योग या जुम्बा? जानें वजन घटाने और लचीलेपन के लिए कौन है बेहतर

योग और जुम्बा वजन कम करने में है मददगार.
Image Credit: pexels-andrea-piacquadio

योग और जुम्बा वजन कम करने में है मददगार. Image Credit: pexels-andrea-piacquadio

Yoga Versus Zumba: वेट कम करने के लिए योग (Yoga) और जुम्बा (Zumba) दोनों की ही मदद लोग लेते हैं. ये दोनों ही मशहूर हैं, लेकिन अगर दोनों का अभ्यास कर लिया जाए तो फिर क्या बात है.

  • Share this:
योग (Yoga) और जुम्बा (Zumba) दोनों ही बहुत मशहूर हैं और दोनों ही हमारी सेहत के लिए बराबर ही फायदेमंद हैं. ये वजन कम करने, शरीर के पोस्चर को सही रखने और शरीर के कई तरह के फंक्शन को सही रखने में मददगार हैं.योग कई तरह के आसनों के अभ्यास से शरीर के अलग-अलग हिस्सों को उनके फंक्शन को बेहतर बनाने पर फोकस करता है तो ज़ुम्बा एक लैटिन डांस स्टाइल वर्कआउट है. ज़ुम्बा मुख्य रूप से वजन कम करने और कार्डियोवस्कुलर एक्टिविटीज पर फोकस करता है. लेकिन दूसरी ओर, योग हमारे शरीर के लचीलेपन (Flexibility) को बढ़ाता है. तो, यहां जानिए एक्सरसाइज या वर्कआउट के इन दो तरीकों और उनके अंतर के बारे में.

कैलोरी कैसे होती है बर्नः

ज़ुम्बा में, आप योग की तुलना में अधिक कैलोरी आसानी से बर्न या कम कर सकते हैं, सिर्फ एक घंटे की ज़ुम्बा क्लास लगभग 540 कैलोरी जला सकती है, इसलिए,जब वजन घटाने की बात आती है, तो जुम्बा हमेशा बहुत प्रभावी होता है, लेकिन योग के साथ कैलोरी बर्न करना मुख्य रूप से व्यक्ति की उम्र, साइज और लचीलेपन पर निर्भर करता है.

ये भी पढ़ें : जिम में कभी ना करें ये 3 गलतियां, हो सकता है भारी नुकसान  
लचीलापनः  

जुम्बा में आपके शरीर को टोन करने और इसे शेप में लाने के लिए कार्डियोवस्कुलर एक्टिविटीज के जरिए हार्ट रेट बढ़ाने पर फोकस किया जाता है तो, लचीलेपन के लिए, ज़ुम्बा अधिक प्रभावी नहीं होता है. योग आपके शरीर के लचीलेपन में सुधार लाने के लिए बहुत अच्छा है. अलग-अलग योगासन न केवल आपके शरीर के लचीलेपन को बढ़ाते हैं बल्कि आपको आराम भी देते हैं.

ये भी पढ़ें : बढ़ते पेट को घटाएगा कागासन, बने रहेंगे चुस्त और एक्टिव  



योग और जुम्बा में वक्तः

अगर वक्त के हिसाब से देखा जाए तो जुम्बा योग की तुलना में कम वक्त में अधिक कैलोरी बर्न करने के लिए जाना जाता है. यदि आप तेजी से अपनी शरीर को टोन कर शेप में आना चाहते हैं और अपने हार्ट की सेहत में सुधार करना चाहते हैं, तो ज़ुम्बा के लिए जाएं. जुम्बा इसके लिए बेहतर है. उधर दूसरी तरफ योग वेट कम करने में भले ही वक्त लें, इससे आपके शरीर के पोश्चर में सुधार आता है.अगर आपका लक्ष्य अपने पोश्चर को बेहतर बनाना, श्वास प्रक्रिया को सही रखने और उसमें सुधार के लिए ध्यान करना है, तो नियमित रूप से योग का अभ्यास करें.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज