Home /News /lifestyle /

health news do you feel tired always know causes might be suffering from these diseases in hindi ans

बार-बार महसूस करते हैं थकान, इन बीमारियों से तो ग्रस्त नहीं हैं आप?

मानसिक समस्याएं जैसे स्ट्रेस, एंग्जायटी, डिप्रेशन है, तो इनके कारण भी थकान महसूस होती है.

मानसिक समस्याएं जैसे स्ट्रेस, एंग्जायटी, डिप्रेशन है, तो इनके कारण भी थकान महसूस होती है.

Causes of Fatigue: कभी-कभी अधिक शारीरिक मेहनत करके थकान महसूस होती है, लेकिन हर दिन ऐसा हो और आप सुस्त रहने लगें, तो इसे नजरअंदाज ना करें. अत्यधिक थकान कई बार किसी गंभीर रोग के कारण भी होती है.

Causes of Fatigue: गर्मी के मौसम में अक्सर बहुत ज्यादा सुस्ती, थकान सी महसूस होती. ऐसा लगता है कि सारा काम छोड़कर बस सोते रहें. थकान कई बार नींद पूरी ना होने से भी महसूस होती है. हालांकि, कभी-कभी थकान महसूस हो वो भी तब, जब आप ज्यादा शारीरिक मेहनत करते हैं, लेकिन ऐसा आपको हर दिन महसूस होने लगे, तो यह सेहत संबंधित कोई समस्या भी हो सकती है. हो सकता है आपको अंदर ही अंदर कोई रोग हो रहा हो, जिसका जल्द से जल्द निदान जरूरी है. जानें, यहां किन-किन कारणों से आपको हो सकता है थकान.

लाइफस्टाइल फैक्टर्स से हो सकता है थकान
-अत्यधिक फिजिकल एक्टिविटी
-जेट लैग डिसऑर्डर
-शारीरिक एक्टिविटी में कमी
-एल्कोहल का अधिक सेवन
-दवाओं का सेवन
-कम सोना
-अनहेल्दी खानपान

इसे भी पढ़ें: अगर अक्सर बनी रहती है थकान और कमजोरी तो अपनाएं ये 5 उपाय

शारीरिक समस्याएं जो थकान को बढ़ाएं

एनीमिया से भी होती है थकान
वेबएमडी में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, एनीमिया होने से भी थकान और सुस्ती महसूस होती है. शरीर में आयरन की कमी होने से एनीमिया होता है. आयरन रक्त में ऑक्सीजन को पहुंचाने का काम करता है. जिन लोगों में आयरन कम होता है, वे हमेशा थके, सुस्त होने के साथ ही उनके हृदय की गति भी अनियमित हो सकती है. डॉक्टर ब्लड टेस्ट के जरिए एनीमिया की जांच करता है.

थकान की वजह डायबिटीज तो नहीं
कुछ लोगों को बहुत ज्यादा थकाम महसूस होती है. संभवत: ऐसा हो सकता है कि शरीर बहुत ज्यादा ऊर्जा का इस्तेमाल करता है, ताकि रक्त शर्करा के स्तर में बार-बार होने वाले परिवर्तनों से निपटा जा सके. एक्सपर्ट का भी कहना है कि डॉक्टर क्या जानते हैं कि थकान मधुमेह के सबसे आम लक्षणों में से एक है. डायबिटीज के और भी लक्षण होते हैं. आपको बहुत अधिक प्यास लग सकती है और बार-बार बाथरूम जाना पड़ सकता है.

इसे भी पढ़ें: गर्मियों में थकान-कमजोरी और सुस्ती रहेगी दूर, डाइट में शामिल करें ये 6 चीजें

हार्ट डिजीज में होता है थकान
कई बार बहुत अत्यधिक थकान कंजेस्टिव हार्ट फेलियर के कारण भी होता है. ये समस्या तब होती है, जब हार्ट उतने अच्छे से पंप नहीं करता, जितना कि उसे करना चाहिए. यदि आपको कंजेस्टिव हार्ट फेलियल की समस्या है, तो जब आप एक्सरसाइज करते हैं, तो थकान और भी ज्यादा महसूस होती है. इससे हाथों-पैरों में सूजन, सांस की तकलीफ भी हो सकती है.

स्लीप एप्नीया भी है थकान की वजह
एक-दो दिन कम सोना चल सकता है, लेकिन हर दिन आप 6 घंटे से भी कम नींद लेते हैं, तो यह स्लीप एप्नीया की बीमारी हो सकती है. कई बार लोगों को बिस्तर पर जाने के बाद भी घंटों नींद नहीं आती है और ऐसे में वे 2-3 घंटे ही सो पाते हैं, जिससे सारा दिन थकान, सुस्ती महसूस होती है. स्लीप एप्नीया डिसऑर्डर सोते समय पर्याप्त ऑक्सीजन प्राप्त करने से रोकता है, जिसके कारण आपको रात में आराम महसूस नहीं होता और नींद टूटती रहती है. नींद पर्याप्त नहीं लेने से कई अन्य समस्याएं जैसे चिड़चिड़ापन, स्ट्रेस, हृदय की समस्या आदि भी हो सकती है.

मेनोपॉज, थायरॉएड के कारण थकान
यदि आप मेनोपॉज की अवस्था से गुजर रही हैं, तो भी आपको गहरी नींद आने में समस्या हो सकती है. मेनोपॉज के कारण शरीर के हार्मोंस में कई तरह के बदलाव होते हैं, जिसके कारण रात में अधिक पसीना आना, हॉट फ्लैशेज की समस्या हो सकती है. इन दो कारणों से आप रात में ठीक से सो नहीं पाती हैं, जिससे दिन भर थकान महसूस होती है. यदि आपको थायरॉएड की समस्या होगी, तो भी थकान होती है. अंडरएक्टिव थायरॉएड वाले लोग थका हुआ महसूस करते हैं. इसमें कोशिकाएं अच्छी तरह से काम नहीं करती हैं, इसलिए सुस्ती, थकान बनी रहती है. शरीर में ऊर्जी की कमी होती है.

डिप्रेशन, स्ट्रेस भी है थकान की वजह
यदि आपको मानसिक समस्याएं जैसे स्ट्रेस, एंग्जायटी, डिप्रेशन है, तो भी ये थकान को बढ़ाते हैं. डिप्रेशन और स्ट्रेस किसी भी हाल में सेहत के लिए अच्छे नहीं होते हैं. बेहतर है इनका इलाज जल्द से जल्द कराएं.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर