चेहरे की तरह आपकी बॉडी पर भी होते हैं पिम्‍पल्‍स? जानें इसके कारण और उपाय, मिलेगा छुटकारा

कभी भी ऐक्‍ने वाले हिस्‍से को ज्‍यादा जोर से ना रगड़ें. Image Credit : Pexels/Sora Shimazaki

कभी भी ऐक्‍ने वाले हिस्‍से को ज्‍यादा जोर से ना रगड़ें. Image Credit : Pexels/Sora Shimazaki

Body Acne Causes and Treatments : ब्‍लैकहेड्स और पिम्‍पल्‍स केवल फेस पर ही नहीं होते, यह शरीर के किसी भी हिस्‍से पर हो सकते हैं. इसे बैक्‍ने (Bacne) भी कहा जाता है.

  • Share this:
Body Acne Causes and Treatments : चेहरे की तरह अगर आपकी पीठ, हाथ, पैर जैसे शरीर के अन्‍य हिस्‍सों पर भी दाने या पिंपल्‍स निकल रहे हैं तो दरअसल यह बॉडी एक्‍ने है . बता दें कि ब्‍लैकहेड्स और पिम्‍पल्‍स केवल फेस पर ही नहीं होते, यह शरीर के किसी भी हिस्‍से पर हो सकते हैं. इसे बैक्‍ने (Bacne) भी कहा जाता है. बॉडी एक्‍ने एक बहुत ही कॉमन समस्‍या है जिससे हर तीसरा चौथा इंसान जूझता है. यह समस्‍या टीन एजर और एडल्‍ट किसी भी उम्र के इंसान को हो सकती है.

क्‍यों होते हैं बॉडी एक्‍ने

बॉडी एक्‍ने और चेहरे पर होने वाले पिंपल्‍स दरअसल एक ही वजह से स्किन पर उभरते हैं. वेरीवेल हेल्‍थ के अनुसार, जब हमारी स्किन पर मौजूद ऑयल ग्‍लैंड ओवर ऐक्टिव हो जाती है और वहां एक्‍सेस डेड स्किन सेल जमा होने लगती हैं तो वे हमारे रोम छिद्र यानी पोर्स को ब्‍लॉक करने लगती हैं. ऐसे में वहां ब्‍लैकहेड्स बनते हैं और वही बढ़कर पिंपल्‍स या ऐक्‍ने का रूप ले लेते  हैं. आम तौर पर यह पीठ, शरीर के उपरी हिस्‍से और पैरों पर नजर आती है.





इसे भी पढ़ें : International Women's Day 2021: 45 साल से महिलाओं के स्वास्थ्य को समर्पित डॉक्टर रेखा डावर ने दिया हेल्थ का फॉर्मूला




किन बातों का रखें ख्‍याल

बॉडी एक्‍ने होने पर कुछ बातों का ख्‍याल रखना जरूरी होता है. जैसे टाइट कपड़े मत पहनें , बंद कॉलर वाले कपड़े से दूरी बनाएं, बैगपैक की जगह हैंड बैग कैरी करें. इसके अलावा, अगर आप वर्कआउट करते हैं तो पसीने वाले कपड़े ज्‍यादा देर तक ना पहनें और जल्‍द से जल्‍द नहा लें. कभी भी ऐक्‍ने वाले हिस्‍से को ज्‍यादा जोर से ना रगड़ें.

क्‍या है इलाज

हालांकि इसका कोई पर्मानेंट इलाज नहीं होता. कुछ बातों को ध्‍यान में रखा जाए तो हम इन्‍हें होने से रोक सकते हैं. जैसे हेल्‍दी भोजन, भोजन में तेल का कम से कम प्रयोग, पत्‍तेदार भोजन का सेवन, साफ सफाई आदि. इसके अलावा, अगर आप ऐक्‍ने की वजह से बहुत ज्‍यादा परेशान हैं तो डर्मोटोलोजिस्‍ट की मदद ले सकते हैं.



इसे भी पढ़ें : गर्मियों में पुरुष इस तरह से करें अपनी त्वचा की देखभाल




एंटी बैक्टीरियल बॉडी सोप का करें इस्तेमाल

नहाने के लिए ऐसे बॉडी वॉश का प्रयोग करें जो मेडीकेटेड हो और उसमें ऐक्ने और बैक्टीरिया से लड़ सकने की क्षमता हो. ऐसे सोप आपको स्किन की प्रॉब्लम्स से दूर रखने में मदद कर सकते हैं. आप चाहें तो टी ट्री ऑयल बेस्ड या नीम युक्त साबुन या बॉडी वॉश का इस्तेमाल कर सकते हैं.

बॉडी एक्सफोलिएशन है जरूरी

इन दिनों बढ़ते प्रदूषण की वजह से धूल-मिट्टी और डेड स्किन हमारी त्वचा के पोर्स को बंद कर देते हैं जिससे एक्ने पनपने लगते हैं. ऐसे में हर सप्‍ताह चेहरे के साथ साथ बॉडी की स्किन को भी एक्‍सफोलिएट करने की जरूरत होती है जिससे सारी डेड स्किन दूर हो जाएं और त्‍वचा फ्रेश रहे.

ढीले और कॉटन के कपड़े पहनें

टाइट कपड़े पहनने से बॉडी एक्ने की समस्या और अधिक बढ़ सकती है. इसके अलावा, सिन्‍थेटिक कपड़े भी स्किन को इरिटेट कर सकते हैं. ऐसे में लूज और अरामदायक कॉटन के कपड़े ही पहनें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज