Home /News /lifestyle /

health news symptoms and easy tips to ease migraine pain in hindi ans

माइग्रेन के दर्द ने जीना कर दिया है मुहाल, इन टिप्स से पाएं इस दर्द से राहत

मालिश करने से भी आप माइग्रेन के दर्द से राहत पा सकते हैं.

मालिश करने से भी आप माइग्रेन के दर्द से राहत पा सकते हैं.

Home Cure of Migraine pain: माइग्रेन का दर्द सिर के एक तरफ होता है और इस दौरान आपको उल्टी, जी मिचलाने, आवाज और रोशनी के प्रति अत्यधिक संवेदनशीलता महसूस हो सकती है. दवाओं से बेशक आप माइग्रेन के दर्द को कम कर सकते हैं, लेकिन कुछ टिप्स को अपना कर देखें, इनसे भी माइग्रेन दर्द को कम किया जा सकता है.

अधिक पढ़ें ...

Tips to ease Migraine Pain: माइग्रेन का दर्द बहुत ही सीवियर होता है और जब होता है, तो लोगों को बेहद तकलीफ होती है. कई बार पूरे दिन यह दर्द बना रहता है, जिससे कोई भी काम करने का मन नहीं करता है. कुछ लोग तो माइग्रेन के दर्द से छुटकारा पाने के लिए दवाई खा लेते हैं, लेकिन बार-बार दवाओं का सेवन भी ठीक नहीं है. माइग्रेन का दर्द सिर के एक भाग या तरफ होता है और इस दौरान आपको उल्टी, जी मिचलाने, आवाज और रोशनी के प्रति अत्यधिक संवेदनशीलता महसूस होती है. दवाओं से बेशक आप माइग्रेन के दर्द को कम कर सकते हैं, लेकिन कुछ टिप्स को अपना कर देखें, इनसे भी माइग्रेन दर्द को कम किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें: माइग्रेन के मरीजों में 20% तक बढ़ जाता है एज-रिलेटेड मैक्युलर डिजनरेशन होने का रिस्क: स्टडी

माइग्रेन के लक्षण
ओन्लीमाईहेल्थ में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, माइग्रेन की समस्या बच्चों, किशोरों, युवाओं, वयस्कों, किसी को भी हो सकती है. यदि आपके आधे सिर में दर्द हो और ऐसा बार-बार हो, तो हो सकता है आपको माइग्रेन की समस्या शुरू हो रही हो. ऐसा होने पर आपको निम्न लक्षण नजर आ सकते हैं-

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • बोलने में परेशानी होना
  • विजन लॉस
  • शरीर में तरल की अधिकता
  • तीव्र दर्द होना
  • पिन और सुई चुभने जैसी संवेदना

इसे भी पढ़ें: माइग्रेन के असहनीय दर्द से चाहते हैं तुरंत आराम, अपनाएं ये घरेलू उपाय

माइग्रेन के दर्द से राहत पाने के टिप्स

  • माइग्रेन का दर्द होने पर कई लोगों में आवाज और रोशनी के प्रति संवेदनशीलता बढ़ जाती है. इससे सिरदर्द और भी अधिक बढ़ जाता है. यदि आपके साथ भी ऐसा होता है, तो आप थोड़ी देर के लिए एकांत में रहें. किसी ऐसे कमरे में दो-तीन घंटे बैठें, जहां न तो आवाज आए और ना ही रोशनी. कोशिश करें थोड़ी देर सोने की, ताकि दर्द कम हो.
  • मालिश करने से भी आप माइग्रेन के दर्द से राहत पा सकते हैं. मसाज शरीर के किसी भी भाग में होने वाले दर्द को कम करने में कारगर साबित होती है. जब माइग्रेन का दर्द हद से अधिक बढ़ जाए, तो फौरन सिर की मालिश करें. माइग्रेन के दर्द को मैनेज करने के लिए मालिश बेहतर तकनीकों में से एक है.
  • जब भी लगे कि आपको माइग्रेन का दर्द शुरू हो रहा है, तो तुरंत अपने माथे, गर्दन के पीछे गर्म या ठंडा सेक लगाएं. ठंडी सिकाई करने से सुन्नता का अहसास होगा और गर्म सिकाई से तनावपूर्ण मांसपेशियों को आराम मिलेगा. कम से कम 15-20 मिनट सिकाई करें, ताकि दर्द कम हो सके.
  • गर्मी के मौसम में गर्म हवाओं में घूमने से भी माइग्रेन का दर्द ट्रिगर कर जाता है. ऐसे में शरीर को ठंडा और हाइड्रेटेड रखने के लिए तरल पदार्थ का सेवन पर्याप्त मात्रा में करें. यदि आप डिहाइड्रेशन के शिकार होंगे, तो इससे माइग्रेन पेन भी बढ़ सकता है. पानी के साथ ही फलों का जूस, नारियल पानी, नींबू पानी, लस्सी, छाछ, सब्जियों का जूस भी खूब पिएं.
  • प्रतिदिन मेडिटेशन करें, ताकि माइग्रेन पेन, सिर दर्द से बचाव हो. मेडिटेशन एक ऐसी थेरेपी है, जो दिमाग को रिलैक्स करती है. मस्तिष्क को आराम पहुंचाती है. स्ट्रेस, एंग्जायटी कम करती है. कई बार अधिक स्ट्रेस में रहने से भी माइग्रेन पेन ट्रिगर करता है, ऐसे में मेडिटेशन जरूर करें.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर