तनाव कम करने के लिए मेडिटेशन है सबसे ज्यादा कारगर

जो लोग मेडिटेशन करते हैं उन्‍हें अच्छी नींद आती है.Image Credit : Pixabay

जो लोग मेडिटेशन करते हैं उन्‍हें अच्छी नींद आती है.Image Credit : Pixabay

अगर आप रोज कुछ मिनट के लिए भी मेडिटेशन (Meditation) के लिए समय निकालते हैं तो यह आपको दिनभर के तनाव (Stress) और चिंता (Tension) से दूर रखने में आपकी मदद करता है. यह आपको स्थिर भी बनाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 21, 2021, 11:05 AM IST
  • Share this:
Benefits Of Meditation: अगर आप लगातार कई दिनों से तनाव (Stress) में हैं और इससे उबरने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं तो मेडिटेशन (Meditation) की मदद आपको जरूर लेनी चाहिए. अगर आप रोज कुछ मिनट के लिए भी मेडिटेशन के लिए समय निकालते हैं तो यह आपको दिनभर के तनाव और चिंता से दूर रखने में आपकी मदद करता है. यह आपको स्थिर तो बनाता हीं है आपको आत्‍म शांति भी देता है.इन्‍हीं गुणों के कारण दुनियाभर में मेडिटेशन की लोकप्रियता तेजी से बढ़ी है और लोग दिनभर में कुछ मिनट योग और ध्‍यान को दे रहे हैं. मेडिटेशन की खास बात यह भी है कि इसे करने के लिए आपको किसी चीज की जरूरत नहीं पड़ती. आप इसे कहीं भी बैठकर या लेटकर कर सकते है. आप इसे पब्लिक ट्रांसपोर्ट में ट्रैवल करते, अस्‍पताल के बेड पर लेटकर, दफ्तर की चेयर पर या घर में सोफे पर बैठकर भी कर सकते हैं. मायोक्‍लीनिक के मुताबिक, रेग्‍युलर मेडिटेशन की मदद से एन्‍जाइटी, अस्‍थमा, कैंसर, क्रॉनिक पेन, डिप्रेशन, हार्ट डिजीज, हाई ब्‍लड प्रेशर, बॉवल सिन्‍ड्रॉम, स्‍लीप डिसऑर्डर, टेंशन, सिर में दर्द आदि में काफी फायदा मिलता है.

जानें इसके फायदे

1.स्‍ट्रेस को करता है कम

दिनभर के स्‍ट्रेस को कम करने के लिए मेडिटेशन काफी काम की चीज है. मानसिक और शारिरिक तनाव बढ़ने और घटने की वजह दरअसल शरीर में हार्मोन के स्तर में बदलाव को माना जाता है. तनाव की वजह से ही नींद ना आना, उदासी, चिंता और रक्तचाप आदि की समस्‍या होती है. लेकिन मेडिटेशन से तनाव के लक्षण को कम किया जा सकता है और इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम, स्ट्रेस डिसऑर्डर आदि ठीक किया जा सकता है.
2.टेंशन को करता है कम

मेडिटेशन करने से फोबिया और घबड़ाहट के दौरे आदि कंट्रोल में रहते हैं जो दरअसल टेंशन के लक्षण हैं. मेडिटेशन करने से सकारात्‍मकता हमारे अंदर प्रवेश करती है और हमारे अंदर ना होने की चिंता को दूर करती है.

इसे भी पढ़ें : Painting For Mental Health: मेंटल हेल्‍थ को रखना है दुरुस्‍त तो बने रहें क्रिएटिव, कोरोना काल में पेंटिंग की लें मदद







3.बढ़ाता है कॉन्फिडेंस

अगर आप खुद पर से कॉन्फिडेंस खाते जा रहे हैं और हर वक्‍त अनिश्चितता में रहते हैं तो मेडिटेशन करें. ये आपको मजबूत बनाने में मदद करता है. इसकी मदद से आप आत्‍म जागरुक भी बन पाते हैं.

4.स्‍लीप डिसऑडर में सुधार

ज्यादातर लोग नींद न आने की वजह से काफी परेशान रहते हैं. एक अध्ययन के मुताबिक, जो लोग मेडिटेशन करते हैं उन्‍हें अच्छी नींद आती है. कई बार हम जीवन के भागदौर और प्रतियोगिता की वजह से हर वक्‍त हड़बड़ी और चिंता में रहते हैं जबकि मेडिटेशन आपको ऐसे विचारों से उबारती है और आपको स्थिर बनाती है जिससे आप अच्‍छी नींद ले पाते हैं.

5.इच्‍छा शक्ति बनता है मजबूत

मेडिटेशन हमें कई बुरी आदतों से छुटकारा दिलाने में भी मदद करता है. मेडिटेशन हमारी इच्‍छा शक्ति को मजबूत बनाने, भावनाओं और आवेगों को नियंत्रित करने और नशे की लत के कारणों को समझने और उससे छुटकारा दिलाने में सहायक होता है.

6.सरल और अनुशासित बनाता है

मेडिटेशन आपको सरल जीवन जीने और अनुशासन का पालन करने सिखाता है.  आप दूसरों के प्रति सकारात्मक भाव रखना सीखते हैं और दयालु बनते हैं.

7.स्मृति रहती है मजबूत

मेडिटेशन करने से लंबी उम्र तक आपकी यादाश्‍त अच्‍छी रहती है.  अध्ययन के मुताबिक, ध्‍यान करने न्यूरोसाइकोलॉजिकल परीक्षणों पर प्रदर्शन में सुधार आता है.

इसे भी पढ़ें : जानें क्या है आर्ट थेरेपी, कोरोना काल के दौरान क्यों है ये ट्रेंड में

8.बर्दाश्त करने की क्षमता

मेडिटेशन करने से लोगों में बर्दाश्त करने की क्षमता बढ़ती है. यही नहीं पेशेंस भी बढ़ता है. जिस वजह से आप किसी से बहुत ही नरमी से पेश आते हैं और लोगों की बातों का बुरा भी कम लगता है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज