Home /News /lifestyle /

health news how to reduce obesity with lifestyle max hospital sleep apnea diabetes hypertension sehat ki baat nodakm

मौत की वजह बन सकता है मोटापे के प्रति आपका लापरवाह नजरिया, पढ़ें विशेष रिपोर्ट

मोटापा हर साल 40 लाख लोगों की मौत का कारण बन रहा है.

मोटापा हर साल 40 लाख लोगों की मौत का कारण बन रहा है.

ग्लोबल बर्डन ऑफ डिजीज की एक स्‍टडी के अनुसार, दुनिया में मोटापे की समस्या किसी महामारी की तरह बढ़ी है. आलम यह है कि हर साल मोटापे या अधिक वजन की वजह से हर साल 40 लाख लोगों से अधिक लोगों की मौत हो रही है. 

नई दिल्ली: को लेकर लापरवाह नजरिया रखने वालों के लिए दो सवाल हैं. पहला सवाल, क्‍या मोटापा किसी की मौत का कारण भी बन सकता है? दूसरा सवाल, क्‍या सिर्फ मोटापे की वजह से कोई शख्‍स गंभीर बीमारियों की चपेट में भी आ सकता है? तो जनाब, दोनों सवालों का जवाब है – हां. मोटापे की समस्‍या न केवल मौत की वजह बन सकता है, बल्कि आपको कई गंभीर बीमारियों की चपेट में भी ला सकता है. ग्लोबल बर्डन ऑफ डिजीज की एक स्‍टडी के अनुसार, दुनिया में मोटापे की समस्या किसी महामारी की तरह बढ़ी है. आलम यह है कि हर साल मोटापे या अधिक वजन की वजह से हर साल 40 लाख लोगों से अधिक लोगों की मौत हो रही है.

क्या है मोटापे को तय करने का फार्मूला
पटपड़गंज स्थित मैक्स इंस्टीट्यूट ऑफ मिनिमल एक्सेस, बैरियाट्रिक एंड रोबोटिक सर्जरी के प्रमुख डॉ. विवेक बिंदल के मुताबिक, बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) के आधार पर तय किया जाता है कि आपकी सेहत दुरुस्‍त है या फिर आप मोटापे की गिरफ्त में आ चुके हैं. आपका बीएमआई आपके कद और वजन के आधार पर तय होता है.

यदि आपका बीएमआई 25 से कम है तो आपकी सेहत ठीक है. यदि आपका बीएमआई 25 से 30 के बीच है, तो आपका वजन अधिक है. इस वजन को खानपान और लाइफ स्‍टाइल में सुधार कर ठीक किया जा सकता है. वहीं, यदि आपका बॉडी मास इंडेक्‍स 30 से अधिक है तो आप मोटापे की गिरफ्त में आ चुके है.

नि:संतानता की वजह भी बन सकता है मोटापा
पटपड़गंज मैक्स हॉस्पिटल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. कौसर शाह के अनुसार, लाइफस्टाइल से जुड़ी मोटापा की यह बीमारी डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, कार्डियक समस्याएं, अनिद्रा, जोड़ों का दर्द, नि:संतानता आदि जैसी कई गंभीर समस्याएं भी उत्पन्न कर सकता है. यदि लाइफ स्‍टाइल व खानपान में सुधार के बावजूद आपका वजन नियंत्रण में नहीं आ रहा है तो आप इस गंभीर बीमारी से निजात पाने के लिए विशेषज्ञ चिकित्‍सकों की सलाह ले सकते हैं.

डॉ. कौसर शाह के अनुसार, डॉक्‍टर्स की देखरेख में की गई सुपर स्पेशियलाइज्ड प्रक्रियाएं न सिर्फ मरीज को मोटापे और अनियं‍त्रित वजन से निजात दिलाती हैं, बल्कि समस्त परिवार के लिए अनुकूल बदलाव ला सकती हैं. इस तरह की प्रक्रियाएं अनियंत्रित मोटापा और संबंधित बीमारियों से पीड़ित बहुत सारे मरीजों की मदद कर चुकी हैं. बीते दिनों, 206 किलो के मानविंदर और 168 किलो के मनप्रीत को बढ़ते वजन और मोटापे की समस्‍या से निजात दिलाई गई है.

यह भी पढ़ें: Obesity Disease: मानविंदर और मनप्रीत ने 30 दिनों में घटाया 20 किलो तक वजन, पढ़ें कैसे?

Tags: Health News, Max Hospital, Obesity, Sehat ki baat

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर