• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • Gluten Intolerance: इन फूड्स में पाया जाता है ग्लूटेन, सेहत के लिए है बहुत नुकसानदायक

Gluten Intolerance: इन फूड्स में पाया जाता है ग्लूटेन, सेहत के लिए है बहुत नुकसानदायक

आमतौर पर ग्लूटेन का प्रयोग खाद्य उत्पादन को गाढ़ा और स्टेबलाइज करने के लिए किया जाता है. Image Credit : shutterstock

आमतौर पर ग्लूटेन का प्रयोग खाद्य उत्पादन को गाढ़ा और स्टेबलाइज करने के लिए किया जाता है. Image Credit : shutterstock

Gluten Intolerance : हमारे भोजन में मौजूद ग्‍लूटेन (Gluten) सेहत को किस तरह नुकसान (Harmful) पहुंचाता है इसकी जानकारी हम यहां लेकर आए हैं. आइए जानते हैं कि विस्‍तार से.

  • Share this:
    Gluten Intolerance : आपने कई खाद्य पदार्थ के पैकेजिंग पर ग्‍लूटेन फ्री टैग देखा होगा. लेकिन क्‍या आपको पता है कि दरअसल ये है क्‍या और इसका हमारे शरीर पर क्‍या प्रभाव पड़ सकता है? अगर आप नहीं जानते हैं तो हम यहां आपको इसकी जानकारी देते हैं. दरअसल ग्लूटेन (Gluten) एक कलेक्टिव टर्म है जो प्रोलामिन नामक भंडारण प्रोटीन के परिवार से आता है. आमतौर पर ग्लूटेन गेहूं, जौ, राई जैसी चीजों पाए जाते हैं. भोजन (Food) जब गर्म होता है तो ग्लूटेन एक लोचदार नेटवर्क बनाता है. कई विशेषज्ञ ग्लूटेन के हानिकारक (Bad Effects) प्रभाव को लेकर सचेत करते आए हैं. खासकर उन लोगों के लिए यह काफी हानिकारक हो सकता है जो सीलिएक रोग से पीड़ित हैं.

    किनके लिए है ग्लूटेन हानिकारक

    अगर आप किसी तरह की हेल्‍थ समस्‍या से जूझ रहे हैं तो आपको ग्लूटेन फ्री डाइट का चयन करना बेहतर होगा. उदाहरण के तौर तपर सीलिएक डिजीज, व्हीट एलर्जी, इरीटेबल बाउल सिंड्रोम या गैर-सीलिएक ग्लूटेन संवेदनशीलता  आदि की समस्‍या हो तो आप ग्‍लूटेन पदार्थों से दूर रहें. लेकिन अगर आप इस तरह की समस्‍या से परे हैं तो भी जहां तक हो सके कम से कम इनका सेवन करें. जब भी आप इनका सेवन करें तो फाइबर, न्‍यूट्रिशन युक्‍त भोजन का अधिक से अधिक प्रयोग करें.
    इसे भी पढ़ें : सरसों के तेल के फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान, जानिए कैसे करें इसका इस्‍तेमाल



    क्‍यों होता है ग्लूटेन सेंसिटिविटी

    शोध में पता चला है कि ग्लूटेन असहनशीलता तब होती है जब गेहूं में पाए जाने वाला ग्लूटेन प्रोटीन, पेट के अंदर मौजूद कोशिकाओं में प्रतिकूल प्रतिक्रियाएं उत्पन्न कर देता है. इस प्रोसेस को ही ग्लूटेन सेंसिटिविटी का कारण माना जाता है.

    इन फूड्स में होता है ग्लूटेन

    आमतौर पर ग्लूटेन का प्रयोग खाद्य उत्पादन को गाढ़ा और स्टेबलाइज करने के लिए किया  जाता है. ऐसे में  इसका वर्गीकृत करना आसान नहीं होता. लेकिन अधिकतर ये प्रोसेस्ड फूड में पाया जाता है. उदाहरण के तौर पर ब्रेड, पिज्जा, पास्ता, ब्रेडक्रम्स, नूडल्स, वेजी बर्गर, पेस्ट्री, कुकीज आदि. अनाज की बात करें तो गेहूं, जौ, गेहूं की भूसी, राई, फारो, सूजी, ड्यूरम गेहूं, बुलगुर, मीर, फटा गेहूं आदि में ग्‍लूटेन पाया जाता है.पेय पदार्थों की बात करें तो सोया सॉस, बीयर, फ्लेवर्ड चिप्स, कुछ सलाद ड्रेसिंग, माल्ट सिरका, जौ माल्ट, कुछ मसाला मिश्रण और कुछ प्रकार की वाइन में भी ये मिलते हैं.

    ग्लूटन फ्री फूड आइटम्स की इस तरह करें पहचान

    शोधों से यह भी पता चला है कि ग्लूटेन फ्री डाइट ग्लूटेन युक्त खाद्य पदार्थों की तुलना में आयरन, फोलिक एसिड और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर नहीं होते हैं. उनमें फाइबर कम और चीनी और वसा अधिक होती है. ऐसे फूड अधिक महंगे भी होते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज