Home /News /lifestyle /

health news yoga session with savita yadav benefits of kapalbhati yoga and know how to do it pra

YOGA SESSION: कपालभाति से बनाएं पेट की मांसपेशियों को मजबूत, हार्ट को भी पहुंचाता है फायदा

योग प्रशिक्षिका सविता यादव.

योग प्रशिक्षिका सविता यादव.

कपालभाति एक शुद्धी क्रिया है, जिसके नियमित अभ्‍यास से पेट की मांसपेशियां सशक्‍त बनती हैं. इस योगाभ्‍यास से पाचन तंत्र बेहतर तरीके से काम करता है, जिससे भूख ना लगने की समस्‍या भी दूर हो जाती है. आज न्यूज़18 हिंदी के फेसबुक लाइव सेशन में योग प्रशिक्षिका सविता यादव (Savita Yadav) ने कपालभाति (kapalbhati) से जुड़ी कई जानकारियां दीं और इसका अभ्‍यास भी कराया.

अधिक पढ़ें ...

Yoga Session With Savita Yadav : कपालभाति के रोजाना अभ्‍यास से शरीर में ब्लड सकुर्लेशन अच्‍छा रहता है और इससे आपका हार्ट भी बेहतर तरीके से काम करता है. हालांकि, इसे करने से पहले कुछ जरूरी सावधानियों को जान लेना चाहिए. मसलन, अगर आप हार्ट के रोगी हैं, आपके फेफड़े कमजोर हैं या पेट में कोई पुरानी समस्‍या है, तो इसे ना करें, लेकिन अगर कपालभाति से आपको एसिडिटी की समस्‍या हो जा रही है, तो उससे घबराएं नहीं. जिन लोगों को हाइपर एसिडिटी की समस्‍या है, वो इसे ना करें. अगर आपको सामान्‍य गैस की समस्‍या हो रही है, तो नियमित अभ्‍यास से ये समस्‍या धीरे-धीरे ठीक हो सकती है. इन सारी जानकारियों को देते हुए आज न्यूज़18 हिंदी के फेसबुक लाइव सेशन में योग प्रशिक्षिका सविता यादव (Savita Yadav) ने कपालभाति (kapalbhati) और कई आसनों का अभ्‍यास कराया.

कपालभाति करने का तरीका
सबसे पहले मैट पर बैठ जाएं और ध्‍यान की मुद्रा बनाएं. आंखें बंद रखें और अपनी आती-जाती सांस पर ध्‍यान लगाएं. सांस को लयबद्ध तरीके से लें और बाहर निकालें. अब ओम शब्‍द का उच्‍चारण करें और प्रार्थना करें.

इसे भी पढ़ें : YOGA SESSION: संपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य के लिए रोज करें सूर्य नमस्‍कार, शरीर में बना रहेगा लचीलापन

 

अब गहरी सांस लें और फोर्स के साथ सांस को बाहर की तरफ निकालें. आपको इस बात पर ध्‍यान नहीं देना है कि आपका पेट अंदर की तरफ जा रहा है या नहीं. जब आप फोर्सफुली सांस को बाहर निकालने की अभ्‍यास करने लगेंगे, तो पेट अपने आप ही अंदर बाहर होने लगेगा. आप इस पूरे अभ्‍यास को यहां दिए गए विडियो लिंक पर विस्‍तार से देख सकते हैं.

अब आप इसी तरह पूरा एक मिनट का चक्र करेंगे. पहले स्‍वांस अंदर की तरफ भरें, फिर स्‍वांस छोड़ें और अब कपालभाति शुरू करें. आप इस बात का ध्‍यान रखें कि अपने क्षमता के अनुसार ही इसे करें.

अब पेट में पूरा सांस भरें और कुछ देर पेट में हवा को होल्‍ड करें और फिर रिलैक्‍स करते हुए सांस को बाहर निकाल लें. इससे पेट की मांसपेशियां मजबूत होती हैं और इसकी समस्‍याएं ठीक होती हैं, लेकिन तमाम बताए गए सावधानियों को ध्‍यान में रखते हुए ऐसा करें.

पैरों के लिए सरल अभ्‍यास

-अपने पैरों को मैट पर आगे की तरफ फैलाएं और स्‍ट्रेचिंग करें. अब पंजों को आगे और पीछे स्‍ट्रेच करें. पंजों को अच्‍छी तरह रोटेट करें. आप हाथ से पकड़कर भी रोटेट कर सकते हैं.

-अब मैट पर सीधे खड़े हो जाएं और कमर पर हाथ रखकर एक बार पंजा और एक बार एड़ी पर खड़े हों. ऐसा 20 बार करें.

-मैट पर खड़े होकर कदम ताल करें. आप ऐसा करते समय अच्‍छी तरह सांस को लयबद्ध तरीके से अंदर लें और बाहर की तरफ निकालें.

यह भी पढ़ें: Yoga Session: पेट की सभी बीमारियों को दूर करेगा कपालभाति योग

-अब मैट पर ही हाथ को आगे की तरफ पंजे को नीचे रखते हुए कदमताल करें. इस बात का ध्‍यान रखें कि घुटना हथेली से टच करें. ऐसा 20 चक्र करें. अब रिलैक्‍स करें और शरीर को ढीला छोड़कर ब्रीदिंग करें.

-अब एक पैर को ऊंचा उठाते हुए पीछे की तरफ ले जाएं. फिर पैर को उसी तरह आगे लाएं. ऐसा 20 बार करें. ऐसा करने से पैरों की मांसपेशियों मजबूत होंगे. ऐसा करने से आपका कार्डियो मजबूत होता है और फैट भी बर्न होता है. पूरा अभ्‍यास आप उपर दिए गए विडियो लिंक में देख सकते हैं.

Tags: Benefits of yoga, Health, Lifestyle, Yoga

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर