Home /News /lifestyle /

बच्चे को है कब्ज की समस्या? इन घरेलू नुस्खों से करें इलाज

बच्चे को है कब्ज की समस्या? इन घरेलू नुस्खों से करें इलाज

बदलते लाइफस्टाइल ने बच्चों के पाचन तंत्र को भी बिगाड़ दिया है. (Image: Shutterstock)

बदलते लाइफस्टाइल ने बच्चों के पाचन तंत्र को भी बिगाड़ दिया है. (Image: Shutterstock)

Home remedies for children’s constipation: बदलते लाइफस्टाइल के कारण बच्चों की सेहत पर बुरा असर पड़ रहा है. कोरोना महामारी ने इस परेशानी को और बढ़ा दिया है. यही कारण है कि आजकल के बच्चों को कब्ज (constipation) की समस्या बढ़ गई है. बच्चे जंक फूड का सेवन ज्यादा करने लगे हैं और आउटडोर एक्टिविटी भी उनकी बहुत कम हुई है. यही वजह है कि अधिकांश बच्चे आज कॉन्स्टिपेशन की समस्या से जूझ रहे हैं. गंभीर परिस्थिति में इसी उम्र से बच्चों में फिशर या पाइल्स (fissures and piles) की बीमारी भी हो सकती है. इसलिए जरूरी है कि अगर बच्चे को कॉन्स्टिपेशन हो जाए, तो इसे गंभीरता से लें और इसका तुरंत इलाज करें.

अधिक पढ़ें ...

    Home remedies for children’s constipation: कोरोना के कारण हर इंसान की जिंदगी प्रभावित हुई है. वयस्कों पर इसका असर तो हुआ ही है, बच्चे भी इससे अछूते नहीं हैं. बच्चों को पढ़ाई बाधित हुई है. उनका बाहर खेलना बंद हुआ है. एक तरह से उनकी जिंदगी मोबाइल और टीवी पर सिमट गई है. ऐसे में बच्चों के लाइफस्टाइल में भारी परिवर्तन आया है. उनके सोने के पैटर्न में बदलाव आया है और उनका पाचन तंत्र भी बिगड़ गया है. यही कारण है कि आजकल के बच्चे को कब्ज (constipation) की समस्या ज्यादा होने लगी है. वैसे तो कब्ज (constipation) की समस्या बड़ों के लिए आम बात है.

    अधिकांश लोगों का पाचन तंत्र सही नहीं होता जिसकी वजह से कब्ज या अपच की समस्या हमेशा बनी रहती है, लेकिन बदलते लाइफस्टाइल ने बच्चों के पाचन तंत्र को भी बिगाड़ दिया है जिसकी वजह से उन्हें भी कब्ज की परेशानी होने लगी है.

    इसे भी पढ़ेंः Health news: बर्फीली जगहों पर अचानक फ्रॉस्ट बाइट की समस्या हो जाए, तो एक्सपर्ट से जानिए कैसे करें उपचार

    जंक फूड और आउटडोर एक्टिविटी
    बच्चे जंक फूड का सेवन ज्यादा करने लगे हैं और आउटडोर एक्टिविटी भी उनकी बहुत कम हुई है. यही वजह है कि अधिकांश बच्चे आज कॉन्स्टिपेशन की समस्या से जूझ रहे हैं. कोरोना काल में तो ज्यादातर बच्चों की जिंदगी स्क्रीन पर सिमट गई है. बाहर खेलने का मौका उन्हें कम ही मिल पाता है. इसलिए बच्चे मोटे भी हो रहे हैं और उनमें कॉन्स्टिपेशन की समस्या भी होने लगी है. इंडियन एक्सप्रेस की वेबसाइट के मुताबिक पानी कम पीने की वजह से कॉन्स्टिपेशन की समस्या और बढ़ जाती है. गंभीर परिस्थिति में इसी उम्र से बच्चों में फिशर या पाइल्स (fissures and piles) की बीमारी भी हो सकती है. इसलिए जरूरी है कि अगर बच्चे को कब्ज हो जाए, तो इसे गंभीरता से लें और इसका तुरंत इलाज करवाएं. कुछ घरेलू इलाज हैं जिनकी मदद से बच्चों को कॉन्स्टिपेशन की समस्या से छुटकारा दिलाया जा सकता है. यहां कुछ घरेलू नुस्खे बताए जा रहे हैं, जिनकी मदद से बच्चों में कॉन्स्टिपेशन की समस्या से निजात दिलाई जा सकती है.

    इसे भी पढ़े Foods for Zinc: इन 5 फूड्स की मदद से शरीर में जिंक की कमी को पूरा करें

    कॉन्स्टिपेशन की समस्या से निजात दिलाने के लिए घरेलू उपाय
    जब भी बच्चे सुबह में उठे, तो दिन की शुरुआत गर्म पानी से करवाना चाहिए. खाली पेट में गर्म पानी पीना पेट की हेल्थ के लिए बहुत फायदेमंद होता है.
    सुबह में बच्चों को भींगे हुए मुनक्के खाने के लिए कहें.
    रात में सोते समय आधा गिलास दूध पीने के लिए दें. इसमें अगर थोड़ा सा घी डाल दें, तो और बेहतर रिजल्ट आएगा.
    रात में पेट पर हींग को क्लॉकवाइज डाइरेक्शन में अप्लाई करें.
    कच्चे फूड का सेवन न करें. पका हुआ या उबले हुए फूड का इस्तेमाल करें.

    Tags: Health, Health News, Home Remedies, Lifestyle

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर