Home /News /lifestyle /

health news benefits of drumsticks its leaves and flowers shahjan ke phool patti aur phal ke fayde pra

हमेशा जवां रहने के लिए डाइट में शामिल करें सहजन, इसकी पत्तियों, फूल के सेवन से कई बीमारियां रहती हैं दूर

सहजन की पत्तियों और फूल में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट पाया जाता है.

सहजन की पत्तियों और फूल में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट पाया जाता है.

गर्मी का मौसम आते ही कई घरों में सहजन की सब्जियां लोग बड़े शौक से खाते हैं. सहजन की फली स्‍वाद में जितनी लजीज होती है सेहत के लिए भी ये काफी फायदेमंद है. इनमें भरपूर मात्रा में एंटी एजिंग, एंटी रिंकल, एंटीफंगल, एंटीवायरल, एंटी डिप्रेसेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो हेल्‍दी शरीर के साथ-साथ स्किन को भी यंग रखता है.

अधिक पढ़ें ...

गर्मी का मौसम आते ही कई घरों में सहजन (Drumstick) की सब्जियां लोग बड़े चाव से खाते हैं. सहजन की फली स्‍वाद में जितनी लजीज होती है सेहत के लिए भी ये काफी फायदेमंद है. सहजन की फली के अलावा, अगर आप इसके फूल और पत्तियों की बात करें तो इन्‍हें भी सेहत के लिए काफी गुणकारी माना जाता है. आपके घरों में भी दादी और नानी ने अक्‍सर इसके कई औषधीय गुणों के बारे में बताया होगा और आयुर्वेद में इसके उपयोग की भी जानकारी दी होगी. अगर नेटमेड्स की बात करें तो इनमें भरपूर मात्रा में एंटी एजिंग, एंटी रिंकल, एंटीफंगल, एंटीवायरल, एंटी डिप्रेसेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो हेल्‍दी शरीर के साथ साथ स्किन को भी यंग रखता है. इसके अलावा इसकी पत्तियों में भरपूर मात्रा में कैल्शियम, आयरन, जिंक, सेलेनियम, मैग्‍नेशियम, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन सी आदि पाया जाता है. तो आइए जानते हैं कि इनके हेल्‍थ बेनेफिट्स के बारे में.

सहजन की पत्तियों और फूल के फायदे
-सहजन की पत्तियों और इसके फूल में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट पाया जाता है जो शरीर को कई तरह की बीमारियों और उसकी क्षति से बचाता है.
– सहजन की पत्तियों के सेवन से स्किन पर एजिंग, रिंकल आदि की समस्‍या दूर होती है और स्किन यूथफुल रहता है.
-सहजन की पत्तियों को पेस्‍ट कर अगर पिंपल्‍स पर लगाया जाए तो ये जड़ से खत्‍म होते हैं और स्किन क्‍लीन दिखती है.

इसे भी पढ़ें: Side Effects of Turmeric: ज्यादा हल्दी का सेवन नुकसान भी पहुंचा सकता है, जानिए कारण

– सहजन की पत्तियों के सेवन से शरीर में ब्‍लड ऑक्‍सीडेंट लेवल में भी सुधार होता है.
– सहजन की पत्तियों में विटामिन बी कॉम्‍प्‍लेक्‍स, सी, के, कैल्शियक, आयरन, जिंक, मैग्‍नेशियम, मैगनीज और बीटा केरोटीन पाया जाता है.
-सहजन के सेवन से पुरुषों की फर्टीलिटी में सुधार होता है.
– सहजन की पत्तियों में डायटरी फायबर और प्रोटीन भी अच्‍छी मात्रा में पाया जाता है.
-पेट दर्द या पेट से जुड़ी गैस, अपच और कब्ज़ जैसी समस्‍याओं में सहजन के फूलों का रस पीएं. आप इसकी सब्जी या सूप पीकर सकते हैं.
– आंखों की रोशनी कम हो रही है तो सहजन की पत्तियां और फूल की बनी सब्‍जी का सेवन करें.
-छोटे बच्चों के पेट में यदि कीड़े हो तो उन्हें सहजन के पत्तों का रस देना चाहिए.
-कान के दर्द को दूर करने में भी सहजन की ताजी पत्तियों के रस का इस्‍तेमाल किया जाता है.

सहजन खाने के फायदे
-सहजन आपकी इम्यूनिटी को बढ़ाने में भी मदद करता है.
– शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में भी सहजन काफी उपयोगी होता है.
-कैल्‍श‍ियम में भरपूर होने की वजह से साइटिका, गठिया में सहजन का उपयोग बहुत ही फायदेमंद होता है.
-सुपाच्‍य होने की वजह से सहजन लि‍वर को स्वस्थ रखने में भी ये बहुत कारगर होता है.
-पेट दर्द या पेट से जुड़ी गैस, अपच और कब्ज़ जैसी समस्‍याओं में सहजन के फूलों का रस पीएं या इसकी सब्जी खाएं या इसका सूप पीएं. ज्यादा फायदा चाहिए तो दाल में डालकर पकाएं.

इसे भी पढ़ें: बस 10 आसान तरीकों को अपनाकर कर सकते हैं मेटाबॉलिज्म मजबूत

-आंखों के लिए भी सहजन फायदेमंद होता है..
-जिन्हें पथरी की समस्या है उन्हें सहजन की सब्जी और सहजन का सूप जरूर पीना चाहिए.
-दिल की बीमारी में भी यह बहुत फायदेमंद होता है.
-सहजल कोलेस्ट्रॉल कम करता है. हालांकि अगर आप किसी सेहत से जुड़ी समस्‍या से जूझ रहे हैं तो पहले अपने डॉक्‍टर की सलाज जरूर लें.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle, Summer Food

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर