Home /News /lifestyle /

Roti Side Effect : ज्‍यादा रोटी खाते हैं तो बिगड़ सकती है तबीयत, जानें इसकी वजह

Roti Side Effect : ज्‍यादा रोटी खाते हैं तो बिगड़ सकती है तबीयत, जानें इसकी वजह

अधिक गेहूं की रोटी खाने से नुकसान भी हो सकता है.

अधिक गेहूं की रोटी खाने से नुकसान भी हो सकता है.

Roti Side Effect : ज्यादातर लोग गेहूं से बनी रोटी (Roti) का रोजाना सेवन करते हैं. गेहूं में कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrates) पाया जाता है जिसके अधिक इंटेक से बीपी बढ़ने,वजन बढ़ने आदि की समस्‍या शुरू हो सकती है. दरअसल अगर आप अधिक मात्रा में गेहूं (Wheat) की रोटी खा रहे हैं तो शरीर में ज्यादा कार्बोहाइड्रेट जमा होने लगते हैं और ये फैट में तब्‍दील होकर हृदय रोग, डायबिटीज, ओबेसिटी आदि की समस्‍या का कारण बन सकते हैं. तो आइए जानते हैं कि गेहूं की रोटी अधिक मात्रा में खाने से किस तरह की समस्‍या हो सकती है.

अधिक पढ़ें ...

Roti Side Effect : दक्षिण भारत को छोड़ दें तो देश के अधिकतर हिस्‍सों में रोटी खाने का चलन है. रोटी हमारे खाने का अहम हिस्सा है जिसके बिना हमारी भूख शांत नहीं होती. यहां लोगों को मानना है कि रोटी चावल की तुलना में अधिक फायदेमंद है और इसके सेवन से मोटापा (Obesity) भी नहीं चढ़ता. अधिकतर जगहों पर गेहूं (Wheat Roti) से तैयार रोटी ही बनाई जाती है. रोटी बनाने में इस्तेमाल होने वाले आटे में ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो हमारे शरीर में विषैले पदार्थों को बनने से रोकते हैं और हमारा खून पूरी तरह से शुद्ध होता रहता है. रोटी में काफी मात्रा में कैल्शियम और प्रोटीन भी पाया जाता है जो हमारी हड्डियों को मजबूत करता है.

फाइबर से भरपूर रोटी खाने में हल्की होती है और हमारे पाचन को दुरुस्त रखती है. लेकिन क्‍या आपको पता है कि अधिक मात्रा में अगर रोज रोटी का सेवन किया  जाए तो इससे हमारी सेहत को नुकसान भी हो सकते हैं. ओनलीमाईहेल्‍थ की एक खबर के मुताबिक, दिन भर सिर्फ रोटी खाने से शरीर को काफी नुकसान भी हो सकता है. मसलन, बाकी पोषक तत्व नहीं मिलना, मोटापा, ब्‍लड शुगर लेवल का बढ़ना, थकान आदि. तो आइए जानते हैं कि अधिक मात्रा में रोटी खाने के क्‍या नुकसान (Side Effects) हो सकते हैं.

रोटी खाने के नुकसान

1.ब्लड शुगर लेवल

ज्यादातर लोग गेहूं से बनी रोटी खाते हैं. गेहूं में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है जो बीपी बढ़ाने का काम कर सकता है. ऐसे में अगर आप अधिक मात्रा में गेहूं की रोटी खा रहे हैं तो जरा सावधानी के साथ ही खाएं.

इसे भी पढ़ें : कच्चा बादाम खाने से लिवर और किडनी को हो सकता है नुकसान, जरा सम्‍हल कर करें इसका सेवन

2.वजन बढ़ना

जी हां, रोटी खाने से भी वजन बढ़ सकता है. दरअसल गेहूं की रोटी के अत्‍यधिक सेवन से शरीर में कार्बोहाइड्रेट्स बढ़ सकते हैं और गेहूं में मौजूद ग्लूटन की मात्रा बढ़ने से शरीर मे फैट बन सकता है.

3.थकान महसूस होना

रोटी में मौजूद कार्बोहाइड्रेट थकान बढा़ने का काम भी करता है. ज्यादा कार्बोहाइड्रेट के सेवन से शरीर में आलस बढ़ता है और हम थकान और आलस महसूस करने लगते हैं.

4.शरीर गर्म होना

जब आप अधिक रोटी खाते हैं तो शरीर में हीट प्रोडक्शन बढ़ता है जिससे गर्मी ज्यादा लगती है. पसीना भी अधिक निकलता है और जिससे शरीर में पानी की कमी हो सकती है.

ये भी पढ़ें: लाल रंग की ये चीजें एक नहीं बल्कि कई दिक्कतों को कर सकती हैं दूर

5.हार्ट की बीमारियां

रोटी में भरपूर कार्बोहाइड्रेट होता है. शरीर में ज्यादा कार्बोहाइड्रेट जमा होने और जमा रह जाने से ये फैट में बदल जाता है जो हृदय रोग, डायबिटीज, ओबेसिटी की समस्‍या का कारण बनने लगता है.

6.पेट की समस्‍या

रोटी खाने के बाद कई बार पेट भारी भारी लगता है और पेट फूलने की समस्या हो जाती है. कई लोगों को गैस और पाचन संबंधी समस्‍या से भी जूझना पड़ता है. इसलिए नियंत्रित मात्रा में रोटी का सेवन शरीर के लिए लाभदायक होता है.

7.प्रोटीन की कमी

अगर आप दिनभर केवल रोटी का सेवन करते हैं तो इससे कार्बोहाइड्रेट शरीर में अधिक हो जाता है और प्रोटीन की कमी हो जाती है. जिस वजह से शरीर में कई तरह की दिक्‍कतें मसलन ओबेसिटी की समस्‍या शुरू हो सकती है. ऐसे में अपने डाइट में सीमित मात्रा में रोटी का सेवन करें और हर तरह को अनाज, फल और सब्जियों को शामिल करें.

Tags: Health, Lifestyle

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर