खून साफ करने से लेकर ब्‍लड शुगर तक नियंत्रण में रखता है परवल, जानें इसके फायदे

आयुर्वेद के अनुसार परवल आपके इम्‍यूनिटी को भी बढ़ाता है. Image Credit : Pixabay

आयुर्वेद के अनुसार परवल आपके इम्‍यूनिटी को भी बढ़ाता है. Image Credit : Pixabay

परवल (Parwal) का उपयोग मूत्र सं‍बंधी समस्‍याओं और मधुमेह (Diabetes) के इलाज में मुख्‍य रूप से किया जाता है. इसके अलावा यह कब्‍ज, स्किन प्रॉब्‍लम, पाचन (Digestion), एजिंगआदि के नियंत्रण में भी फायदेमंद (Beneficial) है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 27, 2021, 6:33 AM IST
  • Share this:
इन दिनों सब्‍जी मंडियों में परवल (Pointed Gourd) खूब दिख रहे हैं. हरे रंग के परवल के गुणों (Benefits) की बात करें तो यह आयुर्वेदिक (Ayurvedic) सब्जियों की श्रेणी में आता है. आम तौर पर इसके गुणों के बारे में लोग नहीं जानते. इसमें बहुत से विटामिन्‍स, मिनिरल्‍स पाए जाते हैं जो इसे हमारी सेहत (Health) के लिए बहुत ही उपयोगी बना देते हैं. इसमें विटामिन ए, विटामिन बी1, बी2, विटामिन सी, कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्‍नीशियम, फॉस्‍फोरस जैसे कई पोषक तत्‍व पाए जाते हैं. इसका उपयोग मूत्र सं‍बंधी समस्‍याओं और मधुमेह के इलाज में मुख्‍य रूप से किया जाता है. इसके अलावा इसे कब्‍ज, स्किन प्रॉब्‍लम, पाचन संबंधित प्रॉब्‍लम, एजिंग, पीलिया आदि के नियंत्रण में भी उपयोग में लाया जाता है. आइए जानते हैं कि परवल के और क्‍या फायदे होते हैं.

1.ब्‍लड प्‍यूरीफाई करे

ब्‍लड प्‍यूरीफाई करने में यह बहुत उपयोगी माना जाता है.आयुर्वेद के अनुसार, यह हमारे शरीर के ब्‍लड को साफ करने में मदद करता है और स्किन की देखभाल करता है. दरअसल शरीर में खून की सफाई होना बहुत ही जरूरी है जिससे कई तरह की बीमारियों से हमारा बचाव होता है . ऐसे में परवल ब्‍लड को साफ तो करता ही है, आपके रक्‍त प्रवाह को भी ठीक रखता है.

2.पाचन में सुधार
परवल में भरपूर फाइबर होता है जो सही तरह से पाचन के लिए बहुत जरूरी है. यह गैस्‍ट्रोइंटस्‍टाइनल और लिवर को भी कई समस्‍याओं से दूर रखता है.इसके रेग्‍युलर सेवन से आपका पाचन तंत्र हमेशा सही तरीके से काम करेगा.

इसे भी पढ़ें : पलाश के फूलों में हैं कई औषधीय गुण, जानें सेहत के लिए ये किस तरह हैं फायदेमंद

 




3.एजिंग को करे नियंत्रित

परवल में एंटी ऑक्‍सीडेंट, विटामिन ए और सी मौजूद होता है जो फ्री रेडिकल्‍स के अणुओं को नियंत्रित रखता है और एजिंग की प्रक्रिया को कम कर देता है.

4.कब्‍ज को रखे दूर

अगर आपके इंटस्‍टाइन में बहुत दिनों तक अपशिष्‍ट पदार्थ रह जाते हैं तो यह कई बीमारियों की वजह बनने लगते हैं इसलिए कब्‍ज को हल्‍के में नहीं लेना चाहिए. अगर आप कब्‍ज से जूझ रहे हैं तो परवल के बीज कब्‍ज दूर करने में सहायक होते हैं.

5.ब्‍लड शुगर करे नियंत्रित

हालांकि ब्‍लड शुगर एक लाइफ स्‍टाइल और वंशानुगत से जुड़ी बिमारी है लेकिन खान पान में बदलाव लाकर आप इसे कंट्रोल में रख सकते हैं. जब भी आप परवल बनाते हैं तो इसके बीज को ना फेकें. परवल को अपने भोजन में रेग्‍युलरली शामिल करें, यह आपके ब्‍लड शूगर के लेवल को नियं‍त्रण में रखेगा.

इसे भी पढ़ें : केवल स्किन के लिए ही नहीं, कई चीजों में फायदेमंद है एलोवेरा, जानें इसके 7 फायदे

6.वजन घटाने में

परवल में कैलोरी बहुत ही कम होती है और फाइबर भी भरपूर होता है. ऐसे में अगर आप नियमित परवल का सेवन करते हैं तो यह आपके वजन को बढ़ाएगा नहीं. यह आपके पेट को भी भरा रखता है जिससे आपको जल्‍दी भूख नहीं लगती. यह फूड क्रेविंग को भी कम करता है.

7.इम्‍यूनिटी बढ़ाए

आयुर्वेद के अनुसार परवल आपके इम्‍यूनिटी को बढ़ाता है. यह बदलते मौसम में होने वाले फ्लू और ठंड से आपको दूर रखता है.

8.पीलिया में फायदेमंद

लिवर के लिए परवल फायदेमंद है इसलिए यह पीलिया के इलाज में भी काफी काम आता है. यह लिवर की कार्य क्षमता को बढ़ाता है और पाचनतंत्र में सुधार करता है.

परवल के अन्‍य आयुर्वेदिक उपयोग और प्रयोग का तरीका

-सिर में दर्द हो तो परवल के जड़ को पीसकर सिर में लगाएं. दर्द में राहत मिलेगा.

-परवल के पत्‍ते को घी में फ्राई कर खाने से आंखों की समस्‍या दूर होती है.

-हार्पिस रोग में परवल के पत्‍ते, मूंग दाल और आमल रस का काढ़ा बनाकर पिएं, दर्द से राहत मिलेगी .

-स्‍मॉल पॉक्‍स के शुरुआती लक्षण के दौरान इसके जड़ और पत्‍ते को मुलेढ़ी के साथ मिलाकर इसका काढ़ा पीने से राहत मिलेगी .

-धनिया के साथ परवल के पत्‍ते और जड़ को बराबर मात्रा में लें और काढ़ा बनाएं, इससे बुखार उतरेगा. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज