Home /News /lifestyle /

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से बचना है तो लाइफ स्टाइल में ये बदलाव हैं ज़रूरी

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से बचना है तो लाइफ स्टाइल में ये बदलाव हैं ज़रूरी

पुरूषों को कई बार इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का सामना करना पड़ता है.  (फोटो- Shutterstock)

पुरूषों को कई बार इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का सामना करना पड़ता है. (फोटो- Shutterstock)

Erectile Dis function: ईडी का कारण मधुमेह, हार्ट की बीमारी या प्रोस्टेट से संबंधित उपचार या सर्जरी से भी हो सकता है.

    Erectile Dis function: जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है कुछ न कुछ बदलाव होते रहते हैं. लेकिन बढ़ती उम्र में पुरूषों में कई बार इरेक्टाइल डिसफंक्शन हो सकता है. इरेक्टाइल डिसफंक्शन (ईडी) कई कारणों से हो सकता है. कभी-कभी ये किसी दवा के दुष्प्रभाव के कारण होता है. ईडी का कारण मधुमेह, हार्ट की बीमारी या प्रोस्टेट से संबंधित उपचार या सर्जरी(Surgery) से भी हो सकता है. आप वर्तमान में ईडी से पीड़ित हैं या इस स्थिति को दूर करने की कोशिश कर रहे हैं, बेहतर स्वास्थ्य और बेहतर सेक्स लाइफ(Sex Life) के लिए ईडी को दूर करने के लिए इन उपायों को आजमाएं

    टहलना शुरु करें– हार्वर्ड के एक अध्ययन के अनुसार, जो लोग दिन में केवल 30 मिनट की वॉक करते हैं. उनमें ईडी के जोखिम  41% कम रहता है.अन्य शोध बताते हैं कि हल्का व्यायाम ईडी की दिक्क्त को पुरुषों में कम कर सकती है.

    सही खाएं- एक स्टडी  के अनुसार, फल, सब्जियां, साबुत अनाज और मछली जैसे प्राकृतिक चीजों को खाने में शामिल करें. रिफाइंड अनाज, प्रोसेस्ड मीट न खाएं इससे  ईडी की आशंका बढ़ती है.

    अपने दिल का ध्यान रखेंहाई ब्लड प्रेशर , ब्लड सुगर , कोलेस्ट्रॉल, और उच्च ट्राइग्लिसराइड्स ये सभी दिल की धमनियों को नुकसान पहुंचा सकते हैं. बढ़ती कमर भी सेहत के लिए सही नहीं है. शरीर का आकार सेक्स लाइफ के लिए मायने रखता है. ज़रूरी है की अपने हार्ट और अन्य अंगों की जांच करा लें.

    इसे सुनेंं: PODCAST: ‘पक्षियों की चहचहाहट’ और ‘हवा के झोंकों’ के हैं अद्भुत फायदे

    स्लिम रहें- 42 इंच की कमर वाले व्यक्ति में 32 इंच की कमर वाले व्यक्ति की तुलना में ईडी होने की संभावना 50% अधिक होती है. मोटापा और डाइबिटीज  ईडी के दो प्रमुख कारण हैं. अतिरिक्त वसा कई हार्मोन में हस्तक्षेप करता है इसलिए फैट से दूर रहें.वजन कम करने से इरेक्टाइल डिसफंक्शन से लड़ने में मदद मिल सकती है, इसलिए स्वस्थ वजन रखें और मोटापे से बचें . 

    इसे भी पढ़ेंः इन 4 तरीकों से बढ़ा सकते हैं अपनी फर्टिलिटी और स्पर्म क्वालिटी

    पेल्विक फ्लोर को करें मजबूत- हम आपके बाइसेप्स की बात नहीं कर रहे हैं. मजबूत पेल्विक फ्लोर इरेक्शन के दौरान कठोरता को बढ़ाता है. इससे ब्लड सर्कुलेशन सही होता है. इसके साथ ही ईडी से दूर रहना है तो  – धूम्रपान , वजन कम करना, शराब से दूर रहें. इसके साथ अच्छी लाइफस्टाइल अपनाएं.

    (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    Tags: Health, Health News, Male Fertility

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर