निरोगी रहने के लिए डाइट में शामिल करें ‘रागी’, तनाव घटाने में भी है मददगार

कैल्शियम से भरपूर रागी हड्डियों को बनाएगी मजबूत.

कैल्शियम से भरपूर रागी हड्डियों को बनाएगी मजबूत.

रागी (Ragi) फाइबर से भरपूर होने की वजह से वजन घटाने में भी मददगार है. यही नहीं यह स्‍ट्रेस कम करने में भी सहायक है. रागी के सेवन से कई और स्वास्थ्य लाभ (Health Benefits) होते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2021, 6:26 AM IST
  • Share this:
Ragi Health Benefits : कैल्शियम, विटामिन्स, फाइबर, कार्बोहाइड्रेड सरीखे तमाम जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर रागी (Ragi) को बाजरा, फिंगर या नचनी के नाम से भी जाना जाता है.फाइबर से भरपूर होने की वजह से ये शुगर ठीक करने और वजन घटाने में भी मदद करता है. यही नहीं यह स्‍ट्रेस कम करने में भी सहायक है. आम तौर पर इसे पीसकर या अंकुरित अवस्‍था में खाते हैं. आप रागी का सेवन रोटी के तौर पर कर सकते हैं. आप इसे 7:3 के अनुपात में गेंहू के आटा के साथ मिलाएं और फिर इसकी रोटी बनाकर खाएं. इसकी इडली भी बनाई जा सकती है.अगर इसका रेगुलर सेवन किया जाए तो यह शरीर में खून की कमी को भी पूरा करता है. रागी के दाने बहुत ही छोटे होते हैं, इसलिए इसे पॉलिश या प्रोसेस करने की संभावना नहीं होती. जिस वजह से इसमें मिलावट की भी संभावना नही रहती है.ऐसे में निरोगी रहने के लिए रागी का सेवन जरूर करें.

रागी के फायदे

  1. कैल्शियम से भरपूर-


किसी भी अनाज से तुलना की जाए तो रागी के आटे में कैल्शियम सबसे अधिक पाया जाता है.  यह एकमात्र ऐसा नॉन-डेयरी प्रोडक्टक्स है जिसमें में इतनी मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है जिस वजह से अगर आप हड्डी की समस्‍या से जूझ रहे हैं तो इसके नियमित उपयोग से आप अपनी हड्डियों और दांतों को मजबूत बना सकते हैं. इसके अलावा ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम में भी यह बहुत ही उपयोगी है.



2. डायबिटीज़ नियंत्रण में सहायक

अगर आप डायबिटीज या मधुमेह से जूझ रहे हैं तो अनाज के तौर पर रागी आपके लिए बेहतर विकल्‍प है. रागी में चावल, मक्का या गेहूं की तुलना में हाई पॉलीफेनोल और डायटरी फाइबर भरपूर मात्रा में मिलता है जिससे आप ग्‍लूकोज को नियंत्रित रख सकते हैं. इसे आप ब्रेकफास्‍ट से लेकर लंच या डिनर में भी खा सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : स्‍ट्रॉन्‍ग इम्‍यूनिटी चाहिए तो पैक्‍ड फूड से बनाएं दूरी, नए शोध में हुआ खुलासा, जानें वजह
 

3. तनाव घटाने में सहायक

रागी में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सिडेंट होता है जो तनाव को घटाने में सहायक है. इसके अलावा एंग्ज़ायटी, डिप्रेशन और अनिद्रा से निपटने में भी रागी का नियमित सेवन बहुत फ़ायदेमंद साबित होता है.

4. वजन घटाने में मददगार

डाइटरी फाइबर तुरंत डायजेस्‍ट नहीं होता और कई घंटों तक हमारे पेट को भरा रखता है जिस वजह से हमें लंबे समय तक भूख नहीं लगती और इससे वेट भी कम होता है.

इसे भी पढ़ें : कहीं आपकी स्किन को डिटॉक्स की जरूरत तो नहीं? जानिए 

5. एनिमिया में भी है फायदेमंद

रागी आयरन का अच्छा सोर्स होता है. ऐसे में अगर आपको खून की कमी है तो कम हिमोग्लोबिन वाले मरीजों के लिए यह लाभदायक होता है. अगर रागी को अंकुरित करके खाया जाए तो इसमें विटामिन सी का लेवल भी बढ़ जाता है. इसमें मौजूद आयरन शरीर में आसानी से पच जाता है और खून में आसानी से घुल जाता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज