Home /News /lifestyle /

Arjun Bark Benefits: दिल संबंधी रोगों में 'रामबाण' औषधि है अर्जुन की छाल, जानें फायदे और उपयोग का सही तरीका

Arjun Bark Benefits: दिल संबंधी रोगों में 'रामबाण' औषधि है अर्जुन की छाल, जानें फायदे और उपयोग का सही तरीका

अर्जुन की छाल का उपयोग दिल संबंधी बीमारियों के इलाज में किया जाता है.

अर्जुन की छाल का उपयोग दिल संबंधी बीमारियों के इलाज में किया जाता है.

Arjun Bark Benefits: अर्जुन का वृक्ष (Arjun Tree) औषधीय वृक्ष माना जाता है. इस पेड़ के फूल, पत्तों से लेकर हर हिस्सा औषधि के तौर पर काम आता है. अर्जुन की छाल (Arjun ki Chhal) तो दिल संबंधी बीमारियों के इलाज के लिए 'रामबाण औषधि' मानी जाती है. आइए जानते हैं अर्जुन की छाल (Arjun Bark) के फायदे और उसके उपयोग का सही तरीका.

अधिक पढ़ें ...

Arjun Bark Benefits: अर्जुन की छाल (Arjun Bark) का उपयोग आयुर्वेद में औषधि के तौर पर किया जाता है. वैसे तो अर्जुन का वृक्ष (Arjun Tree) पूरा ही औषधीय गुणों से भरपूर होता है, यही वजह है कि इसका ऋग्वेद में भी उल्लेख मिलता है. अर्जुन की छाल (Arjun ki Chhal) शरीर की कई बीमारियों को दूर करने में मददगार होती है, लेकिन दिल संबंधी बीमारियों में अर्जुन की छाल का उपयोग ‘रामबाण’ की तरह कार्य कर सकता है. हार्ट स्ट्रोक, हार्ट अटैक और हार्ट फैलियर जैसी कई बीमारियों में अर्जुन की छाल के उपयोग और उसके फायदे को लेकर भी अब तक कई स्टडीज़ हो चुकी हैं.
हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग हमारा हार्ट होता है. myupchar की खबर के अनुसार सही तरीके से अर्जुन की छाल का सेवन करने से दिल संबंधी बीमारियों में काफी फायदा मिलता है. इसके सेवन से दिल को मजबूती मिलती है. अर्जुन के पेड़ की छाल को काढ़ा, चूर्ण, क्षीर पाक और अरिष्ट के तौर पर दिया जाता है.

अर्जुन की छाल खाने के तरीके
– अर्जुन की छाल का पाउडर खाना खाने से पहले पानी में मिलाकर दिन में 1 या 2 बार लिया जा सकता है. इसे 50एमल की खुलाक में पिया जा सकता है.
– दूध में मिलाकर भी अर्जुन छाल के पाउडर का सेवन किया जा सकता है.
– अर्जुन की छाल से बने कैप्सूल भी बाजार में आसानी से उपलब्ध हैं. इनका भी प्रयोग किया जा सकता है.
– 2 कप पानी में 1 चम्मच अर्जुन छाल का पाउडर डालकर उबालें. जब पानी उबलकर आधा रह जाए तो उसे छानकर गर्मागर्म पिएं.

इसे भी पढ़ें: सर्दियों में जोड़ों के दर्द से हैं परेशान तो राहत के लिए डाइट में शामिल करें ये 5 चीजें

दिल की बीमारियों में है फायदेमंद
अगर आप हृदय संबंधी बीमारियों का सामना कर रहे हैं तो इसके इलाज के लिए अर्जुन की छाल का सेवन फायदेमंद हो सकता है. अर्जुन की छाल सभी तरह की दिल संबंधी बीमारियों में फायदा करती है. अगर आपके दिल की धड़कने अनियमित हैं तो अर्जुन छाल का सेवन काफी लाभ पहुंचा सकता है. यह दिल की सूजन को दूर करने में भी मदद करती है. दिल को मजबूत करने के लिए भी अर्जुन की छाल का सेवन किया जाता है.

इसे भी पढ़ें: ये लक्षण अगर नज़र आ रहे हैं तो हो सकती है विटामिन B12 की कमी

अर्जुन की छाल का सेवन स्ट्रोक के खतरे को कम करता है. जंगली प्याज और अर्जुन की छाल को समान मात्रा लेकर तैयार चूर्ण को रोजाना 1 चम्मच दूध के साथ लेने से दिल संबंधी बीमारियों में राहत मिलती है और ये हार्ट की मांसपेशियों को भी मजबूत बनाती है. यह हार्ट ब्लॉकेज होने की सूरत में भी फायदा करती है.
इसके साथ ही हार्ट पेशेंट्स के लिए अर्जुनारिष्ट का सेवन भी बहुत फायदेमंद माना जाता है. खाने के बाद 2 बड़े चम्मच (लगभग 20 एमएल) अर्जूनारिष्ट आधा कप पानी में डालकर 2 से 3 महीने तक सेवन करने से भी हृद्य को बल मिलता है और रक्त में शुद्धता आती है.

Tags: Health, Health News, Lifestyle

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर