Home /News /lifestyle /

Symptoms of Cold : सर्दियों में अगर शरीर के इन हिस्सों में महसूस हो रहा है दर्द, तो समझ लें ठंड लगी है

Symptoms of Cold : सर्दियों में अगर शरीर के इन हिस्सों में महसूस हो रहा है दर्द, तो समझ लें ठंड लगी है

सर्दी से बचने के लिए अदरक को डाइट में जरूर शामिल करें-Image/

सर्दी से बचने के लिए अदरक को डाइट में जरूर शामिल करें-Image/

Symptoms of Cold : सर्दियों (Winter) के दौरान ठंड लगने की समस्या आम है. ठंड लगने पर गले और छाती में कफ जमा होने के साथ ही वहां दर्द (Pain) महसूस हो सकता है. जो इस बात की स्पष्ट करता है कि हमें ठंड पकड़ चुकी है. इसलिये सर्दियों में हमें ठंड (Cold) और उससे विभिन्न अंगों में पैदा होने वाले दर्द की दिक्कत से बचे रहने के लिये गर्म पानी और दूसरी गर्म तासीर वाली चीजों का सेवन करते रहना चाहिए. साथ ही नियमित तौर पर एक्सरसाइज़ करने की आदत डालनी चाहिये.

अधिक पढ़ें ...

Symptoms of Cold : सर्दियों (Winter) के मौसम में ठंड लगने की समस्या अक्सर हो जाया करती है. इसीलिये इस दौरान हम अपने हाथ-पैरों, कान व गले वगैरह को गर्म या ऊनी (Woolen) कपड़ों से खासतौर पर ढककर रखते हैं. क्योंकि ज्यादातर इन ही अंगों के ज़रिये ही हमें ठंड पकड़ती है, जिसके कुछ ख़ास लक्षण होते हैं. ठंड लगने पर हमें शरीर के कुछ हिस्सों में दर्द (Pain) भी महसूस हो सकता है. जिससे यह साफ हो जाता है कि हमारे शरीर पर ठंड का हमला हो चुका है. ठंड लगने पर हमारे शरीर के कुछ अंगों में दर्द उठने का कारण यह होता है, कि हमारे शरीर के विभिन्न अंग ठंड से लड़ने की अपनी क्षमता पूरी तरह खो चुके होते हैं.

पर अगर हम ठंड लगने पर पैदा होने वाले इन लक्षणों को पहचान लें, तो समय रहते उसका इलाज़ भी संभव है. तो आइये देखते हैं कुछ ऐसी ही बातों को जिनसे पता चलता है कि हमें ठंड लग गई है. ऐसे में समय से उसके उपाय करके हम अपने शरीर के विभिन्न हिस्सों में उठने वाले दर्द को कम कर सकते हैं. आइये जानते हैं कि शरीर के किन हिस्सों में दर्द होना ठंड लगने के संकेत हैं.
गले का दर्द

ठंड पकड़ने पर हमारे गले में अक्सर कफ जमा हो जाता है, जिसके चलते हमें गले में दर्द महसूस हो सकता है. इसलिये सर्दियों में गले को मफ़लर वगैरह से ढककर रखना ही मुफ़ीद है. इसके साथ ही ठंड लगने से गले में दर्द होने पर दवायें लें और पीने के लिये गर्म पानी का इस्तेमाल करें. इसके अलावा ठंडी चीजों से भी परहेज करें. इस तरह आपको गले में दर्द की समस्या से बहुत हद तक राहत मिलती है.

सीने में दर्द

ठंड लगने पर हमारे सीने में भी कफ जमा हो जाता है. जो हमारे रक्त-संचार यानी ब्लड-सर्कुलेशन में बाधा पहुंचाने लगता है. इस वज़ह से सीने में तनाव बढ़ता है और हमें सीने में दर्द का अहसास होता है. इसके लिये गर्म पानी और दूसरी गर्म चीजों का सेवन करें और दवायें लें. साथ ही स्टीम यानी भाप लेने से भी आपको सीने में दर्द की समस्या से बहुत कुछ आराम मिलता है.

कमर का दर्द

ठंड लगने पर कमर में भी दर्द हो सकता है क्योंकि ठंड लगने से कमर की मांसपेशियां अकड़ जाती हैं. यह भी ठंड लगने पर होने वाली एक आम दिक्कत है. सर्दियों के मौसम में रोजाना एक्सरसाइज़ करने की आदत से कमर के दर्द में बहुत राहत मिल सकती है. क्योंकि नियमित रूप से एक्सरसाइज़ यानी कसरत करते रहना हमारी कमर में रक्त-संचार को दुरुस्त बनाये रखता है. जिससे कमर में दर्द की समस्या नहीं पेश आती.

जोड़ों का दर्द

जोड़ों का दर्द भी ठंड लगने पर होने लगता है. एक्सरसाइज़ और जोड़ों पर मालिश के ज़रिये हम इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं. सर्दियों में जोड़ों का दर्द होना या उसका बढ़ जाना अक्सर दिखाई देने वाली एक समस्या है. क्योंकि जकड़न से उनमें रक्त-संचार कम हो जाता है. इस तरह हमें जोड़ों में दर्द होने लगता है. इसलिये सर्दियों में नियमित रूप से एक्सरसाइज़ करें. ब्रिस्क वॉक या फिर स्ट्रैचिंग वाली एक्सरसाइज़ जोड़ों में दर्द की दिक्कत दूर करने में खासतौर पर मददगार साबित होती है.

सिर दर्द

ठंड लगने पर सिर में दर्द उठना सबसे आम बात है. इसलिये सर्दियों के दौरान बाहर निकलते वक़्त हमें टोपी या मफ़लर वगैरह का इस्तेमाल जरूर करना चाहिये. ताकि ठंडी हवाओं के असर से हमारा सिर बचा रहे. यदि हम उसे सुरक्षित रखने का कोई उपाय नहीं करते तो यह सिरदर्द बढ़ भी सकता है. बता दें कि सिर में अधिक ठंड लगने पर ब्रेन-हैमरेज जैसी जानलेवा दिक्कतें भी पैदा हो सकती हैं. इसलिये सर्दियों में हमें अपने सिर और उसके आसपास के हिस्सों को गर्म ऊनी कपड़े से सुरक्षित बनाये रखना चाहिये.
क्या करें

सर्दियों के दौरान हमें विटामिन्स और मिनरल्स व एंटी-ऑक्सीडेन्ट्स से भरपूर फलों और सब्जियों का सेवन बढ़ा देना चाहिये. जैसे आंवला, संतरा, टमाटर, पत्तागोभी वगैरह. ये हमारी इम्यूनिटी को मजबूती देते हैं और इस तरह हम ठंड लगने से काफी हद तक बचे रहते हैं. इसके अलावा नियमित रूप से हल्दी वाले दूध का सेवन करना भी ठंड लगने से बचाये रखने में बहुत कारगर है. साथ ही सर्दियों के दौरान अदरक, लहसुन, गुड़, खजूर या फिर बाजरे जैसी गर्म चीजों का इस्तेमाल भी ठंड लगने की समस्या से बचाने के लिये बहुत फ़ायदेमंद साबित होता है.

ठंड लगने से बचे रहने को हल्के गुनगुने जैतून के तेल की मालिश करना भी बहुत फ़ायदेमंद है. ठंड लगने पर जिस अंग में दर्द महसूस हो रहा हो वहां पर गुनगुने जैतून के तेल से मालिश करना दर्द से काफी राहत देता है. इसके सिवा डिहाइड्रेशन यानी शरीर में पानी की कमी होने पर भी हमारे शरीर के जोड़ों में अकड़न आ सकती है. इससे बचे रहने के लिये बीच-बीच में गुनगुना पानी पीते रहें.

ज़ाहिर है कि अगर हम इन कुछ बातों का ख्याल रखें और गर्म चीजों का सेवन करने के साथ ही नियमित तौर पर एक्सरसाइज़ करने की आदत डाल लें तो ठंड और ठंड लगने से शरीर के विभिन्न हिस्सों में उठने वाले दर्द की समस्या से बहुत कुछ निज़ात पा सकते हैं.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Health, Health tips, Lifestyle, Winter

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर