होम /न्यूज /जीवन शैली /क्‍या वजन घटाने के लिए पॉपकॉर्न का सेवन है सुरक्षित? जानें यहां

क्‍या वजन घटाने के लिए पॉपकॉर्न का सेवन है सुरक्षित? जानें यहां

पॉपकॉर्न है वजन घटाने का सबसे सुरक्षित स्नैक्स, Image-Canva

पॉपकॉर्न है वजन घटाने का सबसे सुरक्षित स्नैक्स, Image-Canva

Popcorn for weight loss - पॉपकॉर्न को कुछ लोग एक हेल्दी स्नैक्स नहीं मानते हैं. दरअसल पॉपकॉर्न से हमारे शरीर को कई बड़े ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

तेजी से वजन घटाने में कारगर हो सकते हैं पॉपकॉर्न.
मोटापा, डायबिटीज, हार्ट डिसीज का खतरा भी हो सकता है कम.
पॉपकॉर्न में फाइबर और पॉलीफेनल्स एंटीऑक्सीडेंट्स का है खजाना.

Popcorn for weight loss: पॉपकॉर्न को पूरी दुनिया में एक लाजवाब टाइम पास स्नैक्स कहा जाता है. पॉपकॉर्न न सिर्फ स्वाद में बेहतरीन होते हैं, बल्कि वजन घटाने के लिए भी ये एक सुरक्षित स्नैक्स हैं. कुछ लोगों को ये गलतफहमी होती है कि पॉपकॉर्न खाने से वजन और पेट की चर्बी बढ़ती है. जबकि पॉपकॉर्न वजन घटाने का एक हेल्दी और सुरक्षित स्नैक्स है.  पॉपकॉर्न एक हाई फाइबर स्नैक्स होता है. एयर पॉप्ड पॉपकॉर्न में किसी भी पॉपुलर स्नैक्स के मुकाबले बहुत कम कैलोरी पाई जाती है. एक कप पॉपकॉर्न में करीब 31 कैलोरी होती है. फाइबर की भरपूर मात्रा और कम कैलोरी के कारण ही इसमें वजन घटाने की क्षमता होती है.आइए जानते हैं कि पॉपकॉर्न खाने से कैसे वजन कम होता है और इससे शरीर को कितने फायदे मिल सकते हैं.

कैसे वजन घटाता है पॉपकॉर्न?
फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स का खजाना
हेल्थलाइन की रिपोर्ट के अनुसार,पॉपकॉर्न में फाइबर और पॉलीफेनल्स एंटीऑक्सीडेंट्स का खजाना होता है. 100 ग्राम पॉपकॉर्न में करीब 15 ग्राम फाइबर पाया जाता है. फाइबर न केवल मोटापा कम करता है, बल्कि डायबिटीज और दिल की बीमारियों से भी बचाव करने में सक्षम माना गया है.
-इसके अलावा, इसमें पाए जाने वाले पॉलीफेनल्स एंटीऑक्सीडेंट्स फ्री रेडिकल्स से हमारी कोशिकाओं को डैमेज होने से बचाते हैं. एक स्टडी में इस बात की पुष्टि भी हो चुकी है कि पॉपकॉर्न में काफी ज्यादा मात्रा में पॉलीफेनल्स एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं.

माइक्रवेव में बने पॉपकॉर्न हानिकारक
हेल्थलाइन के अनुसार पॉपकॉर्न का लुत्फ उठाने के वैसे तो कई तरीके होते हैं, लेकिन सबसे आसान और लोकप्रिय प्री-पैकेज्ड (PFOA) माइक्रोवेव वैरायटी है. ज्यादातर माइक्रोवेव बैग में परफ्लूक्टेनोइक एसिड होता है, जो हमारी से सेहत के लिए बहुत खतरनाक माना जाता है. इसमें आर्टिफिशियल बटर फ्लेवर का भी प्रयोग किया जाता है, जिसमें डायसेटाइल नाम का कैमिकल कम्पाउंड भी शामिल होता है. इससे भी हमारे शरीर को नुकसान हो सकता है.

ये भी पढ़ें: स्वाद का सफ़रनामा: दिल और हड्डियों के लिए फायदेमंद अखरोट का है हजारों वर्ष पुराना इतिहास, पढ़ें रोचक बातें

ये भी पढ़ें: Roasted Dry Fruits Recipe: विंटर सीजन में बॉडी गर्म रखने के साथ आपको एनर्जी से भर देंगे रोस्टेड ड्राई फ्रूट्स

Tags: Health, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें