होम /न्यूज /जीवन शैली /First Aid Box : ‘फर्स्‍ट एड बॉक्‍स’ में जरूर रखें इन चीजों को, इमरजेंसी में नहीं होगी परेशानी

First Aid Box : ‘फर्स्‍ट एड बॉक्‍स’ में जरूर रखें इन चीजों को, इमरजेंसी में नहीं होगी परेशानी

फर्स्‍ट एड बॉक्‍स को समय समय पर चेक करना जरूरी है. Image Credit : shutterstock

फर्स्‍ट एड बॉक्‍स को समय समय पर चेक करना जरूरी है. Image Credit : shutterstock

First Aid Box :अपने फर्स्‍ट एड बॉक्‍स (First Aid Box) को हमेशा अप टू डेट रखना बहुत ही जरूरी है. इनमें इमरजेंसी (Emergen ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    First Aid Box : घर पर फर्स्‍ट एड बॉक्‍स (First Aid Box) का होना बहुत ही जरूरी होता है. छोटी छोटी चोट, बुखार, इनफेक्‍शन या स्‍वास्‍थ्‍य संबं‍धी किसी भी तरह की समस्‍या होने पर कोरोना (Corona) महामारी के समय में तुरंत डॉक्‍टर के पास जाना संभव नहीं होता और ऐसे में ये बॉक्‍स बहुत काम आती है. कई घरों में ये बॉक्‍स तो होता है लेकिन समय समय पर इसे वे अपडेट नहीं करते जिससे एमरजेंसी (Emergency) के समय मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. यही नहीं, कई बार तो सालों से इसमें रखीं दवाएं (Medicine) एक्‍सपायर हो जाती हैं . ऐसे में यह जरूरी है कि समय समय पर इसे चेक करते रहा जाए और जरूरी चीजों को रीफिल किया जाए. तो यहां हम आपको बता रहे हैं कि आपके फर्स्‍ट एड बॉक्‍स में क्‍या क्‍या चीजें होना जरूरी है.

    1.पेनकिलर दवाएं

    अगर घर में सबसे जरूरी किसी दवा की जरूरत होती है तो वो है दर्दनिवारक दवाएं. फिर वह चाहे सिर दर्द, पेट दर्द, ज्‍वाइंट पेन की दवा हो या सूजन आदि के दौरान लिए जाने की. ऐसे में आप डॉक्‍टर की सलाह पर कुछ दवाओं को अपने बॉक्‍स में एमरजंसी दवाओं के रूप में रख सकते हैं.

    इसे भी पढ़ें : कभी पी है काली मिर्च की चाय? मूड बूस्‍ट करने के साथ वजन भी करती है कम

     

    2.बैंडेज

    घर पर काम के दौरान चोट आना एक आम बात है. ऐसे में घाव को खुला रखने से इन्फेक्शन्स की संभावना होती है. इसलिए घर में बैंडज का होना बहुत ही जरूरी  है. इसके अलावा कॉटन और पट्टी को भी जरूर इसमें रखें.

    3.एंटीसेप्टिक क्रीम

    कटने या छिलने के बाद घाव को तुरंत डिटॉल के पानी से धोएं और एंटीसेप्टिक क्रीम या सॉल्युशन का इस्तेमाल करें. एंटीसेप्टिक क्रीम घाव पर बैक्टीरिया पनपने के खतरे को कम करता है. इसलिए मेडिकल एड बॉक्स में इसे जरूर रखें. आप सेफरामाइसिन या बरनॉल आदि रख सकते हैं.

    4.गैस या बदहजमी की दवा  

    कई बार बासी खाना या बाहर का खाना खाने से पेट दर्द, मरोड़, कब्ज, गैस, बदहजमी जैसी कई समस्‍याएं आती हैं ऐस में राहत के लिए एंटासिड, पुदीनहरा, डाइजिन आदि दवाओं को रखें. ये पेट की समस्याओं से तत्काल छुटकारा दिलाने के काम आ सकती है.

    5.इलेक्ट्रॉल और ग्‍लूकोज

    गर्मी और बारिश के मौसम में अक्सर शरीर में नमक व मिनरल्स की कमी हो जाती है और डीहाइड्रेशन का अनुभव होता है. ऐसा होने पर तुरंत ग्‍लास में इलेक्ट्रॉल का घोल पीना बहुत ही फायदेमंद होता है. ग्‍लूकोज के सेवन से आप दुबारा से तरोताजा हो जाते हैं.

    6.पेट की समस्‍या की दवाएं  

    पेट खराब होना, दस्त, उबकाई, अपच, बदहज़मी के लिए पेप्टोबिस्मॉल का इस्तेमाल किया जाता है. ईनो, पुदीन हरा, डाइजीन भी रखें. पेरासिटामोल, एवोमिन, कोरेक्स जैसी सामान्य दवाइयां भी जरूरत के समय काफी काम आती है.

    7.थर्मामीटर

    सिजनल फीवर या कोरोना सभी में थर्मामीटर की तो जरूरत पड़ती ही है. ऐसे में हर घर में एक या दो  थर्मोमीटर होना ही चाहिए.

    इसे भी पढ़ेंः  कोरोना से बचने के लिए इन चीजों का सेवन करें जरा संभलकर, फेफड़ों को होता है नुकसान

    8.एंटी एलर्जिक दवाएं

    त्वचा पर होने वाली खुजली व चकत्तों से राहत पाने के लिए एंटी एलर्जिक दवाएं, एंटी फगल क्रीम, एलोवेरा जेल और बर्न क्रीम रखना भी ज़रूरी है. कटने, छिलने आदि में उपचार के लिए सोफरामाइसीन जैसे एंटी बैक्टीरियल या एंटीबॉयोटिक ऑइंटमेंट रखें.

    9.बाम या वेपोरब

    सिर दर्द, सर्दी ज़ुकाम, हाथ पैर और कमर दर्द के लिए बाम बहुत ही उपयोगी है. बाम इस प्रकार के दर्द से तुरंत राहत दिलाने में कारगर होता है. ऐसे में ओमनीजेल, विक्‍स वेपोरब, मूव आदि जरूर रखें.

    10.ब्‍लडप्रेशर मशीन और ऑक्‍सीमीटर

    घर में अगर बुजुर्ग है तो आपको ब्‍लड प्रेशर मापते की मशीन जरूर रखनी चाहिए. इसके अलावा, कोरोना महामारी के दौरान घर घर में ऑक्‍सीमीटर का होना भी जरूरी है.

    11.इन चीजों को भी जरूर रखें

    कैंची, आइस बैग, हीटिंग बैग, रूई, बड्स, पिन, सेफ्टीपिन आदि भी फर्स्‍ट एड बॉक्‍स में जरूर रखें.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    Tags: Health, Health tips, Lifestyle

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें