Home /News /lifestyle /

ओमिक्रोन को मात देने के लिए हल्दी, तुलसी और काली मिर्च का इस तरह करें सेवन

ओमिक्रोन को मात देने के लिए हल्दी, तुलसी और काली मिर्च का इस तरह करें सेवन

तुलसी, हल्दी और काली मिर्च में भरपूर मात्रा में एंटी-वायरल गुण मौजूद होते हैं.

तुलसी, हल्दी और काली मिर्च में भरपूर मात्रा में एंटी-वायरल गुण मौजूद होते हैं.

Ayurvedic Immunity Booster For Omicron: कोरोना के अन्‍य वैरिएंट की तरह ही ओमिक्रोन (Omicron) से बचाव के लिए भी इम्‍यूनिटी (Immunity) को बूस्‍ट करना बहुत जरूरी माना जा रहा है. एक तरफ जहां वायरस तेजी से फैल रहा है, वहीं दूसरी तरफ इम्‍यूनिटी को स्‍ट्रॉन्‍ग रखकर हम खुद को बचाए रख सकते हैं. ऐसे में कुछ घरेलू और आयुर्वेदिक (Ayurvedic) चीजें हैं जिन्‍हें इम्‍यूनिटी को बूस्ट करने के लिए काफी फायदेमंद माना जा रहा है. इन चीजों में तुलसी के पत्‍ते, हल्‍दी और काली मिर्च शामिल हैं. इन तीनों चीजों में भरपूर मात्रा में एंटी-वायरल, एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो हर तरह से इम्‍यूनिटी को बढ़ाए रखने में हमारी मदद करते हैं.

अधिक पढ़ें ...

Ayurvedic Immunity Booster For Omicron : कोरोना (Corona) की तीसरी लहर में ओमीक्रोन (Omicron) वेरिएंट काफी तेजी से फैल रहा है. कोरोना के अन्‍य वेरिएंट की तरह ही ओमीक्रोन से बचाव के लिए भी इम्‍यूनिटी (Immunity) बूस्‍ट रखना बहुत जरूरी माना जा रहा है. शरीर की इम्‍यूनिटी स्‍ट्रॉन्‍ग होने पर किसी भी तरह के वायरस से लड़ने और बीमारियों से बचाव में ये सबसे बड़ा हथियार साबित हो रहा है. एक तरफ जहां वायरस तेजी से फैल रहा है वहीं दूसरी तरह खुद की इम्‍यूनिटी स्‍ट्रॉन्‍ग रखकर हम खुद को बचाए रख सकते हैं. ऐसे में कुछ घरेलू और आयुर्वेदिक (Ayurvedic Immunity Booster) चीजें हैं जिन्‍हें इम्‍यूनिटी बूस्‍ट रखने के लिए काफी फायदेमंद माना जा रहा है.  इन चीजों में तुलसी के पत्‍ते, हल्‍दी और काली मिर्च काफी काम आ रही है. तो आइए जानते हैं इनके बारे में.

क्यों करना चाहिए तुलसी, हल्दी और काली मिर्च का सेवन

तुलसी, हल्दी और काली मिर्च में भरपूर मात्रा में एंटी-वायरल, एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं. ये खांसी, सर्दी, बुखार आदि को दूर रखने के अलावा, शरीर में किसी तरह के सूजन आदि को कम करने का काम करते हैं. इसके अलावा अगर कहीं कुछ समस्‍या है तो उन्‍हें हील करने में भी ये काफी काम के हैं. इनके सेवन से शरीर में दर्द, पाचन की समस्‍या, थकान आदि को भी दूर करने में सहायक है. इनमें एंटीऑक्सीडेंट्स गुण भी होते हैं और भरपूर मात्रा में पोषक तत्व होते हैं. ये सारी चीजें कोरोना के हर तरह के वेरिएंट से लेकर सिजनल बीमारियों को भी दूर रखने का काम करते हैं.

तुलसी के पत्तों के गुण

तुलसी के पत्तों में कैम्फीन, सिनेऑल और यूजेनॉल मौजूद होते हैं जो बैक्टीरिया और वायरस संक्रमण से लेकर आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने का काम करते हैं. ऐसे में आप अगर तुलसी का काढ़ा, चाय या घरेलू उपचार में शामिल करें तो यह कई तरह से शरीर को बीमारियों से बचाने में मदद करती है.

इसे भी पढ़ें : फायदा ही नहीं नुकसान भी पहुंचा सकती है हल्‍दी, इन लोगों को भूलकर भी नहीं करना चाहिए इसका सेवन

काली मिर्च के गुण

काली मिर्च के सेवन से बुखार, सर्दी-खांसी और संक्रमण को दूर किया जा सकता है. काली मिर्च में कुछ ऐसे गुण मौजूद होते हैं जो चयापचय, आंत के स्वास्थ्य और मस्तिष्क के काम करने की क्षमता में सुधार करने का काम करते हैं.

हल्दी के गुण

हल्‍दी में करक्यूमिन नाम का एक एक्टिव कंपोनेंट मौजूद होता है जो दर्द और घावों को भरने का काम करता है. चयापचय और प्रतिरक्षा में सुधार करने के लिए भी करक्यूमिन अहम भूमिका निभा सकता है. अगर आप हल्दी दूध में मिलाकर इसका सेवन करें तो इसके अन्‍य फायदे भी मिलते हैं. मसलन, स्लीप डिसऑर्डर के साथ फ्लू की समस्या से भी राहत मिलती है.

इसे भी पढ़ें : विंटर फ्रूट्स को और अधिक हेल्‍दी बनाने के लिए जरूर ट्राई करें ये हैक्‍स, डाइट में रोज करेंगे इस्‍तेमाल

इम्‍यूनिटी बढ़ाने के लिए इस तरह करें इनका सेवन

आप एक गिलास पानी को उबालें और इसमें 5 से 6 तुलसी की पत्तियां, 2 चुटकी काली मिर्च और एक टुकड़ा कूचा हुआ हल्‍दी मिलाकर उबालें. जब पानी आधा हो जाए तो इसमें शहद मिलाकर चाय की तरह पिएं. अगर मीठा पसंद नहीं है तो आप इसमें स्‍वादानुसार काला नमक और नींबू डालकर भी पी सकते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Corona, Home Remedies, Lifestyle, Omicron

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर