इन लक्षणों को न करें नज़रअंदाज़, हो सकता है माइग्रेन  

माइग्रेन के लक्षणों की अनदेखी न करें, बढ़ सकती है परेशानी

माइग्रेन के लक्षणों की अनदेखी न करें, बढ़ सकती है परेशानी

सिर दर्द, दृष्टि सम्बन्धी दिक्कत (Vision Problem), सुन्नपन (Numbness) और वोमिट जैसे लक्षणों को नज़रअंदाज़ न करें, ये माइग्रेन (Migraine) के लक्षण हो सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2021, 6:38 AM IST
  • Share this:
कई बार हम शरीर में हो रही तकलीफों को अनदेखा (Ignore) करते रहते हैं. सिर दर्द हुआ तो पेन किलर खा लेते हैं. आंखों में दिक्कत हुई तो आई ड्राप डालकर काम चला लेते हैं. इस अनदेखी की कई वजह हो सकती हैं. इन तकलीफों को ऐसे ही होने वाली आम तकलीफ समझ लेना, डॉक्टर के यहां जाने से बचना या फिर बिजी शेड्यूल (Schedule) की वजह से समय न होना. लेकिन कभी-कभी ये अनदेखी किसी बड़ी बीमारी की वजह भी बन सकती है. ऐसी ही एक बीमारी है माइग्रेन (Migraine). जिसके लक्षणों को अनदेखा करना आपके लिए परेशानी का सबब बन सकता है. इसलिए ज़रूरी है की समय रहते आप इन लक्षणों को पहचाने और इसको नज़रअंदाज़ न करते हुए डॉक्टर से संपर्क करें.

माइग्रेन आपके स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में भी जानकारी देता है, ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इसका संबंध अस्थमा, डिप्रेशन और दिल की बीमारी समेत कई अन्य बीमारियों से जुड़ा हो सकता है. तो जानिए माइग्रेन के लक्षणों के बारे में. यहां बताये जा रहे लक्षणों में से अगर आप भी कुछ ऐसा महसूस करते हैं तो इनकी अनदेखी न करते हुए डॉक्टर से संपर्क ज़रूर करें.

ये भी पढ़ें: करेले के बीज, जड़ और पत्तियां भी हैं हेल्थ के लिए फायदेमंद, जानें कैसे करें इनका इस्तेमाल



माइग्रेन के लक्षण
माइग्रेन का मुख्य लक्षण है, सिर में तेज़ दर्द होना. किसी को ये दर्द सिर के एक ओर तो किसी को पूरे सिर में भी हो सकता है.

सिर में होने वाला ये दर्द आपके मूवमेंट की वजह से बढ़ भी सकता है.

तेज़ रोशनी में सिर दर्द का बढ़ जाना. साथ ही रोशनी से घबराना.

सिर दर्द के साथ गर्दन में भी दर्द बने रहना.

किसी-किसी को सिर दर्द के साथ जी मिचलाने और वोमिट की दिक्कत भी हो सकती है.

दर्द होने पर चुपचाप किसी अंधेरी जगह पर लेटे रहने की इच्छा होना.

ये भी पढ़ें: आपको डायबिटीज़ है? जानिए आप को क्या नहीं खाना चाहिए

कमज़ोरी, चक्कर और पसीना आना.

कभी ठंडा तो कभी बहुत ज्यादा गर्मी का अहसास होना.

दृष्टि सम्बन्धी दिक्कतें भी हो सकती हैं. जैसे सोकर उठने पर दीवार या छत पर धब्बे नज़र आना.

आँखों के आगे धागे से गिरते रहने का अहसास होना.

नज़र के सामने चमकीली रोशनी या टेढ़ी-मेढ़ी रेखाएं दिखाई देना. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज