Home /News /lifestyle /

कोराना वायरस से अलग है ओमिक्रॉन वेरिएंट के लक्षण, जानिए कैसे बचें इससे

कोराना वायरस से अलग है ओमिक्रॉन वेरिएंट के लक्षण, जानिए कैसे बचें इससे

ओमिक्रॉन के कुछ लक्षण डेल्टा वायरस से अलग दिख रहे हैं.(Image: Shutterstock)

ओमिक्रॉन के कुछ लक्षण डेल्टा वायरस से अलग दिख रहे हैं.(Image: Shutterstock)

Symptoms of Omicron variant: अब तक ओमिक्रॉन (Omicron) वेरिएंट को लेकर बहुत ज्यादा जानकारी हासिल नहीं हुई है लेकिन विशेषज्ञों का मानना है कि ओमिक्रॉन डेल्टा वेरिएंट की तुलना में बहुत तेजी से दूसरों को संक्रमित करता है. वैज्ञानिकों ने अगाह किया है कि भले ही ओमिक्रॉन फिलहाल बहुत ज्यादा घातक नहीं दिख रहा है लेकिन इसकी संक्रमण दर की गंभीरता से इंकार नहीं किया जा सकता है. इसलिए हर हाल में सतर्कता की जरूरत है. ओमिक्रॉन वेरिएंट से बचने के लिए सभी सरकारी गाइडलाइन का पालन किया जाना जरूरी है.

अधिक पढ़ें ...

    Symptoms of Omicron variant: कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) से पूरी दुनिया में हड़कंप मचा हुआ है. अब तक इस वेरिएंट को लेकर बहुत ज्यादा जानकारी हासिल नहीं हुई है लेकिन विशेषज्ञों का मानना है कि ओमिक्रॉन डेल्टा वेरिएंट की तुलना में बहुत तेजी से दूसरों को संक्रमित करता है. हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि अब तक इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि ओमिक्रॉन डेल्टा वेरिएंट की तुलना में तेजी से फैलता है या नहीं लेकिन यह चिंता का विषय जरूर है. हालांकि ओमिक्रॉन के लक्षणों के बारे में भी स्पष्ट संकेत नहीं मिले हैं लेकिन ओमिक्रॉन से संक्रमित व्यक्तियों में होने वाली परेशानियों के आधार पर इसके कुछ लक्षण डेल्टा वायरस से अलग दिख रहे हैं.

    ओमिक्रॉन के क्या हैं लक्षण
    भारत में ओमिक्रॉन वेरिएंट का पहला मामला तंजानिया से आए एक व्यक्ति में पाया गया. इसके बाद जिन पांच लोगों में ओमिक्रॉन कंफर्म हुआ, उनमें प्रमुख रूप से गले में खराश, कमजोरी और बदन दर्द के लक्षण देखे गए. हालांकि तीनों लक्षण बहुत हल्के थे. दक्षिण अफ्रीकी डॉक्टर ने ओमिक्रॉन के जो लक्षण चिन्हित किए, वे पहले के वेरिएंट से बिल्कुल अलग थे. कई मरीजों पर विश्लेषण करने के बाद पाया गया कि ओमिक्रॉन मरीजों में सामान्य सर्दी की परेशानी आम है जबकि और कोई भी लक्षण पहले के वायरस से नहीं मिलते हैं.

    इसे भी पढ़ेंः विंटर डाइट में जरूर शामिल करें फिश ऑयल, सेहत के लिए है बहुत फायदेमंद

    हल्के लक्षण दिखते हैं
    टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ जेनेटिक्स एंट सोसाइटी (Tata Institute for Genetics and Society) के निदेशक डॉ राकेश मिश्रा ने बताया कि ओमिक्रॉन से प्रभावित लोग सामान्य सर्दी को लेकर कंफ्यूज हो जाते हैं क्योंकि उन्हें न तो सांस लेने में दिक्कत होती है और न ही स्वाद या गंध जाती है. ये चीजें पहले प्रमुख लक्षणों में थी. उनमें हल्के लक्षण दिखते हैं.

    भारत के पहले पांच मरीजों में दिखें ये लक्षण
    भारत में ओमिक्रॉन के पहले मरीज में कोई लक्षण दिखा ही नहीं जबकि दूसरे मरीज में हल्के लक्षण दिखे. तीसरे मरीज में गले में खराश और कमजोरी जैसे लक्षण देखे गए और चौथे मरीज में हल्का बुखार दिखा. पांचवे मरीज में गले में खराश और बदन दर्द जैसे लक्षण दिखे. इसके अलावा कुछ मरीजों में सिर दर्द, थकान और बदन दर्द की भी शिकायतें आ रही हैं.

    इसे भी पढ़ेंः ओमिक्रॉन से मुकाबला करने के लिए क्या इम्यूनिटी बूस्ट करना ही बेस्ट उपाय है, जानिए सच्चाई

    ओमिक्रॉन से क्या है बचाव (precaution)का तरीका
    वैज्ञानिकों ने अगाह किया है कि भले ही ओमिक्रॉन फिलहाल बहुत ज्यादा घातक नहीं दिख रहा है लेकिन इसकी संक्रमण दर की गंभीरता से इंकार नहीं किया जा सकता है. इसलिए हर हाल में सतर्कता की जरूरत है. ओमिक्रॉन वेरिएंट से बचने के लिए सभी सरकारी गाइडलाइन का पालन करें. मास्क को सही तरीके से लगाएं. भीड़-भाड़ वाली जगहों से बचें. पर्याप्त वेंटिलेशन की व्यवस्था करें. हैंड हाइजीन का ख्याल रखें और हर हाल में वैक्सीन लगवाएं.

    Tags: Health, Lifestyle, Omicron

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर