एंग्जाइटी और स्‍ट्रेस से हैं परेशान तो डाइट में शामिल करें ये चीजें, डिप्रेशन से होगा बचाव

केला हमारे हैप्पी हार्मोन को एक्टिव करने के लिए काफी कारगर फल माना जाता है.Image Credit : Shutterstock

कोरोना काल में कई लोग हैं जो एंग्जाइटी (Anxiety), डर और तनाव से जूझ रहे हैं. ये सभी मिलकर डिप्रेशन का रूप ले सकती हैं. इन्‍हें कम (Reduce) करने लिए हमें अपनी डाइट (Diet) पर विशेष ध्‍यान देने की जरूरत है.

  • Share this:
    Food To Reduce Anxiety And Stress: कोरोना (Corona) महामारी में अब तक लाखों लोगों की जान जा चुकी है. कई लोग हैं जो अपने परिवार को बचाने के लिए जी जान से लगे हुए हैं. अपनों को खोने का डर हर किसी के अंदर है. हर इंसान शारीरिक और मानसिक परेशानियों से जूझ रहा है. इन सब की वजह से ज्‍यादातर लोग डिप्रेशन, एंग्‍जाइटी (Anxiety) का शिकार हो रहे हैं. डॉक्‍टर इस समस्या से निजात पाने के लिए योग और मेडिटेशन करने की सलाह दे रहे हैं. इसके अलावा अपनी खाने-पीने की चीज़ों पर भी ख़ास ध्यान देने की सलाह दी जा रही है. आज हम आपको यहां कुछ फ़ूड आइटम्स (Diet) के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपको एंग्जाइटी से राहत (Reduce) दिलाने में मदद करेंगे. दरअसल एंग्जाइटी और स्ट्रेस जैसी समस्याएं मोनोऐमिक ऑक्‍साइड्स एंजाइम के बढ़ जाने की वजह से होती हैं जो हैप्पी हार्मोन को कम कर देती हैं. इसी की वजह से डिप्रेशन और एंग्जाइटी बढ़ने लगती है. ऐसे में डाइट में कुछ चीजों को शामिल कर हम इस समस्‍या को कंट्रोल कर सकते हैं.

    केला

    केला हमारे हैप्पी हार्मोन को एक्टिव करने में काफी कारगर फल माना जाता है. अगर आप एंग्‍जाइटी फील कर रहे हैं तो तुरंत एक केला खा लें आपको आराम महसूस होगा. यह आपके बॉडी में चीनी की आपूर्ति भी करता है जिससे आप बेहतर महसूस करने लगते हैं. ऐसे में आप चाहें तो इसका सेवन स्‍मूदी या अन्‍य तरीके से भी कर सकते हैं.



    इसे भी पढ़ें : सावधानी से खाएं लीची, हो सकती है एलर्जी, जानें इसके फायदे और नुकसान



    अश्वगंधा

    अश्वगंधा का उपयोग जड़ी-बूटी के रूप में सालों से किया जाता रहा है. यह किसी भी मेडिकल स्‍टोर में टैबलेट के रूप में भी उपलब्ध है. अगर आप रोज एक ग्राम अश्वगंधा का सेवन करते हैं तो आपको तनाव में काफी राहत मिल सकता है. आप इसे दूध के साथ मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं.

    केसर

    केसर का उपयोग एंग्जाइटी और स्ट्रेस को दूर करने के लिए भी किया जाता है. यह आपके दिमाग़ में हैप्पी हार्मोन को एक्टिव करता है जो कि एंग्जाइटी और स्ट्रेस को दूर करने के लिए मददगार है. आप इसे भोजन में शामिल कर सकते हैं और चाहें तो इसे कपड़े में लपेट कर सूंघ भी सकते हैं.

    इसे भी पढ़ें : डायबिटीज पेशेंट हैं तो इन फल और सब्जियों को कहें NO, जानें किसे करें डाइट में शामिल



    मोरिंगा के पत्ते

    मोरिंगा के पत्तों को सुपरफ़ूड माना जाता है. आप इसके पत्‍ते को सुखाकर इसका पाउडर बना लें और इसे अपने डाइट में शामिल करें. एंग्जाइटी और स्ट्रेस को दूर करने के लिए आप चाहें तो करी पत्ता, ब्रोकली, पालक, वीटग्रास और अन्य हरी सब्ज़ियों को भी अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.