आंखें हैं अनमोल, गर्मियों में इस तरह रखें इनका ख्‍याल

अपने भोजन में ढेर सारे फल और सब्जियों को शामिल करें.Image Credit : Pexels/Designecologist

अपने भोजन में ढेर सारे फल और सब्जियों को शामिल करें.Image Credit : Pexels/Designecologist

दरअसल आंखें (Eyes) हमारे शरीर की सबसे महत्‍वपूर्ण हिस्‍सों में से एक हैं जो काफी नाजुक होतीं हैं. इनकी अगर सही देखभाल (Care) ना की जाए तो हमें कई परेशानियों (Problems) का सामना करना पड़ सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 18, 2021, 6:19 AM IST
  • Share this:
गर्मी (Summer) की तपिश जारी है. ऐसे में तेज धूप में निकलना किसी सजा से कम नहीं लगता. इस मौसम में घर पर ही रहना हम सभी चाहते हैं लेकिन होम ऑफिस और होम स्‍कूल की वजह से घर पर भी हमें घंटों लैपटॉप के सामने काम करना पड़ता है जिसका सबसे बुरा प्रभाव हमारी आंखों (Eyes) पर पड़ता है. कोरोना (Corona) संक्रमण की वजह से लगभग एक साल से हम इसी लाइफ स्‍टाइल में जी रहे हैं जिससे अब आंखों में जलन, खुजली, दर्द, दूर का न दिखना जैसी समस्‍याएं आम बात हो गई है. मेडलाइनप्‍लस के अनुसार, दरअसल आंखें हमारे शरीर की सबसे महत्‍वपूर्ण हिस्‍सों में से एक हैं जो काफी नाजुक होतीं हैं. इनका अगर सही देखभाल ना किया जाए तो हमें कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. तो आइए जानते हैं कि आखिर हम अपनी आंखों का किस तरह केयर कर सकते हैं.

1.हेल्‍दी और बैलेंस्‍ड भोजन करें

अपने भोजन में ढेर सारे फलों और सब्जियों को शामिल करें. खासतौर पर डार्क येल्‍लो और हरी पत्‍तेदार सब्जियां आंखों की सेहत के लिए बहुत जरूरी है. अपने भोजन में ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरी फिश यानी सैल्‍मन, टूना आदि को शामिल करें. इसके अलावा अखरोट आदि ड्राई फ्रूट्स भी आंखों के लिए काफी फायदेमंद हैं.

2.ओबेसिटी से बचें
अपने वजन को अधिक बढ़ने ना दें. वजन बढ़ने से आप डायबिटीज जैसी बीमारियों के संपर्क में आ सकते हैं और डायबिटीज रेटिनो रेटिनोपैथी या ग्लूकोमा का शिकार हो सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : वर्क फ्रॉम होम से हो चुके हैं परेशान तो अपनाएं ये उपाय, पहले से बेहतर करेंगे महसूस

3.रोजाना व्‍यायाम करें



रोजाना व्‍यायाम करने से आप डायबिटीज, कोलेस्‍ट्रॉल, ब्‍लड प्रेशर आदि को कंट्रोल रख सकेंगे. दरअसल इन सब वजहों से भी आंखों की रौशनी प्रभावित होती है. ऐसे में रोजाना व्‍यायाम करने से आंखों में विजन की समस्‍या दूर रहेगी.

4.सनग्‍लास का करें प्रयोग

तेज धूप आंखों के लिए बहुत हानिकारक होता है. सन एक्‍सपोजर की वजह से हीं आंखों में कैटरेक्‍ट यानी मोतियाबिंद होता है. अगर आप धूप में सनग्‍लास का प्रयोग करते हैं तो यूवी ए और यूवी बी रेडिएशन से आंखों को 99 प्रतिशत बचा पाते हैं.

5.स्‍मोकिंग से रहें दूर

स्‍मोकिंग की वजह से आंखों में एज रिलेटेड बीमारियां जैसे ऑप्टिक नर्व का डैमेज होना, कैटरेक्‍ट आदि की संभावना कई गुना बढ़ जाती है. इससे दूर रहें.

6.अपनी फैमिली मेडिकल हिस्‍ट्री की जानकारी रखें

आंखों की कई समस्‍याएं फैमिली हिस्‍ट्री से आती है. ऐसे में अपने डॉक्‍टर से इस विषय पर डिस्‍कस करें और पहले से किन चीजों में एहतियात बरतनी चाहिए ये जान लें.

इसे भी पढ़ें : क्‍या है अप्लास्टिक एनीमिया, इन कारणों से नहीं बनता शरीर में नया ब्‍लड

7.कॉन्‍टैक्‍ट लेंस पहनते समय रखें सावधानी

कॉन्‍टैक्‍ट लेंस पहनने से पहले हाथों की अच्‍छी तरह से सफाई करें. इनके सॉल्‍यूशन को हमेशा कैरी करें और जब भी आंखों में धूल पड़ने आदि समस्‍या लगे तो हाथों को सा‍बुन से साफकर सॉल्‍यूशन की मदद से लेंस को क्‍लीन करें. इसके बाद ही दुबारा प्रयोग करें.

8.20-20-20  फॉर्मूला का करें प्रयोग

कंप्‍यूटर पर काम करते वक्‍त इस फॉर्मूला का प्रयोग करें. यानी काम के बीच बीच में 20 मिनट में, 20 सेकेंड के लिए, 20 फीट की दूरी पर देखें. इससे आंखों का स्‍ट्रेस कम होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज