इन लक्षणों से जानें इम्यूनिटी कमजोर होने के बारे में, कोरोना से बचाव के लिए भी है जरूरी

आंतों में मौजूद बैक्टीरिया इम्यून सिस्टम पर सीधा प्रभाव डालते हैं. Image- shutterstock.com

आंतों में मौजूद बैक्टीरिया इम्यून सिस्टम पर सीधा प्रभाव डालते हैं. Image- shutterstock.com

इम्यून सिस्टम कमजोर होने से आप बार-बार बीमार पड़ सकते हैं और आपको ठीक होने में काफी समय भी लग सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2021, 6:22 AM IST
  • Share this:
कोरोना वायरस (Coronavirus) का प्रकोप इस समय देशभर में फैला हुआ है. ऐसे में लोगों से अनिवार्य रूप से मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिग को अपनाने और हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने को कहा जा रहा है. वहीं सरकार लोगों से घर में ही रहने की अपील कर रही है. कई जगहों पर लॉकडाउन (Lockdown) भी लगाया गया है. सिर्फ जरूरी सामान खरीदने के लिए लोग अपने घरों से बाहर आ सकते हैं. वहीं स्ट्रॉन्ग इम्यून सिस्टम भी इस संक्रमण से लड़ाई में अहम भूमिका निभा सकता है. डॉक्टर्स की मानें तो कोरोना वायरस की चपेट में वह लोग आसानी से आ सकते हैं जिनकी इम्यूनिटी कमजोर है.

इम्यून सिस्टम कमजोर होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे कि पहले से कोई बीमारी या फिर जरूरत से ज्यादा सिगरेट या अल्कोहल (Alcohal) पीने की आदत. इसके अलावा अच्छी नींद (Sleep) न लेना और खराब खान-पान से भी इम्यून सिस्टम कमजोर होता है. इम्यून सिस्टम कमजोर होने से आप बार-बार बीमार पड़ सकते हैं और आपको ठीक होने में काफी समय भी लग सकता है. अगर आप में ये 5 लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो जान लें कि आपका इम्यून सिस्टम कमजोर है. आइए जानते हैं कौन से हैं वो लक्षण.

इसे भी पढ़ेंः कोरोना काल में घर में रहने से बढ़ रहा है स्ट्रेस ? इन 3 टिप्स को करें फॉलो

हर समय थकान महसूस होना
ज्यादातर समय थकान और सुस्ती महसूस होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे की नींद पूरी न होना, स्ट्रेस, एनीमिया या क्रोनिक फेटीग सिंड्रोम. अगर आपको इसकी वजह पता नहीं चल रही है और पूरी नींद लेने के बाद भी आप थकान महसूस कर रहे हैं तो समझ जाएं कि आपका इम्यून सिस्टम कमजोर है.

बार-बार बीमार पड़ना

मौसम बदलने पर बीमार पड़ना आम बात है लेकिन अगर आप हर मौसम में बार-बार बीमार पड़ जाते हैं, तो ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि आपका इम्यून सिस्टम कमजोर है. इम्यून सिस्टम बैक्टीरिया, वायरस और बीमारी से लड़ता है. अगर आप को अक्सर यूरिन इन्फेक्शन, मुंह के छाले, जुकाम-खांसी या फ्लू की शिकायत रहती है तो अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें.



एलर्जी की समस्या

बहुत से लोगों हर मौसम में एलर्जी की समस्या होने लगती है जिसकी वजह से उन्हें मौसमी बुखार होता रहता है. अगर आपकी आंखों में हमेशा पानी रहता है, खाने की किसी चीज से आपको रिएक्शन हो जाता है, स्किन रैशेज, जोड़ों में दर्द और पेट में हमेशा दिक्कत रहती है तो ये भी आपके इम्यून सिस्टम के कमजोर होने का एक संकेत हो सकता है.

घाव भरने में समय लगना

घाव भरने के दौरान स्किन पर सूखी पपड़ी बनती है जो खून को शरीर से बाहर निकलने से रोकती है. अगर आपका घाव जल्दी नहीं भरता है तो हो सकता है कि आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हो. यही समस्या सर्दी और फ्लू के साथ भी है. ज्यादातर लोग एक सप्ताह के बाद ठीक हो जाते हैं, लेकिन अगर आपको अधिक समय फ्लू रहता है, तो हो सकता है कि आपका शरीर संक्रमण से नहीं लड़ पा रहा है. हालांकि कई बार घाव भरने में समय लगना डायबिटीज का भी लक्षण हो सकता है.

इसे भी पढ़ेंः डाइट में शामिल करें 'अरबी की सब्जी', ब्लड प्रेशर से लेकर शुगर लेवल तक रखता है कंट्रोल में

पाचन की समस्या

आंतों में मौजूद बैक्टीरिया इम्यून सिस्टम पर सीधा प्रभाव डालते हैं. अगर आपको बार-बार लूज मोशन, अल्सर, गैस, सूजन, ऐंठन या कब्ज की शिकायत रहती है तो यह इस बात का संकेत हो सकता है कि आपका इम्यून सिस्टम सही से काम नहीं कर रहा है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज