बच्चों के पेट में हों कीड़े तो इन चीज़ों को करें उनकी डाइट में शामिल

 पेट में कीड़े होने पर बच्चे का मन किसी काम में नहीं लगता है-Image credit/pexels-rodnae-productions

पेट में कीड़े होने पर बच्चे का मन किसी काम में नहीं लगता है-Image credit/pexels-rodnae-productions

पेट में कीड़े (Stomach worms) होने की स्थिति (Situation) में बच्चे को कई तरह की दिक्कतों (Trouble) का सामना करना पड़ता है. इस दिक्कत को दूर करने के लिए उसकी डाइट में इन चीज़ों को शामिल किया जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 18, 2021, 8:17 AM IST
  • Share this:
पेट में कीड़े (Stomach worms) होना आम (Ordinary) बात है लेकिन सबसे ज्यादा ये दिक्कत (Trouble) बच्चों को होती है. वैसे ये दिक्कत भले ही कितनी भी आम हो लेकिन परेशान बहुत करती है. इसकी वजह से बच्चों को भूख न लगना, वजन घटना, ग्रोथ न होना, उदास रहना, किसी काम में मन न लगना, चिड़चिड़ापन, बुखार और पेट दर्द जैसी कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है. अगर आपका बच्चा भी पेट में कीड़े होने की दिक्कत से गुज़र रहा है तो आप इस दिक्कत को दूर करने के लिए कुछ चीज़ों को उसकी डाइट में शामिल कर सकते हैं. वो चीज़ें क्या हैं यहां जानें.

टमाटर, सेंधा नमक और कालीमिर्च 

पेट में कीड़े होने की दिक्कत को दूर करने के लिए बच्चे की डाइट में टमाटर को शामिल कर सकते हैं. इसके लिए कच्चे टमाटर को काटकर उसमें सेंधा नमक और काली मिर्च पाउडर मिलाकर बच्चे को खिलाना चाहिए.

ये भी पढ़ें: अगर आपको भी होती है एंग्जायटी, तो निजात पाने के लिए करें ये घरेलू इलाज
 लौंग या लौंग का पानी


इस दिक्कत को दूर करने के लिए बच्चे को लौंग खिलाई जा सकती है. अगर बच्चा लौंग नहीं खाता है तो लौंग को 5-6 घंटे तक पानी में भिगोकर रख दें. पानी में से लौंग निकाल कर बच्चे को ये पानी पिलाएं.

जीरा और गुड़



जीरा और गुड़ का सेवन भी पेट में कीड़े होने की दिक्कत को दूर करता है. जीरे को भूनकर बारीक पीसकर पाउडर बना लें. इसमें थोड़ा सा गुड़ मिलाकर इसकी गोली बना लें और बच्चे को सुबह शाम खाने को दें.

लहसुन या लहसुन की चटनी

बच्चे के पेट में कीड़े होने की दिक्कत को दूर करने के लिए आप बच्चे को कच्चा लहसुन खाने के लिए दें. अगर वो लहसुन नहीं खाता है तो आप सेंधा नामक मिलाकर लहसुन की चटनी बनाकर उसकी डाइट में सुबह-शाम शामिल कर सकती हैं.

ये भी पढ़ें: ऐसे पहचानें डिप्रेशन के शुरुआती लक्षण, इन घरेलू तरीकों से पाएं निजात

 अजवाइन और गुड़


बच्चे को आधा ग्राम अजवाइन दिन में दो बार खाने को दें. अगर बच्चा न खाये तो अजवायन को पीसकर इसका बारीक पाउडर बना लें. इसमें आधा ग्राम गुड़ मिलाएं और गोली बना कर बच्चे को खाने के लिए दें.

अनार का छिलका

अनार का छिलका भी इस दिक्कत को दूर करने में मदद करता है. इसके लिए अनार के छिलकों को सुखा कर बारीक पीस कर पाउडर बना लें. इस पाउडर को आधा चम्मच सुबह-शाम बच्चे को खिलाएं.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज