाहिए. इसके सेवन से आपको कुछ देर में फर्क नजर आएगा.

    अर्थराइटिस से निजात दिलाए
    गठिया (arthritis) की समस्या से निजात पाने के लिए केसर का इस्तेमाल कर सकते है. इसमें पाए जाने वाला क्रोसेटिन शरीर की सूजन को कम करने में मदद करता है. इसके अलावा आप केसर की पत्तियों का पेस्ट बनाकर इसे जोड़ों पर लगाए जिससे इसमे आराम मिलेगा.

    स्किन में चमक लाता है केसर
    चेहरे पर चमक लाने के लिए केसर बहुत लाभकारी है. केसर और चंदन के मिश्रण को दूध में मिलाकर फेस पैक तैयार करें. इस पैक को 20 मिनट चेहरे पर लगाएं और बाद में गुनगुने पानी से धोएं.

    सिरदर्द में राहत
    सिरदर्द (headache) से परेशान हैं तो घी में केसर और चीनी डालकर इसे पका लें. इसके बाद इस घी की 1-2 बूंद नाम के में डाल लें. इससे आपको सिरदर्द में जल्दी लाभ मिलेगा.

    यौन शक्ति बढ़ाने में मददगार
    केसर को सबसे ज्यादा यौन शक्ति बढ़ाने में इस्तेमाल किया जाता है. इसे प्राकृतिक कामोत्तेजक खाद्द पदार्थ माना जाता है. केसर में कामोत्तेजक गुण होता है. 30 मिलीग्राम केसर को अगर चार सप्ताह तक रोजाना लिया जाए, तो इससे इरेक्टाइल डिसफंक्शन भी सही हो सकता है. कई अध्यनों में यह साबित हो चुका है कि केसर का सेवन काम की इच्छा को बढ़ाता है.

    Tags: Health, Lifestyle

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर