• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • HEALTH NEWS WORLD HYPERTENSION DAY 2021 THEME AND A FEW IMPORTANT FACTS PRA

World Hypertension Day 2021: वर्ल्ड हाइपरटेंशन डे आज, जानें थीम और इससे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

हाई ब्‍लड प्रेशर के अज्ञात लक्षणों के कारण इसे साइलेंट किलर भी कहा जाता है. Image Credit : Pixabay

World Hypertension Day 2021: अधिकतर मामलों में लोगों को पता ही नहीं होता कि वे हाइपरटेंशन (Hypertension) के शिकार हैं. दुनियाभर में लाखों ऐसे लोग हैं जो जानकारी के अभाव में अपनी जान से हाथ धो बैठते हैं.

  • Share this:
    World Hypertension Day 2021:   आज विश्व उच्च रक्तचाप दिवस मनाया जा रहा है. हर साल दुनियाभर में 17 मई को विश्व उच्च रक्तचाप दिवस मनाया जाता है. उच्‍च रक्‍तचाप यानी कि हाई ब्‍लड प्रेशर ( High Blood Pressure) एक ऐसी अवस्‍था है जिससे हार्ट अटैक, हार्ट स्ट्रोक, मनोभ्रंश, क्रोनिक किडनी डिजीज और दृष्टि हानि जैसी गंभीर स्वास्थ्य समस्‍याएं किसी को भी हो सकती हैं. इसे हाइपरटेंशन ( Hypertension) के नाम से भी जाना जाता है. दरअसल इसे साइलेंट किलर के रूप में भी जाना जाता है. आधिकतर मामलों में पीड़ित मरीज को बीमारी के शुरुआती चरणों का पता ही नहीं चलता जिससे यह क्रॉनिक रूप ले लेता है और अंंत में यह जानलेवा बन जाता है. इसके अज्ञात लक्षणों के कारण ही इसे साइलेंट किलर कहा जाता है.

    दुनियाभर में आयोजित किए जा रहे हैं कई कार्यक्रम

    विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, विश्व उच्च रक्तचाप दिवस पर विश्व स्वास्थ्य संगठन, पैन-अमेरिकन हेल्थ ऑर्गनाइजेशन और रिजॉल्व टू सेव लाइव्स, वाइटल स्ट्रैटेजीज मिलकर कार्यक्रम की मेजबानी कर रहे हैं जिसमें ब्‍लडप्रेशर और उसे मापने के सही तरीकों को लेकर वर्चुअल कोर्स भी लॉच किया जा रहा है. इस कार्यक्रम को दुनियाभर के लोग वेबसाइट पर ऑनलाइन देख सकते हैं और विशेषज्ञों से जानकारी हासिल कर सकते हैं.





    इसे भी पढ़ें : ब्रेन में मौजूद डोपामाइन से मिलती है ख़ुशी, जानें नैचुरल तरीके से इसे बढ़ाने का तरीका
     


    क्‍या है इस बार का थीम

    इस साल की थीम है "अपने रक्तचाप को सटीक रूप से मापें, इसे नियंत्रित करें, लंबे समय तक जीवित रहें". यह थीम लोगों में सोशल नेटवर्क के जरिए जागरुकता फैलाने के लिए किया गया है. इस बार  जागरुकता अभियान में लोगों को बताने की कोशिश की जा रही है कि किस प्रकार अपने ब्‍लडप्रेशर को सही तरीके से नापें और उसे नियंत्रित रखें. अगर आप अपने रक्‍तचाप को नियंत्रित रखते हैं तो आप लंबी आयु तक जीवित रह सकते हैं.

    क्‍या है हाइपरटेंशन या हाई ब्‍लडप्रेशर

    विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, हाइपरटेंशन यानी उच्च रक्तचाप एक ऐसी स्थिति है जिसमें रक्त वाहिकाओं में लगातार दबाव बना रहता है. वाहिकाएं रक्त को हृदय से शरीर के सभी भागों में ले जाने का काम करती हैं. जब भी हार्ट बीट होता है तो यह वेन्‍स यानी रक्‍त वाहिकाओं में ब्‍लड को पंप करता है. रक्तचाप ब्‍लड वेन्‍स यानी कि धमनियों की दीवारों द्वारा बनाया जाता है. दबाव जितना अधिक होगा, हार्ट के लिए पंप करना उतना ही कठिन होगा. ऐसे में हाई बीपी की समस्‍या क्राॅनिक रूप ले लेता है.

    जानें हाई ब्‍लड प्रेशर से जुड़े कुछ तथ्‍य

    -अधिकतर लोग ऐसे होते है जिन्‍हें पता भी नहीं होता कि की वे हाई ब्‍लडप्रेशर की समस्‍या से जूझ रहे हैं. भले ही उनका ब्‍लड प्रेशर खतरनाक रूप से बढ़ा हुआ होता है.

    -कुछ लोगों में सिर में दर्द, सांस में समस्‍या, नाक से खून आना जैसे लक्षण आते हैं लेकिन इसे देखकर यह अंदाज नहीं लगाया जा सकता कि दरअसल वह जानलेवा यानी लाइफ थ्रेटनिंग स्‍टेज पर है.





    इसे भी पढ़ें : World Hypertension Day 2021: बिना दवाइयों के ही कंट्रोल होगा हाई ब्लड प्रेशर, डेली करें ये एक्‍सरसाइज
     




    -यह बहुत जरूरी है कि लोग 18 साल की उम्र के बाद कम से कम हर दो साल में एक बार ब्‍लड प्रेशर चेक कराएं.अगर आप 40 या उससे अधिक उम्र के हैं तो आप और भी अधिक हाई रिस्‍क में हैं. ऐसे में हर साल खुद अपने डॉक्‍टर से कहकर ब्‍लडप्रेशर चेक कराएं.

    -आमतौर पर जिन लोगों को यह प्रॉब्‍लम होती है इसकी वजह उनकी उम्र, फैमिली हिस्‍ट्री, अधिक वजन हो जाना, उनका खराब लाइफस्‍टाइल, स्‍मोकिंग, खाने में अत्‍यधिक नमक का प्रयोग, अत्‍यधिक अल्‍कोहल का सेवन और अत्‍यधिक तनाव माना जाता है.
    Published by:Pranaty tiwary
    First published: