Home /News /lifestyle /

health news mothers day 2022 keep your mother mentally and physically fit by these tips in hindi ans

मदर्स डे 2022: मां की सेहत का है ख्याल, तो अपनाएं ये 5 तरीके, नहीं होगा स्ट्रेस, थकान, कमजोरी

मां को लंबी उम्र तक रखना है मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ, तो अपनाएं ये तरीके.

मां को लंबी उम्र तक रखना है मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ, तो अपनाएं ये तरीके.

Mother's Day: आज पूरी दुनिया में 'मदर्स डे' सेलिब्रेट किया जा रहा है. जिस तरह से एक मां अपने बच्चे की सेहत का ख्याल दिन रात रखती है, उसी तरह से बच्चों को भी अपनी मां के बारे में सोचना चाहिए. उनकी सेहत की चिंता करनी चाहिए. यदि आपको है अपनी मां के स्वास्थ्य का ख्याल, तो इन तरीकों से उन्हें रखें हेल्दी और फिट.

अधिक पढ़ें ...

Mother’s Day 2022: आज है ‘मदर्स डे’ यानी मां का दिन. मां को सम्मान देने का दिन. वैसे तो मां का दिन हर दिन ही होता है. उसे इज्जत और सम्मान देने के लिए किसी एक दिन के बंधन में नहीं बंधा जा सकता है. मां ही है जो बच्चे के साथ-साथ पूरे घर-परिवार की जिम्मेदारियों को अकेले निभाती रहती है, बिना थके, बिना रुके, हरदम, हर पल. मां के बिना हर किसी की जिंदगी अधूरी सी लगती है. बच्चे के जन्म के बाद से ही एक मां उसकी सेहत का ख्याल रखती है. समय पर खाना खिलाती है और बीमार होने पर दिन-रात उसकी देखभाल करती है और ये सिलसिला बच्चे के बड़े होने तक जारी रहता है.

ऐसे में बच्चों को भी अपनी मां की केयर, सेहत का ख्याल जरूर रखना चाहिए, खासकर 35 की उम्र पार करने के बाद, क्योंकि बढ़ती उम्र में सेहत, खानपान के प्रति लापरवाही बरती जाए, तो कई तरह की शारीरिक समस्याएं शुरू होने लगती हैं. जिस तरह मां अपने बच्चे को कभी प्यार से, तो कभी डांटकर खाना खिलाती है, उसी तरह बच्चों को भी हक जताते हुए अपनी मां की देखभाल करनी चाहिए, उनके स्वास्थ्य, खानपान का ख्याल रखना चाहिए.

इसे भी पढ़ें: मदर्स डे 2022: मां को देखना चाहते हैं लंबी उम्र तक स्वस्थ, तो जरूर कराएं ये 6 हेल्थ चेकअप

यूं रखें अपनी मां की सेहत का ख्याल
35 की उम्र पार करने के बाद हर एक महिला का अपनी सेहत का खास ध्यान रखना जरूरी हो जाता है, ताकि बढ़ती उम्र में कोई गंभीर रोग ना हो. सारा दिन काम करना और खुद के खानपान के प्रति लापरवाही बरतना ठीक नहीं है. ऐसे में बच्चों का फर्ज बनता है कि वे अपनी मां का रूटीन हेल्थ चेकअप करवाएं. अक्सर महिलाएं खून की कमी, स्ट्रेस, थकान, हड्डियों में दर्द, हाई या लो ब्लड प्रेशर, थायरॉएड, डायबिटीज, प्री मेनोपॉज के लक्षणों से जूझती हैं. ऐसे में लेडी डॉक्टर के पास मां को ले जाएं और कुछ नॉर्मल रूटीन जांच करवाएं, ताकि समय रहते ही बीमारी का पता चल जाए.

मां की डाइट का रखें ख्याल
कई बार मांएं सिर्फ अपने बच्चे, पति और घर के अन्य सदस्यों के खानपान का ही ध्यान रखती हैं. खुद समय पर नहीं खाती पीती हैं. घर के कामकाज, जिम्मेदारियों को निभाते-निभाते खुद शारीरिक रूप से कमजोर हो जाती हैं. बढ़ती उम्र में शरीर को हर तरह के पौष्टिक तत्वों की जरूरत होती है. ऐसे में आप ध्यान दें कि आपकी मां फल, हरी सब्जियां, दूध, दही, दालें, अनाज, कैल्शियम, विटामिन डी, आयरन सप्लिमेंट्स, फाइबर भी ले रही है या नहीं.

इसे भी पढ़ें: मदर्स डे 2022: ‘मां के दिन’ को बनाना है खास? इन आइडियाज़ की मदद से मम्मी को स्पेशल फील कराएं

स्ट्रेस, एंग्जायटी से बचाएं
घर की जिम्मेदारियों को संभालते-संभालते अक्सर महिलाओं का स्ट्रेस लेवल कई बार बढ़ जाता है. बच्चे के भविष्य को लेकर भी वे चिंतित रहती हैं. ऐसे में बच्चों को मां की मानसिक सेहत का भी ख्याल रखना चाहिए. उन्हें किसी भी चीज को लेकर अधिक तनाव लेने से बचाएं. मां को खुश रखने की कोशिश करें. आप कुछ ऐसी गलती ना करें, जिससे उनका तनाव बढ़े. यदि आपकी मां अकेला महसूस करती हैं, तो उनके साथ बातें करें, कहीं बाहर घूमाने ले जाएं. सारा दिन घर में काम करने से कोई भी शारीरिक और मानसिक रूप से थक जाएगा.

योग, मेडिटेशन करने के लिए कहें
लंबी उम्र तक आपकी मां स्वस्थ रहे, इसके लिए उन्हें नियमित रूप से योग, मेडिटेशन करने के लिए भी कहें. यह शारीरिक और मानसिक रूप से एक्टिव और फिट रहने का आसान तरीका है. उनकी रूटीन में सुबह सबसे पहले 20 से 30 मिनट योग, एक्सरसाइज और मेडिटेशन को शामिल करें. मां के साथ आप भी योग करें, ताकि वे बच्चों का साथ पाकर इन फिजिकल एक्सरसाइज को पूरे एन्जॉयमेंट के साथ करें.

सारा दिन काम ही नहीं, आराम भी है जरूरी 
हर किसी को शारीरिक आराम की जरूरत होती है. उम्र बढ़ने के साथ शरीर कमजोर होने लगते हैं. ऐसे में बच्चों को इस बात का भी ख्याल रखना चाहिए कि मां सारा दिन किचन और घर के कामों में ही ना उलझी रहे. उन्हें भी सुकून से बैठने, आराम करने का वक्त मिलने चाहिए. कभी-कभी आप अपनी मां को किचन के कामों से ब्रेक दें. उनके लिए खाना आप बनाएं. घर के काम आप खुद करें. ध्यान रहे कि आपकी मां 7-8 घंटे की नींद हर दिन ले, ताकि थकान ना हो और सुबह ऊर्जा से भरपूर महसूस करें.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर