होम /न्यूज /जीवन शैली /सोते समय अक्सर करते हैं लोग गलतियां, जानें क्या है सोने का सही तरीका

सोते समय अक्सर करते हैं लोग गलतियां, जानें क्या है सोने का सही तरीका

अच्‍छी नींद के लिए करें स्‍लीपिंग पोजीशन में बदलाव-(Image Canva)

अच्‍छी नींद के लिए करें स्‍लीपिंग पोजीशन में बदलाव-(Image Canva)

Right Way To Sleep - अच्‍छी नींद व्‍यक्ति के मूड और दिन दोनों को बेहतर बनाने का काम करती है. नींद व सोने का सबका अलग तर ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

नींद न आने पर पोजीशन में बदलाव किया जा सकता है.
कमर दर्द से छुटकारा पाने के लिए पैरों के बीच में तकिया रखें.
पीठ के बल सोने से कमर दर्द में आराम मिलता है.

Right Way To Sleep – नींद एक ऐसी प्रक्रिया है जो शरीर और दिन दोनों को बेहतर बनाने का काम करती है. शरीर को हेल्‍दी और एनर्जेटिक बनाने के लिए 6 से 8 घंटे की नींद बेहद जरूरी है. अच्‍छी नींद व्‍यक्ति के मूड और दिन दोनों को बेहतर बनाने का काम करती है. नींद व सोने का सबका अलग तरीका होता है. किसी को सीधे सोने की आदत होती है तो कोई पैरों के बीच में तकिया लगाकर सोना पसंद करता है. लेकिन सोते समय अक्‍सर लोग ऐसी गलतियां कर बैठते हैं जिस वजह से शरीर में दर्द या नींद में कमी आने लगती है. नींद को बेहतर बनाने के लिए अलग-अलग स्‍लीपिंग पोजीशन को ट्राई किया जा सकता है. हर स्‍लीपिंग पोजीशन के अलग फायदे होते हैं. चलिए जानते हैं सोने के सही तरीके के बारे में.

फेटल पोजीशन
फेटल पोजीशन में सोना सबसे आम और आरामदायक स्थिति होती है. हेल्‍थलाइन के अनुसार फेटल पोजीशन यानि भ्रूण जैसी पोजीशन. इस स्थिति में शरीर और पैर एक ओर मुड़े हुए होते हैं जिससे पैरों और कमर को आराम मिलता है. फेटल पोजीशन में सोने से खर्राटों को कम करने में भी मदद मिल सकती है. ज्‍यादातर लोग इस स्‍थिति में सोना पसंद करते हैं खासकर बच्‍चे. क्‍वालिटी स्‍लीप के लिए इस पोजीशन में सोना बेहतर माना जाता है.

एक ओर करवट लेकर सोना
एक ओर करवट लेकर सोना भी फेटल पोजीशन जैसा ही है लेकिन इसमें पैरों को मोड़ने की बजाय सीधे रखा जाता है. ये स्थिति सोने के लिए बेस्‍ट मानी जाती है. इस पोजीशन में सोने से खर्राटों को कम किया जा सकता है और पाचन क्रिया में भी सुधार होता है. ये पोजीशन गुस्‍से को कम करने में भी मदद करती है. इस पोजीशन में यदि पैरों के बीच में तकिया रखा जाए तो हिप्‍स में होने वाले खिचांव को कम किया जा सकता है.

पीठ के बल सोना
पीठ के बल सोने से सबसे ज्‍यादा हेल्‍थ बेनिफिट होता है. पीठ के बल सोने से रीढ़ की हड्डी को मजबूती मिलती है. ये पोजीशन हिप्‍स और घुटने के दर्द को दूर करने में भी मदद कर सकती है. जब रीढ़ की हड्डी में दर्द हो तब सीधे सोने से आराम मिलता है साथ ही हड्डी पर दबाव पड़ता है जिससे दर्द को कम किया जा सकता है. अच्‍छी नींद के लिए घुटनों के पीछे तकिया लगाने से आराम मिल सकता है.

इसे भी पढ़ें: आयुर्वेद के अनुसार जानें, अच्छी नींद लने के लिए किस दिशा में सोना है फायदेमंद

यह भी पढ़ेंः चुटकी भर ज्यादा नमक बन सकता है मौत की वजह ! सिर्फ इतना करें यूज

पेट के बल सोना
पेट के बल सोना हर किसी को पसंद नहीं आता. हालांकि पेट के बल सोना खर्राटों या स्‍लीप एपनिया के लिए अच्‍छा माना जाता है. तनाव और थकान को दूर करने में ये पोजीशन मदद करती है. पेट के निचले हिस्‍से के नीचे तकिया रखकर सोने से पीठ दर्द को कम किया जा सकता है. इस पोजीशन में सोने से कई बार गर्दन और पीठ में दर्द हो सकता है.

Tags: Better sleep, Health, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें