Home /News /lifestyle /

इन छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखेंगे, तो नहीं होगा डिमेंशिया

इन छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखेंगे, तो नहीं होगा डिमेंशिया

 मैमोरी का कमजोर पड़ना मुख्य लक्षण होता है. (फोटो- shutterstock.com)

मैमोरी का कमजोर पड़ना मुख्य लक्षण होता है. (फोटो- shutterstock.com)

Tips To Prevent Dementia: डब्ल्यूएचओ (WHO) की मानें तो हर साल करीब 10 करोड़ (10 Million) नए मामले डिमेंशिया के आते हैं. डिमेंशिया को साधारण भाषा में भूलने की बीमारी कहते हैं, हालांकि ये बीमारी का नाम नहीं है, बल्कि एक बड़े लक्षणों के ग्रुप का नाम है. जब आप बहुत अकेले रहते हैं और लोगों से मिलते जुलते नहीं है, तो आपमें डिमेंशिया होने के आशंका बढ़ जाती है. इसलिए जरूरी है कि आप अपने पड़ोसियों,रिश्तेदारों के संपर्क में रहें.

अधिक पढ़ें ...

    Tips To Prevent Dementia-अपने आसपास अक्सर हम बहुत सारे लोगों को देखते हैं जो कहीं ना कहीं भूलने की बीमारी का शिकार हो जाते हैं. खास करके यह दिक्कत बुढ़ापे में होती है, जिसे डिमेंशिया कहते हैं. दुनिया में लाखों लोग इस बीमारी की चपेट में हैं. डब्ल्यूएचओ (WHO) की मानें तो हर साल करीब 10 करोड़ (10 Million)  नए मामले डिमेंशिया के आते हैं. ऐसे में सवाल यह उठता है कि क्या इस समस्या से बचा जा सकता है?  यहां कुछ ऐसे सुझाव हैं जिनको अपनाकर हम डिमेंशिया के रिस्क को कम कर सकते हैं. कुछ छोटी-छोटी चीजों का अगर हम ध्यान रखें तो डिमेंशिया को मात दिया जा सकता है. 

    यह भी पढ़ें :डिमेंशिया का अब समय रहते ही पता चल जाएगा, इलाज में मिलेगी मदद – रिसर्च

    आहार हो सही

    स्वस्थ आहार  न सिर्फ कैंसर, हार्ट अटैक और डायबिटीज से बचाता है बल्कि यह हमारे ब्रेन की हेल्थ के लिए भी बहुत जरूरी है. डब्ल्यूएचओ के हिसाब से अपने खाने में ढेर सारी सब्जियां, फल, मछली, मेवे और ऑलिव ऑयल को शामिल करना चाहिए. इसके अलावा मेडिटेरियन डाइट भी डिमेंशिया के रिस्क को कम कर सकती है.

    व्यायाम करें

    व्यायाम  शारीरिक सेहत के साथ मानसिक सेहत के लिए भी बहुत जरूरी है. आप उम्र के किसी भी पड़ाव पर हों जोगिंग, वाकिंग जरूर करें. इससे मानसिक सेहत अच्छी रहती है और डिमेंशिया का खतरा कम होता है. डिमेंशिया को दूर करने के लिए योग का सहारा भी फायदेमंद होता है. योग और ध्यान से एकाग्रता की क्षमता बढ़ती है जिससे डिमेंशिया के जोखिम को कम किया जा सकता है. 

    शराब सिगरेट से बनाएं दूरी

    डब्ल्यूएचओ यह भी कहता है डिमेंशिया उन लोगों में होने की आशंका ज्यादा होती है. जो स्मोकिंग करते हैं. इसलिए जरूरी है कि धूम्रपान से दूर रहें. इसके अलावा अल्कोहल से भी परहेज करें. 

    यह भी पढ़ें :खुश हों तो जरूर बजाएं ताली, जानें Clapping Therapy के कमाल के फायदे

    लोगों से मिलते-जुलते रहें 

    जब आप बहुत अकेले रहते हैं और लोगों से मिलते जुलते नहीं है, तो आपमें डिमेंशिया होने के आशंका बढ़ जाती है. इसलिए जरूरी है कि आप अपने पड़ोसियों,रिश्तेदारों के संपर्क में रहें. इससे यह बीमारी होने का खतरा कम रहता है.

    (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    Tags: Health, Lifestyle

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर