Home /News /lifestyle /

गर्भनाल को संक्रमित किए बिना भी भ्रूण को प्रभावित करता है कोरोना - स्टडी

गर्भनाल को संक्रमित किए बिना भी भ्रूण को प्रभावित करता है कोरोना - स्टडी

रिसर्चर्स ने डिलिवरी के बाद मातृ ब्लड और गर्भनाल ब्लड की तुलना करके जच्चा और बच्चा के बीच प्रतिरक्षा प्रतिक्रियाओं की तुलनात्मक स्टडी की. (प्रतीकात्मक फोटो- shutterstock.com)

रिसर्चर्स ने डिलिवरी के बाद मातृ ब्लड और गर्भनाल ब्लड की तुलना करके जच्चा और बच्चा के बीच प्रतिरक्षा प्रतिक्रियाओं की तुलनात्मक स्टडी की. (प्रतीकात्मक फोटो- shutterstock.com)

Corona affect fetus even without infecting umbilical cord : अमेरिका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ (National Institutes of Health) के रिसर्चर्स द्वारा की गई एक नई स्टडी में ये कहा गया है कि कोरोना का कारक वायरस सार्स कोव-2 (SARS Cov-2) गर्भनाल (Umbilical cord) को संक्रमित किए बिना भी भ्रूण (embryo) को प्रभावित कर सकता है. इस स्टडी में दावा किया गया है कि कोरोना प्रेग्नेंसी में भले ही गर्भनाल को संक्रमित नहीं करे, लेकिन अगर मां संक्रमित हुई तो उसके असर से भ्रूण और शिशुओं में इंफ्लैमेटरी (सूजन या जलन संबंधी) इम्यून प्रतिक्रिया पैदा कर सकता है.

अधिक पढ़ें ...

Corona affect fetus even without infecting umbilical cord : पिछले दो सालों से अलग-अलग रूप बदलकर वार करने वाले कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) ने दुनिया के सभी देशों को लाचार कर दिया है. साइंस्टिस्टों को इसके इलाज का अभी तक तोड़ नहीं मिला है, हालांकि इम्यूनिटी बढ़ाने वाली वैक्सीन ने इंसानी जान को होने वाले नुकसान को थोड़ा कम जरूर किया है, लेकिन ये वायरस हमारी आने वाली पीढ़ियों तक को खतरे में डालने पर तुला है. अमेरिका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ (National Institutes of Health) के रिसर्चर्स द्वारा की गई एक नई स्टडी  में ये कहा गया है कि कोरोना का कारक वायरस सार्स कोव-2 (SARS Cov-2) गर्भनाल (Umbilical cord) को संक्रमित किए बिना भी भ्रूण (embryo) को प्रभावित कर सकता है.

इस स्टडी में दावा किया गया है कि कोरोना प्रेग्नेंसी में भले ही गर्भनाल को संक्रमित नहीं करे, लेकिन अगर मां संक्रमित हुई तो उसके असर से भ्रूण और शिशुओं में इंफ्लैमेटरी (सूजन या जलन संबंधी) इम्यून प्रतिक्रिया पैदा कर सकता है. इस स्टडी के निष्कर्षों को ‘नेचर कम्यूनिकेशंस (Nature Communications)’ जर्नल में प्रकाशित किया गया है.

कैसे हुई स्टडी
इस अध्ययन के लिए नेशनल इस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के रिसर्चर्स ने लिमिटेड लेवल पर 23 प्रेग्नेंट महिलाओं पर स्टडी की. इन महिलाओं में से 12 महिलाएं कोविड पॉजिटिव थीं, वहीं 8 महिलाएं एसिम्टोमैटिक (asymptomatic) थीं, जिनमें कोरोना का एक भी लक्षण नहीं था. एक महिला को हल्के लक्षण थे और तीन की स्थिति गंभीर थी. रिसर्चर्स ने डिलिवरी के बाद मातृ ब्लड (maternal blood) और गर्भनाल ब्लड की तुलना करके जच्चा और बच्चा के बीच प्रतिरक्षा प्रतिक्रियाओं (immune responses) की तुलनात्मक स्टडी की.

यह भी पढ़ें-
कोरोना, सर्दी-जुकाम में दोस्‍तों-रिश्‍तेदारों की सलाह पर ले रहे हैं एंटीबायोटिक तो सावधान, घट सकती है इम्‍यूनिटी

स्टडी में क्या निकला
स्टडी में निकले निष्कर्षों के अनुसार, मां, उनके शिशु और गर्भनाल के टिशूज में वायरस जनित इंफ्लेमेटरी इम्यून रिस्पॉन्स (inflammatory immune response) देखने को मिला. इसमें इससे कोई फर्क नहीं था कि मां में संक्रमण के लक्षण थे या नहीं. सॉर्स कोव-2 से संक्रमित हुई प्रेग्नेंट महिलाओं में इम्यून सेल (जिसे टी सेल भी कहते हैं.) का एंटी वायरलस रिस्पॉन्स कम था. जिन संक्रमित माताओं में संक्रमण के लक्षण नहीं थे उनमें भी वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी डेवलप हो गई थी. इनमें से कुछ एंटीबॉडी गर्भनाल ब्लड (umbilical cord blood) में भी पाई गई. ये भी पाया गया कि संक्रमित माताओं में हाई लेवल के इम्यून एक्टिव मार्कर (cytokine) पाए गए, जिसका लक्षण होने या नहीं होने से कोई संबंध नहीं था. साइटोकाइन (cytokine) में इंटरल्यूकिन (interleukin) 8, इंटरल्यूकिन 10 और इंटरल्यूकिन 15 थे.

यह भी पढ़ें-
Weight Loss Tips For Winter: सर्दियों में वजन कम करना होगा आसान, बस डाइट में करें ये मामूली बदलाव

बिना लक्षण वाली संक्रमित मातओं से जन्में बच्चे में इंटरल्यूकिन (interleukin) 8 का हाई लेवल पाया गया. गर्भनाल में वायरस की मौजूदगी नहीं होने के बावजूद संक्रमित माताओं में इम्यून सेल के प्रकारों का अनुपात बदला हुआ था. गर्भनाल और संक्रमित माताओं के बच्चे की नाभि रज्जु के ब्लड की प्रतिरक्षा क्रिया में बदलाव था. इससे पता चला है कि संक्रमित माताओं में प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भनाल भले ही संक्रमित नहीं हुई हो, लेकिन शिशुओं का इम्यून सिस्टम (Immune System) उससे प्रभावित हुआ है.

Tags: Coronavirus, Health, Health News, Lifestyle

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर