होम /न्यूज /जीवन शैली /

अगर आप अपनी जिंदगी में खुश रहना चाहते हैं तो इन आसान तरीकों को अपनाइए

अगर आप अपनी जिंदगी में खुश रहना चाहते हैं तो इन आसान तरीकों को अपनाइए

अगर हम खुश रहते हैं, तो सेहत अच्छी होती है, अगर में दुखी रहते हैं, तो सेहत बिगड़ने लगती है. (Image:shutterstock)

अगर हम खुश रहते हैं, तो सेहत अच्छी होती है, अगर में दुखी रहते हैं, तो सेहत बिगड़ने लगती है. (Image:shutterstock)

simple ways to become happy person: जब आप फिजिकल एक्टिविटी को बढ़ाते हैं, तो बॉडी में इंडॉर्फिन (endorphin) हार्मोन रिलीज होता है. यह हार्मोन आपको खुशी महसूस कराता है.

    simple ways to become happy person: खुश रहना जीवन की सबसे बड़ी सफलता है. जिसने जीवन में खुश रहना सीख लिया, उसने जीवन जी लिया, लेकिन खुशी इतनी सस्ती भी नहीं है. हर कोई जानता है खुश रहना सेहत के लिए अच्छा है, लेकिन हम में से कितने लोग हैं, जो वास्तव में खुश हैं. अधिकांश लोग अपनी-अपनी परेशानियों को लेकर तरह-तरह की चिंताओं में पड़े रहते हैं. कोरोना काल में हर शख्स के चेहरे पर तनाव देखा जा रहा है. कोरोना ने तो एक तरह से दुनिया भऱ से खुशी छीन ही लिया है. खुशी और दुखी के बीच का सीधा संबंध सेहत से है. टीओआई की खबर के मुताबिक अगर हम खुश रहते हैं, तो सेहत अच्छी होती है, अगर में दुखी रहते हैं, तो सेहत बिगड़ने लगती है. हम अपने अंदर जितनी नकारात्मक ऊर्जा भरते हैं, कार्टिसोल हार्मोन का प्रभाव बढ़ता जाता है और दुखी रहने लगते हैं. लेकिन अगर हम सकारात्मक विचारों से भरे रहते हैं, तो डोपामाइन हार्मोन हमारे शरीर में दौड़ता रहता है. डोपामाइन को हैप्पी हार्मोन भी कहा जाता है. इसलिए खुश रहना बेहद जरूरी है. अगर आप अपने जीवन में खुश रहना चाहते हैं, तो इन आसान तरीकों पर अमल कीजिए.

    इन तरीकों को अपनाएं

    इसे भी पढ़ेंः  दिल के मरीजों को हार्ट अटैक और स्ट्रोक के जोखिम से बचाती है वॉक

    एक्सरसाइज या डांस: एक्सरसाइज और डांस में कौन बेहतर है, इसके चक्कर में पड़ने से अच्छा है कि आप अपनी बॉडी को किस रूप में एडजस्ट करते हैं. अगर आप एक्सरसाइज करते हैं, आपकी बॉडी से एंडोर्फिन हार्मोन निकलता हैं जो आपको खुशी का अहसास कराता है. अगर आप एक्सरसाइज नहीं कर सकते तो आप उसकी जगह डांस भी कर सकते हैं. डांस करने के लिए आप डांस की क्लास ले सकते हैं या फिर इंटरनेट की मदद ले सकते हैं. यानी एक्सरसाइज और डांस दोनों बेहतर है.

    इसे भी पढ़ेंः वायु प्रदूषण से बुजुर्गों को इन बीमारियों का हो सकता है खतरा, ऐसे करें बचाव

    सही चीज़ों पर फोकस करें: सही चीजों पर अपना ध्यान फोकस करें. जीवन में जिस चीज को देखें फुल डेडिकेशन के साथ देखें. आपके पास जो भी है उसके साथ खुश रहिए.

    जो मन करें वही करें: आप इस चीज के बारे में मत सोचें कि फलां ने ये काम किया है, तो मुझे भी यही करना है. आप क्या करना चाहते हैं, इसका निर्णय खुद करें. अपनी पसंद के मुताबिक काम करेंगे तो आप आगे बढ़ेंगे और आप खुश भी रहेंगे.

    म्यूजिक सुने: अपनी पसंद के मुताबिक म्यूजिक सुनें. म्यूजिक आपको सकारात्मक रखता है. अगर आप कुछ शो देखना चाहते हैं तो वो भी सकारात्मक ही देखें.

    अच्छे लोगों की संगति में रहें: अच्छे लोगों की संगति में रहना बेहद जरूरी है. अच्छे लोगों से मतलब है ऐसे लोग जिनमें नकारात्मकता नहीं हो. खुश रहने के लिए नकारात्मक सोच के लोगों से दूरी बनाना बेहद जरूरी है. जिन लोगों की सोच सकारात्मक हो उनके साथ ही आप रहे तभी आप खुश रह सकते हैं.

    Tags: Health, Lifestyle

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर