होम /न्यूज /जीवन शैली /क्या मसाज करने से बढ़ती है इम्यूनिटी? जानें ऑयल मसाज के फायदे, करने का समय और सही तरीका

क्या मसाज करने से बढ़ती है इम्यूनिटी? जानें ऑयल मसाज के फायदे, करने का समय और सही तरीका

इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए करें मसाज.

इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए करें मसाज.

Benefits of Oil Massage: इम्यूनिटी पावर बूस्ट करने के लिए आप हेल्दी डाइट फॉलो करने के साथ ही बॉडी मसाज भी कर सकते हैं. ...अधिक पढ़ें

Benefits of Oil Massage: कोरोनावायरस (Coronavirus) से बचाव के लिए सबसे जरूरी है रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immunity) को बूस्ट करना. आपके शरीर की इम्यूनिटी जितनी स्ट्रॉन्ग रहेगी, उतना ही आप इंफेक्शन (Infection) से गंभीर रूप से संक्रमित होने से बचे रहेंगे. इम्यूनिटी बूस्ट करने का सबसे आसान तरीका है हेल्दी डाइट और वर्कआउट, लेकिन शरीर पर तेल मालिश (Oil Massage) करके भी इम्यूनिटी मजबूत की जा सकती है. अगर ये पढ़कर आप हैरान हो गए, तो यह बिल्कुल सही है. आइए जानते हैं, कैसे ऑयल मसाज करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बूस्ट होती है, किस तेल से मसाज करना चाहिए और मसाज करने के अन्य फायदे क्या हैं.

ऑयल मसाज के फायदे

टीओआई की खबर के अनुसार, मसाज करने से शरीर को कई लाभ होते हैं. इससे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है. मांसपेशियों और बॉडी में होने वाला दर्द कम होता है. तनाव दूर होता है. मसल्स रिलैक्स होती हैं. तनाव और दर्द के कारण भी इम्यूनिटी पर नकारात्मक तरीके से असर होता है. मानसिक समस्याएं जैसे स्ट्रेस, एंग्जायटी मसाज करने से कम होती हैं, इससे मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होता है. जब आपका मेंटल हेल्थ दुरुस्त रहेगा, तो इम्यूनिटी पर भी पॉजिटिव असर होगा. इतना ही नहीं, मालिश करने से शरीर में लिम्फोसाइट्स की संख्या में वृद्धि होती है. लिम्फोसाइट्स एक प्रकार की कोशिकाएं होती हैं, जो शरीर में प्रतिरक्षा को बनाए रखने के लिए जिम्मेदार होती हैं.

तेल मालिश करने का सही समय

दिन में आप किसी भी समय मसाज करा सकते हैं, लेकिन तेल मालिश करने का सबसे बेहतरीन समय सुबह होता है. ऐसा इसलिए, क्योंकि इस समय आपके पास खुद के लिए समय होता है. आप अपने सभी कार्यों से शारीरिक और मानसिक रूप से फ्री होते हैं. सुबह के समय मसाज कराने से आप दिन भर ऊर्जा से भरपूर महसूस करेंगे. मूड और माइंड दोनों फ्रेश रहेगा. वहीं, दिन में भोजन करने के एक घंटे बाद मसाज करा सकते हैं.

यह भी पढ़ें: शिशु की मालिश के लिए ये हैं बेस्ट मसाज ऑयल, मजबूत होगा शरीर और मांसपेशियां

मसाज कराने के लिए किन बातों का रखें ध्यान

खाली पेट मसाज न कराएं, क्योंकि इससे डाइजेस्टिव सिस्टम उत्तेजित होता है और ब्लड ग्लूकोज लेवल कम. सुबह मसाज कराते समय कोई फल या स्नैक खाएं. ढेर सारा भोजन करने के तुरंत बाद ही मसाज कराने से बचें. इससे ब्लोटिंग की समस्या हो सकती है.

यह भी पढ़ें : बदलता मौसम लेकर आता है कई बीमारियां, जानें कैसे बढ़ाएं इम्यूनिटी

इम्यूनिटी बूस्ट करने वाले तेल

एसेंशियल ऑयल जैसे लौंग, यूकेलिप्टस, लैवेंडर, टी ट्री ऑयल से मसाज कराएं. इनसे सिर से लेकर पैर तक मालिश की जाए, तो इम्यूनिटी बूस्ट होती है. एसेंशियल तेल पौधों के भाग जैसे छाल, पत्तियों और फूलों से तैयार किए जाते हैं. ये तेल प्रतिरक्षा प्रणाली के कुछ हिस्सों को उत्तेजित करते हैं. प्रतिरक्षा कोशिकाओं की गतिविधि को बढ़ाते हैं. ये कोशिकाएं सूजन को कम करके प्रतिरक्षा में सुधार करती हैं. इन सभी एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल प्रतिरक्षा को बढ़ाने के लिए किया जा सकता है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें