खांसी-ज़ुकाम हो या मुंह में हों छाले, मिश्री है आपकी कई परेशानियों का इलाज

मिश्री वाला दूध पीने से आंखों की रोशनी बढ़ती है

मिश्री वाला दूध पीने से आंखों की रोशनी बढ़ती है

मिश्री (Sugar candy) के सेवन से डाइजेशन (Designation) तो सही रहता ही है. एनर्जी, हीमोग्लोबिन भी बढ़ता है. साथ ही ये ब्लड सर्कुलेशन (Blood circulation) को भी बेहतर बनाए रखती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2021, 6:30 AM IST
  • Share this:
Benefits Of Sugar Candy: मिश्री का सेवन आप आमतौर पर रेस्टोरेंट में लंच या डिनर करने के बाद माउथ फ्रेशनर (Mouth freshener) के तौर पर करते होंगे. लेकिन मिश्री केवल माउथ फ्रेश करने के काम ही नहीं आती. बल्कि इसका सेवन हमारे शरीर को कई और तरीकों से भी फायदा (Benefits) पहुंचाता है. बस ज़रूरत है ये जानने की कि इसका सेवन किस स्थिति में और किस तरह से किया जाये, जिससे ये आपकी सेहत को फायदा पहुंचा सके. तो आइये यहां हम बताते हैं मिश्री के फायदों के बारे में.

मुंह के छालों के लिए

मुंह के छालों को ठीक करने में मिश्री फायदा पहुंचाती है. इसके लिए आप मिश्री और इलायची को बराबर की मात्रा में मिलाकर, साथ में पीस कर, पाउडर बना लें. इस मिश्रण को आप छालों पर हल्के हाथों से लगाएं. ऐसा एक सप्ताह तक लगातार करें.



हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए
मिश्री के रोज़ाना सेवन से हीमोग्लोबिन का लेवल बढ़ता है. इसका सेवन दिन में दो से तीन बार करना चाहिए. इससे हिमोग्लोबिन का लेवल तो बढ़ेगा ही, साथ ही ब्लड सर्कुलेशन भी सही रहेगा.

ये भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं जल्दी सोने से होता है हार्ट अटैक का खतरा, स्टडी में हुआ खुलासा 

डाइजेस्टिव सिस्टम के लिए

डाइजेशन के लिए मिश्री का सेवन काफी फायदेमंद है. अगर आप अपने डाइजेस्टिव सिस्टम को सही रखना चाहते हैं, तो इसके लिए आप मिश्री में सौंफ को मिलाकर लंच और डिनर के बाद इसका सेवन करें. इसके लिए आप मिश्री और सौंफ का पाउडर भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

एनर्जी के लिए

मिश्री का सेवन करने से बॉडी को एनर्जी मिलती है और शरीर में ताज़गी बनी रहती है. इसके लिए दिन में तीन-चार बार, आप मिश्री के आठ-दस दानों का सेवन कर सकते हैं.

नाक से खून आने पर

कई लोगों को नाक से खून आने की समस्या होती है. इसके लिए आप मिश्री का सेवन करें. इससे नाक से खून आने की दिक्क्त कम होती है. आप इसको पाउडर बनाकर या साबित जैसा चाहें इस्तेमाल कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें:  इन लक्षणों को न करें नज़रअंदाज़, हो सकता है माइग्रेन 

 खांसी-ज़ुकाम और गले की खराश के लिए

खांसी-ज़ुकाम और गले में खराश होने पर आप मिश्री का सेवन कर सकते हैं. इसके लिए आप मिश्री के दस और काली मिर्च  के पांच दानों को पीसकर पाउडर बना लें. दोनों को मिलाकर रात में सोने से पहले इसका सेवन करें.

कमज़ोरी महसूस होने पर

कई बार काम के बोझ से या किसी अन्य वजह से थकान और कमज़ोरी महसूस होने लगती है. इस दिक्कत को कम करने के लिए आप मिश्री का सेवन कर सकते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज