सेहत के साथ साथ बालों और स्किन के लिए भी बहुत उपयोगी है खसखस, जानें इसके फायदे

खसखस फाइबर से भरपूर होता है जो पाचन तंत्र को ठीक कर कब्ज को दूर करता है. Image Credit : Pixabay

खसखस फाइबर से भरपूर होता है जो पाचन तंत्र को ठीक कर कब्ज को दूर करता है. Image Credit : Pixabay

Benefits Of Poppy Seeds : खसखस पारंपरिक व्‍यंजनों में खूब प्रयोग किया जाता है. यह स्‍वाद (Taste) के साथ साथ सेहत (Health) और सौंदर्य (Beauty) बढ़ाने में भी काम आता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 29, 2021, 6:26 AM IST
  • Share this:
Benefits Of Poppy Seeds : भारतीय व्यंजनों में कई प्रकार के गुणकारी खाद्य पदार्थों को शामिल किया जाता है जिनमें से एक है खसखस. यह एक प्रकार का तिलहन है जिसे हम अंग्रेजी में पॉपी सीड्स (Poppy Seeds), बंगाली में पोस्तो, तेलुगु में गसागसालु जैसे नामों से जानते हैं. दरअसल यह पॉपी नाम के पौधे का बीज है जिसका वैज्ञानिक नाम पेपेवर सोम्निफेरम है. इसका इस्तेमाल कई प्रकार से क्षेत्रीय व्यंजनों में किया जाता है. स्‍वाद (Taste) के साथ साथ इसके कई हेल्‍थ बेनिफिट्स (Health Benefits) भी होते हैं. तो आइए जानते हैं कि इसके क्‍या क्‍या अनेक फायदे हैं.

पोषक तत्‍वों से भरपूर

खसखस में फाइबर, प्लांट फैट, प्रोटीन, मैंगनीज, कॉपर, कैल्शियम, मैगनीशियम, फास्फोरस, जिंक, विटामिन ई, थायमिन और आयरन जैसे विटामिन और मिनरल्स मौजूद होते हैं. इसमें मैंगनीज की मात्रा बहुत होती है. यह हड्डियों के स्वास्थ्य और रक्त के थक्कों के लिए भी बहुत काम की चीज है. खसखस में ओमेगा 6 और ओमेगा 9 के साथ ओमेगा 3 फैट अल्फा लिनोलेनिक एसिड (ALA) भी मौजूद होता है.

दर्द से देता है राहत
खसखस के पौधे में मॉर्फिन, कोडीन, थेबिन और अन्य अफीम अल्कलॉइड होते हैं जो दर्द से राहत देने में कारगर होता है. अगर मांसपेशियों में ऐंठन हो तो 2-4 ग्राम खसखस में 1 ग्राम सोंठ का चूर्ण मिला लें. इसमें शहद मिलाकर खाएं. इसके सेवन से हाथों या पैरों की ऐंठन में आराम मिलता है.

हार्ट के लिए फायदेमंद  

खसखस के तेल में मोनो और पॉलीअनसेचुरेटेड फैट होता है जो हार्ट के लिए फायदेमंद है. बता दें कि अनसेचुरेटिड फैट हार्ट अटैक और स्ट्रोक के जोखिम को 17% तक कम कर सकता है. इसके अलावा खसखस के तेल में मौजूद फैट स्किन पर हुए डैमेज या घावों को भरने में भी मदद करता है.



पाचन में सहायक

खसखस फाइबर से भरपूर होता है जो पाचन तंत्र को ठीक कर कब्ज को दूर करता है. इतना ही नहीं, यह गर्मी के मौसम में पेट को ठंडा करता है और पेट में किसी भी तरह की अशांति को दूर करता है.

इसे भी पढ़ें : खून साफ करने से लेकर ब्‍लड शुगर तक नियंत्रण में रखता है परवल, जानें इसके फायदे

 




एंटी ऑक्सिडेंट से है भरपूर  

खसखस के बीजों में एंटीऑक्सिडेंट भरपूर होता है जो शरीर को सेलुलर क्षति से बचाने में मदद करता है. इतना हीं नहीं, यह विभिन्न गंभीर बीमारियों के चांस को भी कम करने में मदद कर सकता है.

मुंह के छाले

खसखस की तासीर ठंडी होती है इसलिए यह पेट की गर्मी को शांत कर मुंह के छालों से आराम दिलाने में मदद कर सकता है.

नींद में सुधार

नींद की समस्या से परेशान लोग खसखस का इस्तेमाल कर सकते हैं. एक शोध में यह पाया गया है कि खसखस का इस्तेमाल अनिद्रा की समस्या के लिए सदियों से किया जा रहा है.

महिला की प्रजनन क्षमता में सुधार

नीदरलैंड और ऑस्ट्रेलिया में शोधकर्ताओं के अनुसार  खसखस के तेल से फैलोपियन ट्यूब को फ्लश करने से फर्टिलिटी में मदद मिल सकती है. फैलोपियन ट्यूब वो मार्ग होता है जिससे अंडे अंडाशय से गर्भाशय तक जाते हैं.

हड्डी को बनाता है मजबूत

खसखस कैल्शियम, जिंक और कॉपर जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है. ये दोनों तत्व हड्डियों को मजबूत करने और इनके विकास में मदद करते हैं.

मधुमेह में फायदेमंद

मधुमेह से पीड़ित लोग खसखस का सेवन कर सकते हैं. इसमें फाइबर भरपूर मात्रा में होता है जो टाइप 2 डायबिटीज के लिए फायदेमंद है.

बालों के लिए फायदेमंद

विटामिन, मिनिरल्‍स और प्रोटीन होने की वजह से यह बालों के लिए भी काफी फायदेमंद है. अगर इसे हेयर पैक की तरह प्रयोग किया जाए तो इससे रूसी की समस्‍या खत्‍म होती है और बाल लंबे होते हैं. इसे आप कोकोनट मिल्‍क, प्‍याज के साथ पीसकर सिर में लगा सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : पलाश के फूलों में हैं कई औषधीय गुण, जानें सेहत के लिए ये किस तरह हैं फायदेमंद

स्किन के लिए भी फायदेमंद

सेहत के साथ साथ यह स्किन के लिए भी बहुत फायदेमंद है. खसखस में लिनोलिक एसिड होता है जो एक्जिमा और सूजन से निजात दिलाने में मदद कर सकता है. इसे स्‍क्रबर की तरह भी प्रयोग कर सकते हैं. यही नहीं,  अगर आपकी त्‍वचा ड्राई रहती है तो इसे फेस पैक में प्रयोग करें, आपकी स्किन मॉश्‍चराइज्ड रहेगी. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज