होम /न्यूज /जीवन शैली /Hip Pain in Winter: हाई कोलेस्ट्रॉल की वजह से भी हिप में हो सकता है तेज दर्द, इस संकेत को न करें इग्नोर

Hip Pain in Winter: हाई कोलेस्ट्रॉल की वजह से भी हिप में हो सकता है तेज दर्द, इस संकेत को न करें इग्नोर

सर्दियों में होने वाला हर दर्द की वजह ठंड नहीं हो सकता.

सर्दियों में होने वाला हर दर्द की वजह ठंड नहीं हो सकता.

Pain Due High Cholesterol: अगर आपको जरा सा काम करने या फिर हल्की शारीरिक गतिविधि करने में भी कोल्हे में दर्द होता है त ...अधिक पढ़ें

Pain Due High Cholesterol: तेजी से बदलती जीवशैली और अनहेल्दी भोजन की वजह से हमारा शरीर को भारी नुकसान पहुंचा है. जहां बीपी और हाई कोलेस्ट्राल जैसी बीमारियां पहले कुछ लोगों में ही सुनने को मिलती थीं वहीं अब ये बीमारियां आम हो चली है. कम उम्र के लोग भी अब इससे ग्रसित हो रहे हैं. ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल के चलते पिछले कुछ समय में हार्ट की बीमारियों ने भी रफ्तार पकड़ ली है. अधिकांश लोग कोलेस्ट्रॉल बढ़ने को लेकर ज्यादा गंभीर नहीं होते लेकिन शायद आप नहीं जानते कि कोलेस्ट्रॉल हाई होने से स्ट्रोक और हार्ट अटैक तक का जोखिम कई गुना अधिक हो जाता है.

कोलेस्ट्रॉल हमारे ब्लड में पाया जाने वाला एक प्रकार का फैट होता है इसके बढ़ने से रक्त का प्रवाह भी बाधित हो जाता है. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार कोलेस्ट्रॉल दो प्रकार का होता है एक एलडीएल और एचडीएल. एलडीएल को कोलेस्ट्रॉल को बैड कोलेस्ट्रॉल कहते हैं जबकि एचडीएल कोलेस्ट्रॉल को गुड कोलेस्ट्रॉल कहते हैं.

शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण काफी साइलेंट होते हैं इसलिए इसे साइलेंट किलर के नाम से भी जाना जाता है. कोलेस्ट्रॉल की वजह से तो कई बीमारियां हो सकती हैं लेकिन यदि आपको चलने, बैठने या फिर हिप में किसी तरह का दर्द महससू हो रहा है तो इसकी वजह भी हाई कोलेस्ट्रॉल हो सकता है.

हिप मसल्स पर असर डालता है हाई कोलेस्ट्रॉल
हाई कोलेस्ट्रॉर ब्लड में वसा का रूप होता है जब यह और अधिक गाढ़ा होने लगता है तो इससे ब्लड का फ्लो धीमा हो जाता है. हमारे शरीर को ऑक्सीजन ब्लड के साथ ही मिलती है ऐसे में ब्लड का सर्कुलेशन प्रभावित होने पर शरीर के अंगों में ऑक्सीजन की मात्रा भी कम होने लगती है. जिन हिस्सों में ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाती वहां दर्द महसूस होने लगता है. कई बार फिजकल एक्टीविटी के दौरान भी शरीर के उन अंगों में ज्यादा दर्द महसूस होता है जो एक्टीविटी में ज्यादा शामिल होते हैं. इसका कारण भी यही ही कि उन अंगों में ऑक्सीजन की पर्याप्त मात्रा नहीं पहुंच पा रही.

क्या वजन कम करने के लिए गर्म पानी के साथ लेमन-कॉफी मैजिक ड्रिंक है? एक्सपर्ट से जानें इसकी सच्चाई

कूल्हे में भी दर्द की एक बड़ी वजह यही होती है कि उस हिस्से में मौजूद मांसपेशियों में ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाती है. एक्सपर्ट की मानें तो कोलेस्ट्रॉल की वजह से सबसे ज्यादा जो मांसपेशी प्रभावित होती है वह है कूल्हे की मांसपेशी. उच्च कोलेस्ट्रॉल वाले कई लोगों का कहना है कि उन्हें पहले कूल्हे के क्षेत्र में भयानक दर्द महसूस हुआ था.

इसे ना मानें सर्द मौसम का सामान्य दर्द
कई लोग कूल्हे में दर्द को ठंड हवाओं की वजह मानकर इसे इग्नोर कर देते हैं. कूल्हे की संरचरना शरीर के दूसरे हिस्सों से काफी अलग होती है और इस क्षेत्र में होने वाले दर्द को अक्सर गठिया जैसी समस्याओं के साथ जोड़कर देखा जाता है.

अगर आपको जरा सा काम करने या फिर हल्की शारीरिक गतिविधि करने में भी कोल्हे में दर्द होता है तो यह हाई कोलेस्ट्रॉल का एक बडा संकेत है. अगर आप इसे इग्नोर करते हैं तो यह भविष्य में आपके लिए एक बड़ी समस्या बन सकता है. यह दर्द समय के साथ और बढ़ेगा जो आपको गंभीर स्थिति में पहुंचा सकता है.

Tags: Health, Lifestyle

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें